Wednesday, January 26, 2022
हमें फॉलो करें :

मल्टीमीडिया

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ गैजेट्ससावधान! 23 ऐप में मिला खतरनाक PhoneSpy मैलवेयर, फोन से वीडियो भी रिकॉर्ड कर सकता है

सावधान! 23 ऐप में मिला खतरनाक PhoneSpy मैलवेयर, फोन से वीडियो भी रिकॉर्ड कर सकता है

लाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीArpit Soni
Sat, 27 Nov 2021 01:27 PM
सावधान! 23 ऐप में मिला खतरनाक PhoneSpy मैलवेयर, फोन से वीडियो भी रिकॉर्ड कर सकता है

इस खबर को सुनें

क्या होगा यदि आपका फोन, जिसमें आपकी लगभग पूरी दुनिया है, पर्सनल डेटा से लेकर बैंकिंग डिटेल्स तक, किसी के द्वारा चोरी कर ली जाएं और आपको भनक भी ना लगे? क्या होगा यदि आपका पर्सनल डिवाइस गुप्त जासूस के रूप में आप पर नज़र रखना शुरू कर दे? आपको जानकर हैरानी होगी कि यह अभी करोड़ों लोगों के साथ हो रहा है! अब, PhoneSpy मैलवेयर नाम का एक नया खतरा बनकर सामने आया है जो एंड्रॉइड फ़ोन उपयोगकर्ताओं के लिए ख़तरा है। बेहद खतरनाक PhoneSpy मैलवेयर 23 ऐप्स में पाया गया है। हालांकि इनमें से कोई भी ऐप गूगल प्ले पर उपलब्ध नहीं है, लेकिन अब तक, रुझान बताते हैं कि हमलावर निर्दोष लोगों को फंसाने के लिए वेब ट्रैफ़िक रीडायरेक्शन या सोशल इंजीनियरिंग डिस्ट्रीब्यूशन मेथड का उपयोग कर रहे हैं।

फोन से फोटो-वीडियो भी बना सकता है मैलवेयर
PhoneSpy मैलवेयर का पता लगाने वाली मोबाइल सिक्योरिटी कंपनी Zimperium ने कहा कि यह पीड़ितों के कैमरे तक वास्तविक समय की तस्वीरें लेने और आपकी जासूसी करने के लिए वीडियो रिकॉर्ड करने के लिए भी उपयोग कर सकता है, जिसका उपयोग व्यक्तिगत या कॉर्पोरेट ब्लैकमेलिंग और जासूसी के लिए किया जा सकता है। इसके अलावा, यह ऑडियो रिकॉर्ड कर सकता है और स्पेसिफिक जीपीएस लोकेशन प्राप्त कर सकता है, डिवाइस से इमेज और बहुत कुछ देख जा सकता है, जो बहुत डरावना है! गौर करने वाली बात यह है कि मैलवेयर आपकी जासूसी कर रहा है इस बात की आपको भनक तक नहीं लगेगी, जब तक कि कोई उनका वेब ट्रैफ़िक नहीं देख रहा हो।

ये भी पढ़ें- कंगाल कर सकती है Black Friday sale! शॉपिंग करने से पहले पढ़िए ये रिपोर्ट

इन क्षेत्रों में मुख्य रूप से सक्रिय है Phonespy
नया पाया गया Phonespy मैलवेयर, अन्य स्पाइवेयर से अलग कहा जा रहा है क्योंकि यह डिवाइस पर सामान्य रूप से छिप जाता है और डिवाइस पर कमजोरियों का लाभ लेने के बजाय टीवी स्ट्रीमिंग या यहां तक ​​कि योग इंट्रक्शन जैसे पॉपुलर एंड्रॉइड लाइफस्टाइल ऐप्स होने का छलावा करता है। सामान्य तौर पर, मैलवेयर पीड़ित के डिवाइस से गुप्त रूप से डेटा को एक्सफ़ोलीएटिंग कर रहा है, जिसमें लॉगिन क्रेडेंशियल, मैसेज, विशेष जियोग्राफिक लोकेशन और फ़ोटो शामिल हैं। साथ ही, PhoneSpy मोबाइल सिक्योरिटी एप्लिकेशन सहित किसी भी ऐप को हटा भी सकता है। PhoneSpy मुख्य रूप से दक्षिण कोरिया के क्षेत्रों में सक्रिय पाया गया है।

ये भी पढ़ें- 64MP कैमरा, 66W फास्ट चार्जिंग सपोर्ट के साथ आया ये किफायती स्मार्टफोन, कीमत बस इतनी

सबकुछ हो जाएगा चोरी और भनक तक नहीं लगेगी
वैध दिखने वाले एप्लिकेशन उपयोगकर्ताओं से अत्यधिक ऑन-डिवाइस अनुमतियों के लिए अनुरोध करते हैं जो एक सामान्य रेड फ्लैग है। ज़िम्पेरियम के रिचर्ड मेलिक ने बताया कि एक बार अनुमति मिलने के बाद, साइबर जालसाज डिवाइस तक पूरी पहुंच बना सकता है और यहां तक ​​कि मुख्य मेनू सूची से ऐप को छिपा भी सकता है। यह परदे के पीछे से काम करता है और उपयोगकर्ता को बताए बिना उसके डिवाइस से डेटा को ट्रैक और चोरी करना जारी रखता है। ज़िम्पेरियम ने अपने ब्लॉग में कहा कि उसने अमेरिका और दक्षिण कोरियाई अधिकारियों को सभी प्रासंगिक खतरे के डेटा को अधिसूचित और जमा कर दिया है। मोबाइल सिक्योरिटी कंपनी ने नियमित खतरे के अनुसंधान के दौरान PhoneSpy स्पाइवेयर ऐप की पहचान की।

 

epaper

संबंधित खबरें