फोटो गैलरी

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News गुजरातविरोध के बावजूद होगी शिक्षकों की भर्ती, गुजरात सरकार का फैसला; इतने पदों पर नियुक्ति

विरोध के बावजूद होगी शिक्षकों की भर्ती, गुजरात सरकार का फैसला; इतने पदों पर नियुक्ति

गुजरात में विरोध के बावजूद सरकार ने शिक्षकों की भर्ती का फैसला लिया है। गुजरात सरकार टीएटी करने वाले उम्मीदवारों को राज्य संचालित और अनुदान प्राप्त स्कूलों में स्थायी पदों पर भर्ती करेगी।

विरोध के बावजूद होगी शिक्षकों की भर्ती, गुजरात सरकार का फैसला; इतने पदों पर नियुक्ति
Subodh Mishraलाइव हिन्दुस्तान,गांधीनगरFri, 21 Jun 2024 07:04 PM
ऐप पर पढ़ें

गुजरात में विरोध के बावजूद सरकार ने शिक्षकों की भर्ती का फैसला लिया है। गुजरात सरकार शिक्षक योग्यता परीक्षा (टीएटी) पास करने वाले 7500 शिक्षकों को माध्यमिक और उच्चतर माध्यमिक राज्य संचालित और अनुदान प्राप्त स्कूलों में स्थायी पदों पर भर्ती करेगी। 

सरकार के प्रवक्ता और मंत्री रुशिकेश पटेल ने सरकार के निर्णय की जानकारी देते हुए कहा कि अगले तीन महीनों के भीतर इन रिक्तियों को भरा जाएगा। भर्ती अभियान में उन उम्मीदवारों को शामिल किया जाएगा जिन्होंने माध्यमिक और उच्चतर माध्यमिक विद्यालयों में शिक्षक बनने के लिए टीएटी कर रखा है। 

मुख्यमंत्री भूपेन्द्र पटेल की अध्यक्षता में राज्य मंत्रिमंडल की बैठक में यह भी निर्णय लिया कि सरकार जल्द ही प्राथमिक विद्यालय के शिक्षकों के लिए शिक्षक पात्रता परीक्षा (टीईटी) आयोजित करेगी। टीएटी और टीईटी-योग्य उम्मीदवारों के लिए स्थायी नौकरियों की मांग को लेकर गांधीनगर में चल रहे विरोध प्रदर्शनों के बीच मुख्यमंत्री ने इन निर्णयों को अंतिम रूप दिया।

ऋषिकेश पटेल ने कहा कि अगले तीन महीनों में माध्यमिक और उच्चतर माध्यमिक सरकारी और अनुदान प्राप्त स्कूलों में 7500 शिक्षकों की स्थायी भर्ती की जाएगी। उन्होंने इस बात पर जोर दिया कि भर्ती प्रक्रिया में अनुदान प्राप्त स्कूलों में पदों के लिए योग्यता को प्राथमिकता दी जाएगी, जिसमें माध्यमिक स्कूलों के लिए 3500 टीएटी-योग्य उम्मीदवार और उच्चतर माध्यमिक स्कूलों के लिए 4000 उम्मीदवार होंगे। इसमें सरकारी और अनुदान प्राप्त संस्थानों दोनों में प्लेसमेंट शामिल हैं।

इसके अलावा ऋषिकेश पटेल ने अनुदान प्राप्त स्कूलों के लिए हेडमास्टर एप्टीट्यूड टेस्ट (एचएटी) के माध्यम से हाल ही में 1500 प्रिंसिपलों की नियुक्तियों का भी उल्लेख किया। पटेल ने कहा कि पिछले एक दशक में गुजरात ने कुल 18382 शिक्षकों को स्थायी रूप से नियुक्त किया है, जो इसके शैक्षिक बुनियादी ढांचे को मजबूत करने के निरंतर प्रयासों को दर्शाता है।