DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बिना कंपनी बदले किसी भी वाईफाई नेटवर्क का कर सकेंगे इस्तेमाल

wifi

देश में अब आप किसी भी कंपनी का वाई-फाई हॉट स्पॉट इस्तेमाल कर पाएंगे भले ही आपने किसी भी कंपनी का कनेक्शन ले रखा हो। दूरसंचार विभाग अगले हफ्ते ऐसी व्यवस्था को मंजूरी देने जा रहा है। इसके बाद एक ही यूजर पासवर्ड के जरिए देश में किसी भी जगह किसी भी कंपनी के नेटवर्क पर इंटरनेट की सुविधा का इस्तेमाल किया जा सकेगा। सूत्रों के अनुसार, 16 जुलाई को डिजिटल दूरसंचार आयोग की बैठक होनी है। उस बैठक में दूरसंचार कंपनियों के लाइसेंस की शर्तों में इन नए बदलावों को शामिल करने को लेकर हरी झंडी दी जा सकती है।

आयोग की मंजूरी के बाद एक टेलीकॉम कंपनी के लिए दूसरी कंपनी के ग्राहकों को अपना वाई-फाई हॉट स्पॉट इस्तेमाल करने की इजाजत देना संभव हो जाएगा। नई व्यवस्था में ग्राहक को पहली बार दूसरे नेटवर्क के वाई फाई का इस्तेमाल करने के दौरान अपनी पूरी जानकारी देनी होगी। फिर वो कहीं भी अपने नेटवर्क के अलावा दूसरे नेटवर्क का इस्तेमाल कर पाएगा।

तीन महीने में दस करोड़ घट गए डेबिट कार्डधारक

सेल्युलर ऑपरेटर्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया के डायरेक्टर जनरल राजन मैथ्यूज ने हिंदुस्तान को बताया, टेलीकॉम कंपनियों ने गृह मंत्रालय को एक प्रेजेंटेशन दी थी जिसमें सभी शंकाओं का समाधान किया गया है। टेलीकॉम कंपनियों ने सरकार को आश्वस्त किया है कि इंटरनेट इस्तेमाल करने वाले हर शख्स का केवाईसी किया जाएगा और ऐसा कोई काम नहीं होगा जिससे सुरक्षा को खतरा हो या फिर इंटरनेट का गलत इस्तेमाल हो सके। नई व्यवस्था में ग्राहक को हर बार यूजर नेम और पासवर्ड डालने की जरूरत नहीं होगी।

देश में 1 लाख के करीब वाई-फाई हॉट स्पॉट हैं आने वाले दिनों में सरकार की योजना इनकी संख्या 10 लाख तक पहुंचाने की है। सरकार चाहती है दिसंबर तक 10 लाख हॉट स्पॉट लग जाएं। इनके लगने से माना जा रहा है कि टेलीकॉम कंपनियों के ऊपर से नेटवर्क का बोझ घटेगा।

गृह मंत्रालय से भी सहमति मिली
इस सुविधा को लेकर गृह मंत्रालय को पहले ऐतराज था, लेकिन उसने भी सहमति दे दी है। मंत्रालय सुरक्षा वजहों के चलते ये सुनिश्चित करना चाहता था कि इंटरनेट का इस्तेमाल करने वाले की पहचान सिस्टम में जरूर हो और टेलीकॉम कंपनियां उसकी जानकारी से अनभिज्ञ न हों। ताकि जरूरत पड़ने पर किसी भी व्यक्ति को ट्रैक किया जा सके।

अहम बातें
* वाईफाई हॉट स्पॉट इंटरपोर्टेबिलिटी पर 16 जुलाई को मुहर लगना संभव।
* एक यूजर पासवर्ड से देश में किसी भी कंपनी का वाईफाई इस्तेमाल होगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:USE Any WiFi network Without Change Company