Hindi Newsगैजेट्स न्यूज़Uber banned womans account due to her offensive Hindu name now apologises

हिंदू नाम की वजह से Uber ने बैन किया महिला का अकाउंट, पांच महीने बाद मांगी माफी

Uber ने ऑस्ट्रेलिया में रहने वाली एक महिला का अकाउंट उसके हिंदू प्रतीक से जुड़े नाम को आपत्तिजनक मानते हुए बैन कर दिया था। अब कंपनी ने इस मामले पर माफी मांगी है और महिला का अकाउंट दोबारा ऐक्टिव कर दिया है।

Pranesh Tiwari लाइव हिन्दुस्तान Sun, 21 April 2024 09:42 AM
हमें फॉलो करें

किसी भी इंसान की पहचान उसका नाम होता है और अगर कोई कंपनी आपके नाम को आपत्तिजनक मानते हुए आपको सेवाएं देने से इनकार कर दे तो कैसा लगेगा। ठीक ऐसा ही ऑस्ट्रेलिया में रहने वाली महिला स्वास्तिका चंद्रा के साथ हुआ, जिनका अकाउंट Uber ने उनके नाम की वजह से बैन कर दिया। हालांकि, करीब पांच महीने बाद Uber ने उनसे माफी मांगते हुए अकाउंट ऐक्टिव कर दिया है।

स्वास्तिका ने पिछले साल Uber Eats ऐप की मदद से ऑनलाइन खाना मंगवाने की कोशिश की, जब उनका नाम पूछा गया। नाम एंटर करते ही उन्हें स्क्रीन पर एक पॉप-अप नोटिफिकेशन दिखाया गया और कहा गया कि उन्होंने Uber की पॉलिसी का उल्लंघन किया है और यह नाम आपत्तिजनक है। महिला ने A Current Affair (ACA) से इस पूरी घटना के बारे में बताया।

AI से एडिट करें अपने फोटो, Adobe ने लॉन्च किया कमाल का FREE ऐप; करें डाउनलोड

Uber को इसलिए आपत्तिजनक लगा नाम

दरअसल Uber ऐसा कोई भी नाम लिखने की अनुमति नहीं देता जो किसी के लिए आपत्तिजनक हो और इस तरह के शब्दों को फ्लैग करता है। हालांकि, स्वास्तिका का नाम संस्कृत भाषा से जुड़ा है, जो समृद्धि और सौभाग्य के प्रतीक स्वास्तिक को दर्शाता है। Uber ने इस शब्द को एडोल्फ हिटलर और नाजी के प्रतीक से जोड़ते हुए आपत्तिजनक बता दिया और गलत माना।

स्वास्तिका ने Uber पर जताई नाराजगी

महिला ने साफ किया कि हिंदू धर्म के अलावा एशिया में जैन और बौद्ध धर्मों में भी स्वास्तिक का ऐतिहासिक महत्व है। उन्होंने ACA से कहा, "Uber को नहीं पता कि हिंदू इस प्रतीक का इस्तेमाल हिटलर की ओर से इसके गलत इस्तेमाल के हजारों साल पहले से करते आ रहे हैं।" उन्हें यह नाम फिजी में मिला था, जहां वे पली-बढ़ीं और जहां बड़ी भारतीय आबादी रहती है।

स्वास्तिका ने कहा, "मुझे अपने नाम पर गर्व है। मुझे इसके साथ मिलने वाली सकारात्मकता पर विश्वास है और मैं इसे किसी के लिए भी नहीं बदलने वाली।"

गर्मी के मौसम में खराब हो सकता है आपका फोन, भूलकर भी ना करें ये गलतियां

Uber ने गलती मानते हुए मांगी माफी

पूरे मामले के करीब पांच महीने बाद Uber ने चंद्रा का अकाउंट ऐक्टिव कर दिया है और उनसे माफी मांगी है। ऐसा हिंदू काउंसिल ऑफ ऑस्ट्रेलिया और न्यू साउथ वेल्स अटॉर्नी जनरल के हस्तक्षेप के बाद संभव हो सका। Uber ने कहा, "हम मिस चंद्रा से उन्हें हुई परेशानी के लिए माफी मांगते हैं और इस मामले को रिव्यू करने के दौरान उनके धैर्य की सराहना करते हैं, जिसमें हमारी उम्मीद से ज्यादा वक्त लग गया।"

ऐप पर पढ़ें