फोटो गैलरी

Hindi News गैजेट्सWhatsApp और Telegram कहीं लीक न कर दें IP एड्रेस, ऐसे छुपाएं और रहें सेफ

WhatsApp और Telegram कहीं लीक न कर दें IP एड्रेस, ऐसे छुपाएं और रहें सेफ

WhatsApp और Telegram जैसे मैसेजिंग ऐप यूज करते समय आपको थोड़ा सतर्क रहना चाहिए। ये ऐप्स आपके IP एड्रेस को उजागर कर सकते हैं। यहां हम IP एड्रेस छिपाने का तरीका बता रहे हैं ताकि आप सेफ रह सकें।

WhatsApp और Telegram कहीं लीक न कर दें IP एड्रेस, ऐसे छुपाएं और रहें सेफ
Arpit Soniलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीSun, 05 Nov 2023 03:59 PM
ऐप पर पढ़ें

अरबों लोग डेली मैसेज भेजना और प्राप्त करने के लिए वॉट्सऐप और टेलीग्राम जैसे ऐप्स का इस्तेमाल करते हैं। वैस तो यह ऐप्स हमारे जीवन का हिस्सा बन गए हैं लेकिन आपको जानकर हैरानी होगी कि यह ऐप्स हमें मुसीबत में भी डाल सकते हैं। ये ऐप्स हमारी लोकेशन को दूसरों के सामने उजागर कर सकते हैं वो भी हमारी जानकारी के बिना। कंपनियां इन ऐप्स का प्राइवेट और सुरक्षित होने का दावा करती हैं लेकिन हो सकता है कि कोई व्यक्ति आपके आईपी एड्रेस (IP address) को ट्रैक कर रहा हो।

सुनने में भले ही अजीब लगे लेकिन यह सच है। यदि आपके पास यह फीचर ऑन है तो अधिकांश चैट और कॉल ऐप जैसे वॉट्सऐप, टेलीग्राम, मैसेंजर, सिग्नल, फेसटाइम, स्नैपचैट और अन्य आपका आईपी एड्रेस लीक कर सकते हैं।

ये सभी ऐप्स कॉल के लिए पीयर-टू-पीयर कनेक्शन का उपयोग करते हैं। पीयर-टू-पीयर या P2P कनेक्शन प्राइवेट हैं, जिसका मतलब है कि आप सीधे दूसरे व्यक्ति से बात कर रहे हैं। इसमें सीधा कनेक्शन है और कोई सर्वर शामिल नहीं है, जो क्लियर कॉल की पेशकश करता है और ऐप के मालिक कंपनी की ओर से कोई हस्तक्षेप नहीं होता है।

सुनने में यह बहुत अच्छा लगता है, हालांकि, ऐसी कॉलों में संभावित जोखिम शामिल होता है। चूंकि पी2पी कॉल कनेक्शन सीधे आपके और प्रतिभागी के बीच स्थापित होता है, यह आईपी एड्रेस को उजागर रखता है।

जैसा कि कहा गया है, दूसरे छोर पर मौजूद व्यक्ति या आप कुछ बदलाव करके एक-दूसरे का आईपी एड्रेस देख सकते हैं। यह थर्ड-पार्टी ऐप्स का उपयोग करके किया जा सकता है या यदि आपका डिवाइस रूट किया गया है, तो कॉल के दौरान आईपी एड्रेस प्राप्त करना काफी सरल काम है।

लेकिन एक आईपी एड्रेस क्या बताता है? हालांकि आईपी एड्रेस आपकी लोकेशन नहीं बताता है, लेकिन यह आपके आईएसपी डिटेल के साथ एक जियोग्राफिकल एरिया या शहर बताता है। क्या वह जोखिम भरा है? कुछ हद तक लेकिन ज्यादा चिंता की बात नहीं अगर आप कुछ बातों का ध्यान रखें।

- किसी अननोन नंबर से कॉल स्वीकार न करें (इसका मतलब है, भारत के बाहर के नंबर से कॉल स्वीकार न करें)।

- किसी अननोन नंबर पर कुछ भी संदिग्ध लगने पर उसे तुरंत ब्लॉक कर दें।

इस डील पर टूट पड़े ग्राहक: ₹22000 में मिल रहा 1 लाख का 55 इंच 4K TV, साउंड भी दमदार

यदि आप अपना आईपी एड्रेस छिपाने का एक अचूक तरीका चाहते हैं, तो एक तरीका है। चुनिंदा ऐप्स के पास पी2पी कनेक्शन को डिसेबल करने और इसके बजाय सर्वर के माध्यम से कॉल रिले करने का विकल्प होता है। यह इसे तीन-तरफा कनेक्शन बनाता है ताकि आपका आईपी एड्रेस प्रकट न हो। लेकिन इस तरह के तीन-तरफा कनेक्शन से कॉल की ऑडियो क्वालिटी प्रभावित हो सकती है और कुछ लेटेंसी भी हो सकती है।

यहां हमने बताया है कि कैसे आप आईपी एड्रेस को छुपा सकते हैं।

टेलीग्राम
सेटिंग्स में जाएं, अब प्राइवेसी और सिक्योरिटी पर क्विक करें और अब कॉल्स (प्राइवेसी सेक्शन में) पर जाएं, यहां पीयर-टू-पीयर सेक्शन में नेवर पर टैप करें।

वॉट्सऐप
दुर्भाग्य से, वॉट्सऐप के पास पी2पी कनेक्शन को डिसेबल करने की क्षमता नहीं है। वास्तव में, वॉट्सऐप खुद तय करता है कि कॉल कब पी2पी होगी और कब रिले कॉल होगी, यह कारकों पर निर्भर करता है जैसे कि दोनों में से कौन सा विकल्प बेस्ट क्वालिटी और लेटेंसी प्रदान करता है। हालांकि, वॉट्सऐप कॉल में आपके आईपी एड्रेस की सुरक्षा के लिए एक फीचर पर काम कर रहा है। एक बार यह फीचर इनेबल हो जाने पर, कॉल वॉट्सऐप सर्वर के माध्यम से रिले की जाएगी। फिलहाल, यह फीचर फिलहाल बीटा में है और इसके जल्द ही सभी के लिए उपलब्ध होने की उम्मीद है।

तेजी से खत्म हो रहा स्टॉक, ₹12999 में मिल रहा 200MP कैमरे वाला 5G फोन, 70 हजार है MRP

सिग्नल
जबकि सिग्नल के पास पी2पी कनेक्शन को डिसेबल करने का विकल्प नहीं है, उसके पास 'ऑलवेज रिले कॉल्स' का विकल्प है। यह कॉल की क्वालिटी को मामूली अंतर से कम करने के साथ आपके आईपी एड्रेस को छिपा देगा। इसे ऑन करने के लिए, सेटिंग्स में जाएं, अब प्राइवेसी पर क्लिक करें और उसके बाद एडवांस्ड पर। यहां से 'ऑलवेज रिले कॉल्स' विकल्प को ऑन करें।

फेसबुक मैसेंजर
वॉट्सऐप की तरह, मेटा में भी फेसबुक मैसेंजर पर पी2पी कॉल को डिसेबल करने का विकल्प नहीं है। और हमें नहीं पता कि मेटा मैसेंजर ऐप पर आईपी एड्रेस को छिपाने के लिए किसी फीचर पर काम कर रहा है या नहीं।

ऐप्पल फेसटाइम
यह ऐप्पल है इसलिए iOS डिवाइसेस पर P2P कनेक्शन को डिसेबल करने के विकल्प की अपेक्षा न करें। पिलहाल इस बारे में कोई जानकारी नहीं है कि ऐप्पल ऐसी किसी सुविधा पर काम कर रहा है या नहीं।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें