फोटो गैलरी

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News गुजरातगुजरात के 265 में से 215 कैंडिडेट्स की जमानत जब्त, एक पार्टी के सभी प्रत्याशियों की जमानत जब्त

गुजरात के 265 में से 215 कैंडिडेट्स की जमानत जब्त, एक पार्टी के सभी प्रत्याशियों की जमानत जब्त

बसपा ने 24 सीट पर अपने उम्मीदवार उतारे थे और उसके सभी प्रत्याशियों की जमानत जब्त हो गई। कई सीट पर तीसरा स्थान हासिल करने के बावजूद बसपा का कोई भी उम्मीदवार 20 हजार से ज्यादा वोट हासिल नहीं कर सका।

गुजरात के 265 में से 215 कैंडिडेट्स की जमानत जब्त, एक पार्टी के सभी प्रत्याशियों की जमानत जब्त
265 215
Sourabh Jainभाषा,अहमदाबादThu, 06 Jun 2024 12:05 AM
ऐप पर पढ़ें

गुजरात की 26 में से 25 सीट पर लोकसभा चुनाव लड़ने वाले 265 में से 215 उम्मीदवार अपनी जमानत तक नहीं बचा पाए। इनमें मायावती की बहुजन समाज पार्टी (बसपा) के टिकट पर चुनाव लड़ने वाले सभी 24 प्रत्याशी भी शामिल हैं।

गुजरात के संयुक्त निर्वाचन अधिकारी अशोक पटेल ने कहा कि निर्वाचन आयोग के नियमों के मुताबिक, उम्मीदवारों को अपनी जमानत राशि वापस पाने के लिए निर्वाचन क्षेत्र में डाले गए कुल मतों का कम से कम छठा हिस्सा प्राप्त करना होता है। जमानत राशि सामान्य वर्ग के उम्मीदवारों के लिए 25 हजार रुपए जबकि अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति के प्रत्याशियों के लिए 12,500 रुपए है।

उन्होंने कहा, 'यदि कोई उम्मीदवार एक निर्वाचन क्षेत्र में डाले गए कुल वैध मतों का छठा हिस्सा या 16.67 प्रतिशत मत हासिल करने में विफल रहता है, तो नामांकन दाखिल करने के समय निर्वाचन आयोग को जमा की गई ज़मानत जमा राशि जब्त कर ली जाती है।'

भाजपा ने सूरत सीट निर्विरोध जीत ली थी। इसके बाद 25 शेष सीट पर चुनाव हुआ था जहां 265 उम्मीदवार खड़े थे। राज्य में सात मई को मतदान हुआ था और चार जून को नतीजे घोषित किए गए। आयोग द्वारा साझा किए गए आंकड़े बताते हैं कि 25 निर्वाचन क्षेत्रों में से प्रत्येक में औसतन 9 से 13 लाख वोट पड़े। इसके तहत कम से कम 1.5 लाख वोट हासिल करने में विफल रहने पर उम्मीदवार की जमानत राशि जब्त कर ली गई।

आंकड़ों से पता चलता है कि 50 उम्मीदवारों को छोड़कर शेष 215 उम्मीदवारों की जमानत जब्त हो गई क्योंकि सभी निर्वाचन क्षेत्रों में उनके वोट की संख्या 20,000 से कम थी। इन 50 में विजेता और उनके निकटतम प्रत्याशी शामिल हैं। आंकड़ों के मुताबिक, जमानत जब्त कराने वाले 215 उम्मीदवारों में से 118 निर्दलीय हैं।

बहुजन समाज पार्टी (बसपा) ने 24 सीट पर अपने उम्मीदवार उतारे थे और उसके सभी प्रत्याशियों की जमानत जब्त हो गई। कई सीट पर तीसरा स्थान हासिल करने के बावजूद बसपा का कोई भी उम्मीदवार 20 हजार से ज्यादा वोट हासिल नहीं कर सका।