DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   गैजेट्स  ›  फोन को बार-बार चार्ज करके परेशान? ये ऐप्स बढ़ा देंगे बैटरी लाइफ
गैजेट्स

फोन को बार-बार चार्ज करके परेशान? ये ऐप्स बढ़ा देंगे बैटरी लाइफ

लाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीPublished By: Vishal Kumar
Mon, 22 Mar 2021 10:18 AM
फोन को बार-बार चार्ज करके परेशान? ये ऐप्स बढ़ा देंगे बैटरी लाइफ

इन दिनों स्मार्टफोन कंपनियां नए डिवाइसेस में 6000 और 7000mAh की बैटरी दे रही हैं। हालांकि अभी भी बड़ी संख्या में यूजर्स हैं जो 4000 या 5000mAh बैटरी वाले फोन से काम चला रहे हैं। इतना ही नहीं, जैसे-जैसे फोन पुराना होता जाता है उसकी बैटरी पावर भी घटती जाती है। कई यूजर्स कम ब्राइटनेस, जीपीएस और डेटा बंद करके बैटरी बचाने की कोशिश करते हैं। लेकिन आज हम आपको 4 एंड्रॉइड ऐप्स के बारे में बता रहे हैं, जो आपकी समस्या को काफी हद तक कम कर देंगी और फोन की बैटरी बचाने में मदद करेंगी। 

1. Naptime 
नैपटाइम नाम के ऐप को Francisco Franco डिवेलपर ने तैयार किया है। दूसरे बैटरी सेवर ऐप्स की तरह यह आपके फोन की 'मेमोरी को क्लीन' नहीं करता। इस ऐप का काम है कि फोन जब इस्तेमाल न हो रहा हो तो इसकी बैटरी कम से कम खर्च हो। यानी फोन की स्क्रीन बंद होने के 4 से 5 मिनट बाद ही यह एक्टिवेट हो जाता है और बैटरी बचाने के काम करता है। 

यह भी पढ़ें: Google पर भूलकर भी सर्च ना करें ये 5 चीजें, पड़ सकते हैं बड़ी मुसीबत में

2. Greenify 
इस ऐप के डिवेलपर का नाम Oasis Feng है। यह ऐप उस समय बड़े काम का साबित हो सकता है जब आपके पास चार्जिंग का कोई बंदोबस्त ना हो। नैपटाइम की तरह यह ऐप भी आपके फोन को गहरी नींद में सुला देता है। यानी फोन जब इस्तेमाल ना हो रहा हो तब बैटरी कम खर्च होती है। 

3. Battery Guru 
बैटरी गुरु ऐप को Paget96 ने डिवेलप किया है। यह बैटरी सेविंग ऐप होने के साथ ही बैटरी मॉनिटरिंग ऐप भी है। यह बताता है कि आपकी बैटरी कौन सा ऐप सबसे ज्यादा खर्च कर रहा है। इसकी एक खासियत यह भी है कि इसमें आप बैटरी टेंपरेचर और चार्जिंग लिमिट का रिमाइंडर सेट कर सकते हैं। 

यह भी पढ़ें: WhatsApp की धांसू ट्रिक, किसी भी चैट को ऐसे करें लॉक, कोई नहीं पढ़ पाएगा आपकी बातें

4. Servicely 
इस ऐप के डिवेलपर का नाम Francisco Franco है। यह ऐप बैटरी सेविंग फीचर को एक अलग ही लेवल पर ले जाता है। फोन जब इस्तेमाल नहीं हो रहा होता तो यह किसी भी ऐप को बैटरी खर्च करने नहीं देता। हालांकि हो सकता है इस वजह से आप कोई जरूरी नोटिफिकेशन मिस कर दें। ऐसे में यह आपको तय करना है कि आपके लिए बैटरी बचाना ज्यादा जरूरी है या नोटिफिकेशन

संबंधित खबरें