DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

Second Hand फोन के मुकाबले Refurbished phones ज्यादा सुरक्षित

Launch of new Samsung Galaxy S10+ mobile phone at a press conference in New Delhi

स्मार्टफोन निर्माता कंपनियां लगातार नए-नए मोबाइल हर सप्ताह लॉन्च कर रही हैं, जिसमें नया डिजाइन और लेटेस्ट स्पेसिफिकेशन देखने को मिलते हैं। ऐसे में उपयोगकर्ता नए और तेज गति से चलने वाले फोन की तरफ आकर्षित होते हैं। आइए जानते हैं इनके बारे में। 

द सेकेंड हैंड स्मार्टफोन मार्केट इन इंडिया नामक रिपोर्ट के मुताबिक, अधिकतर उपभोक्ता छह से 12 महीने के बीच में अपना फोन अपग्रेड कर लेते हैं। अपग्रेड करने का मतलब पुराने फोन के स्थान पर नया मोबाइल खरीदने से है। यह रिपोर्ट कैशीफाई द्वारा प्रकाशित की गई है। 

पढ़ेंः सेकेंड हैंड के मुकाबले ज्यादा सुरक्षित होते हैं रिफर्बिश्ड फोन

11 फीसदी मार्केट शेयर है रिफर्बिश्ड फोन का 
सेकेंड हैंड या रिफर्बिश्ड फोन का बाजार भारत में तेजी से फल फूल रहा है। कम बजट वाले फोन ही नहीं बल्कि प्रीमियम स्मार्टफोन भी रिफर्बिश्ड बाजार में बिक्री के लिए उपलब्ध हैं। साथ ही उन्हें अच्छे खरीददार भी मिल जाते हैं। कैशीफाई की रिपोर्ट kद सेकेंड हैंड स्मार्टफोन मार्केट इन इंडियाl के अनुसार, भारत में कुल मोबाइल के बाजार में 11 फीसदी हिस्सेदारी रिफर्बिश्ड फोन की है। इतना ही नहीं भारत में सेकेंड हैंड और रिफर्बिश्ड फोन की वृद्धि दर लगभग 25 फीसदी रही है, जबकि वैश्विक स्तर पर सेकेंड हैंड फोन और रिफर्बिश्ड फोन की वृ्द्धि दर  18-20 फीसदी आंकी जा चुकी है। 

पढ़ेंः फेसबुक की अगले पांच साल में वैश्विक स्तर पर महिला कर्मियों की संख्या दोगुनी करने की योजना

कई परीक्षण के बाद मिलता है रिफर्बिश्ड फोन का टैग 
कई बड़ी कंपनियों द्वारा इस सेगमेंट में प्रवेश करने के बाद क्वालिटी पर भी खास ध्यान दिया जाने लगा है। अब सेकेंड हैंड फोन का कई पैमानों के आधार पर परीक्षण किया जाता है और उन्हें रिपेयर करने के बाद रिफर्बिश्ड का टैग दिया जाता है। ईकॉमर्स साइट अमेजन kअमेजन रिन्यूडl नाम से, फ्लिपकार्ट k2 गुडl नाम से और यांत्रा नामक की वेबसाइट रिफर्बिश्ड फोन की बिक्री करती है। 

पढ़ेंः अमेजन इन शहरों मे शुरू करने जा रही है खास सेंटर की शुरुआत

रिफर्बिश्ड और सेकेंड फोन में अंतर 
सेकेंड हैंड या यूज्ड फोन बिना वारंटी के हो सकते है। यह बिना परीक्षण और क्वालिटी चेक के बाजार बेच दिए जाते हैं। इनमे क्षति या अन्य समस्याएं पाई जा सकती हैं। लेकिन रिफर्बिश्ड मोबाइल को कई आधार पर परीक्षण किया जाता है और उसके बाद रिफर्बिश्ड का टैग लगाया जाता है। साथ ही कई बड़ी कंपनियां रिफर्बिश्ड फोन पर वारंटी भी देती हैं। बताते चलें कि रिफर्बिश्ड फोन, सेकेंड हैंड फोन की तुलना में ज्यादा महंगे होते हैं। टेक जगत के मुताबिक, जब भी सेकेंड हैंड या रिफर्बिश्ड फोन खरीदें तो फोन के नीचे दी गई जानकारी को जरूर पढ़ें अन्यथा आपको नुकसान उठाना पड़ सकता है।
 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Refurbished phones more secure than the Second Hand phone