फोटो गैलरी

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News गुजरातवोट नहीं देने वालों की कुत्तों से तुलना, गुजरात में BJP नेता के पोस्ट पर घमासान; बिफरी कांग्रेस

वोट नहीं देने वालों की कुत्तों से तुलना, गुजरात में BJP नेता के पोस्ट पर घमासान; बिफरी कांग्रेस

गुजरात भाजपा के संगठन सचिव भाजपा नेता रत्नाकर ने एक्स पर अपने एक पोस्ट में कथित तौर पर उन लोगों की तुलना कुत्तों से की जिन्होंने भाजपा को वोट नहीं दिया। विवाद बढ़ने पर उन्होंने पोस्ट डिलिट कर दिया।

वोट नहीं देने वालों की कुत्तों से तुलना, गुजरात में BJP नेता के पोस्ट पर घमासान; बिफरी कांग्रेस
Subodh Mishraलाइव हिन्दुस्तान,अहमदाबादSat, 08 Jun 2024 10:46 AM
ऐप पर पढ़ें

गुजरात भाजपा के संगठन सचिव रत्नाकर के सोशल मीडिया प्लेटफार्म एक्स किए गए एक पोस्ट को लेकर विवाद छिड़ गया है। विवाद के बीच गुजरात कांग्रेस के प्रवक्ता मनीष दोशी ने शुक्रवार को उनसे माफी मांगने को कहा है।

दरअसल, भाजपा नेता रत्नाकर ने  एक्स पर अपने एक पोस्ट में कथित तौर पर उन लोगों की तुलना कुत्तों से की जिन्होंने भाजपा को वोट नहीं दिया। हालांकि इस पोस्ट को लेकर विवाद बढ़ने के बाद रत्नाकर ने इसे डिलिट कर दिया है। 

गुजरात कांग्रेस के प्रवक्ता मनीष दोशी ने कहा कि लोकसभा चुनाव में बीजेपी को वोट नहीं देने वाले लोगों की कुत्तों से तुलना कर रत्नाकर ने छह करोड़ गुजरातियों का अपमान किया है। एक आधिकारिक बयान में दोषी ने रत्नाकर की पोस्ट का एक कथित स्क्रीनशॉट संलग्न करते हुए कहा कि एक ट्वीट में मतदाताओं की तुलना कुत्तों से करना छह करोड़ गुजरातियों का अपमान है।

कथित पोस्ट में एक कुत्ते को नई-नई बनी एक सड़क पर चलकर उसे बर्बाद करते हुए दिखाया गया है। इसमें लिखा गया है कि चाहे आपके प्रयास कितने भी नेक इरादे वाले क्यों न हों, कुछ लोगों को इसकी कोई चिंता ही नहीं है। इस तस्वीर से यह सीखने को मिलता है कि 'कुत्तों' का 'विकास' से कोई लेना-देना नहीं है। 

वहीं, अपने बयान में गुजरात कांग्रेस के प्रवक्ता दोशी ने कहा कि जब लोग महंगाई और बेरोजगारी से दुखी होकर बीजेपी के खिलाफ वोट करते हैं, तो (आप) उनकी तुलना कुत्तों से करते हैं? ऐसी ओछी मानसिकता भाजपा के आचरण और चरित्र को उजागर करती है। भाजपा नेताओं की नीति रही है कि पहले जनता का अपमान करो और जब इसके खिलाफ आवाज उठे तो ट्वीट डिलीट कर दो।

गुजरात कांग्रेस के प्रवक्ता ने कहा कि मतदाताओं का अपमान करने के लिए भाजपा के संगठन सचिव को माफी मांगनी चाहिए। हालांकि कांग्रेस नेता दोशी के इस हमले पर अभी बीजेपी नेता रत्नाकर की ओर से कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है।