फोटो गैलरी

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ गुजरातवह बेचारा आदमी...; भगवंत मान को विमान से उतारे जाने के दावों पर AAP चीफ का जवाब

वह बेचारा आदमी...; भगवंत मान को विमान से उतारे जाने के दावों पर AAP चीफ का जवाब

पंजाब के सीएम भगवंत मान के 'नशे' में होने की वजह से जर्मनी में विमान से उतार दिए जाने के दावों पर आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल ने भी रिएक्शन दिया है। उन्होंने आरोपों को झूठा करार दिया।

वह बेचारा आदमी...; भगवंत मान को विमान से उतारे जाने के दावों पर AAP चीफ का जवाब
Sudhir Jhaलाइव हिन्दुस्तान,वडोदराTue, 20 Sep 2022 03:55 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

पंजाब के सीएम भगवंत मान के 'नशे' में होने की वजह से जर्मनी में विमान से उतार दिए जाने के दावों पर आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल ने भी रिएक्शन दिया है। गुजरात में दिल्ली के सीएम ने मान पर लगे आरोपों को बकवास करार दिया और कहा कि मान ने पिछले छह महीने में इतना काम किया है, जितना 75 साल में नहीं हुआ था। केजरीवाल ने कहा कि इसी वजह से मान के खिलाफ गलत प्रचार किया जा रहा है।

केजरीवाल ने मंगलवार को वडोदरा में सरकारी कमर्चारियों से वादा किया कि राज्य में उनकी सरकार बनी तो पुरानी पेंशन स्कीम को लागू किया जाएगा। इस दौरान जब उनसे भगवंत मान को लेकर आईं खबरों को लेकर सवाल किया गया तो आप संयोजक ने कहा, ''पिछले छह महीने में मान साहब ने जो काम किए हैं छह महीने में 75 साल में किसी सरकार में नहीं हुआ। 75 साल मे पहली बार पंजाब को मेहनती और कट्टर ईमानदार सीएम मिला है। छह महीने में 100 मोहल्ला क्लीनिक बना दिए, पंजाब के लोगों की बिजली मुफ्त कर दी, 17 हजार नई नौकरियां निकाल दीं, 8 हजार टीचर पक्के कर दिए।  

जब लगने लगे मोदी-मोदी के नारे, अरविंद केजरीवाल का ऐसा था रिएक्शन

केजरीवाल ने आगे कहा, ''इनके जो विरोधी हैं, उनको काम में कुछ कमी दिखाई नहीं देती तो कीचड़ फेंकते हैं, सब झूठ है, बकवास है। वह बेचारा आदमी लगा हुआ है पंजाब के विकास के लिए, उसको रोकना चाहते हैं। जनता देख रही है। जनता उनके काम से बहुत खुश है। मैं विरोधियों से पूछना चाहता हूं कि यदि भगवंत मान ने छह महीने में बिजली मुफ्त कर सकते थे तो इन दूसरी सरकारों ने 75 सालों में बिजली मुफ्त क्यों नहीं की। ये सारा पैसा लेकर कहां चले गए। पंजाब का पैसा किसने खाया?''

शिरोमणि अकाली दल (शिअद) के प्रमुख सुखबीर सिंह बादल ने सोमवार को कुछ रिपोर्ट्स के आधार पर आरोप लगाया था कि मान को फ्रैंकफर्ट हवाई अड्डे पर लुफ्थांसा के विमान से इसलिए उतारा गया क्योंकि वह 'नशे में' थे। आम आदमी पार्टी (आप) ने विपक्ष के आरोपों को निराधार करार देते हुए खारिज कर दिया है। इस बीच केंद्रीय नागर विमानन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने मंगलवार को कहा कि वह इन आरोपों पर गौर करेंगे कि 'नशे में होने के कारण' पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान को विमान से उतार दिया गया था। मंत्री ने जोर दिया कि तथ्यों को सत्यापित करना महत्वपूर्ण है। कांग्रेस नेता प्रताप सिंह बाजवा ने इस मामले में जांच की मांग करते हुए सिंधिया को पत्र लिखा है।