फोटो गैलरी

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ गैजेट्सInternet Cookies क्या है? कैसे छिपाया जाता है आपका डेटा, ऐसे करें डिलीट

Internet Cookies क्या है? कैसे छिपाया जाता है आपका डेटा, ऐसे करें डिलीट

आपने अक्सर देखा होगा कि किसी नई वेबसाइट को ओपन करने पर आपके सामने Accept Cookies का ऑप्शन आ जाता है। आखिर ये कुकीज़ क्या होते हैं, और क्यों बड़ी से बड़ी वेबसाइट्स इनके पीछे भाग रही है? बता दें कि हाल...

Internet Cookies क्या है? कैसे छिपाया जाता है आपका डेटा, ऐसे करें डिलीट
Vishal Kumarलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीSun, 09 Jan 2022 02:24 PM

इस खबर को सुनें

आपने अक्सर देखा होगा कि किसी नई वेबसाइट को ओपन करने पर आपके सामने Accept Cookies का ऑप्शन आ जाता है। आखिर ये कुकीज़ क्या होते हैं, और क्यों बड़ी से बड़ी वेबसाइट्स इनके पीछे भाग रही है? बता दें कि हाल ही में गूगल और फेसबुक को फ्रांस की सरकार ने कुकीज़ के गलत इस्तेमाल को लेकर 1700 करोड़ का जुर्माना लगाया है। आप इसी से अंदाजा लगा सकते हैं कि इंटरनेट कुकीज़ का बड़े स्तर पर दुरुपयोग भी हो सकता है। इसलिए यहां हम आपको इससे जुड़ी सभी जरूरी जानकारी देने जा रहे हैं:

Internet Cookies क्या है? 
इंटरनेट कुकीज़ एक टेक्स्ट फाइल होती है, जिनमें आपके बारे में कुछ डेटा दिया होता है। इस डेटा के इस्तेमाल आपकी (यानी आपके कंप्यूटर की) पहचान के लिए किया जाता है। कुकीज किसी वेबसाइट को बताती हैं कि पिछली बार जब आप इस साइट पर आए थे तो आपने क्या पढ़ा, देखा या खोजा था। जैसे ही आप किसी सर्वर का उपयोग करते हैं, कुकीज में डेटा तैयार हो जाता है। यह आपको और आपके कंप्यूटर के लिए विशेष पहचान देता है। 

यह भी पढ़ें: WhatsApp पर आया तगड़ा फीचर, कौन कर रहा आपकी बातें, DP से खुलेगा राज

इस डेटा को आपके कंप्यूटर में ही स्टोर किया जाता है। हर बार जब आप पहले वाली वेबसाइट पर जाते हैं, तो यह आपको विशेष आईडी से पहचान लेता है और आपसे संबंधित जानकारी दिखाता है। उदाहरण के लिए- अगर आप किसी शॉपिंग वेबसाइट, जैसे-अमेजन या फ्लिपकार्ट पर जाते हैं। यहां आप 15 हजार की रेंज वाला कोई स्मार्टफोन सर्च करते हैं और फिर वेबसाइट बंद कर देते हैं। अगली बार जब भी आप इस वेबसाइट पर लौटेंगे, तो हो सकता है यहां आपको इसी रेंज वाले स्मार्टफोन्स दिखें, या उनसे जुड़ा विज्ञापन आपके सामने आ जाए। 

कुकीज का फायदा क्या है?
अगर आप कुकीज को Accept करते हैं, तो वेबसाइट डेटा ट्रैक करना शुरू कर देगी। उन्हें पता चल जाएगा कि आप किस पेज पर जा रहे हैं, किसी सेक्शन पर कितना समय बिता रहे हैं। अगर आप वेबसाइट पर साइन-अप करते हैं तो यह आपकी आईडी और पासवर्ड भी याद रख सकता है। फायदों की बात करें तो इससे अगली बार आपका लॉगिन में लगने वाला समय बचेगा, आपको पासवर्ड टाइप नहीं करना होगा, साथ ही आपको जो विज्ञापन दिखेंगे वह आपसे संबंधित ही होंगे। 

यह भी पढ़ें: iPhone SE को लेकर बड़ा खुलासा, दिखने में ऐसा होगा 2022 मॉडल, मिलेगा 5G सपोर्ट

कुकीज का नुकसान क्या है?
फायदों के साथ कुकीज का नुकसान भी है। अगर यह डेटा गलत हाथों में चला जाए तो आपके लिए मुश्किल हो सकती है। कुकीज़ अपने आप में खतरनाक नहीं हैं। हालांकि यदि कोई पीसी हैक कर ले, तो जालसाज कुकीज़ से आपके ब्राउजिंग हिस्ट्री और अन्य संवेदनशील डेटा तक पहुंच सकते हैं। यह हमारे पास वर्ड और हमारे यूज़र आईडी को सपोर्ट करता है जो कि सिक्योरिटी के लिए बहुत ही खतरनाक है। 

Cookies कैसे क्लियर करे?
अगर आप क्रोम ब्राउजर का इस्तेमाल करते हैं तो उसे ओपन करें।
अब ब्राउजर की Settings पर जाएं।
अब बाईं तरफ दिए गए Privacy and security ऑप्शन पर क्लिक करें। 
अब Clear Browsing Data पर जाना होगा। 
यहां Cookies and Other site Data को सिलेक्ट करना होगा। 
आपको टाइम रेंज, (जैसे- पिछले एक घंटे की, एक हफ्ते की, या आज तक की सभी) भी तय करनी होगी। 
इसके बाद Clear Data पर क्लिक कर दें। 

epaper