फोटो गैलरी

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ गैजेट्सडिजिटल क्रांति: 50% से अधिक भारतीय अब ऑनलाइन करते हैं अपना फोन रिचार्ज

डिजिटल क्रांति: 50% से अधिक भारतीय अब ऑनलाइन करते हैं अपना फोन रिचार्ज

कोरोनावायरस की वजह से भारत में डिजिटल क्रांति आई है यानी की डिजिटल लेनदेन बढ़ा है। इसी तरह भारत में डिजिटल मोबाइल फोन रिचार्ज कराने वालों की संख्या भी बढ़ी है। 2020 में पहली बार 50% अधिक भारतियों ने...

डिजिटल क्रांति: 50% से अधिक भारतीय अब ऑनलाइन करते हैं अपना फोन रिचार्ज
Himani Guptaलाइव हिंदुस्तान ,नई दिल्लीSat, 02 Jan 2021 01:06 PM
ऐप पर पढ़ें

कोरोनावायरस की वजह से भारत में डिजिटल क्रांति आई है यानी की डिजिटल लेनदेन बढ़ा है। इसी तरह भारत में डिजिटल मोबाइल फोन रिचार्ज कराने वालों की संख्या भी बढ़ी है। 2020 में पहली बार 50% अधिक भारतियों ने ऑनलाइन माध्यम से रिचार्ज कराया है। महामारी के कारण लोगों ने घर से बाहर निकलना कम कर दिया था। जिसकी वजह से ऑनलाइन प्लेटफार्म से मोबाइल रिचार्ज का विकल्प चुना। एक्सपर्ट्स की माने तो लोग ऑनलाइन प्लेटफार्म का यूज जारी रखेंगे। 

 

ये भी पढ़ें:- Xiaomi का धमाल, सिर्फ 5 मिनट में बेचे 1600 करोड़ रुपये के फोन


ET की रिपोर्ट के मुताबिक रिलायंस जियो के एक सीनियर एग्जिक्यूटिव ने बताया कि दिसंबर तिमाही में ऑनलाइन रिचार्ज की हिस्सेदारी दिसंबर 50% तक बढ़ी। वहीं लॉकडाउन के समय डिजिटल रिचार्ज में 60% तक की वृद्धि देखी गई थी। वहीं भारती एयरटेल के एक अधिकारी की माने तो 2020 में आधा रिचार्ज रेवेन्यू डिजिटल चैनल से आया है।

 

 

ये ही पढ़ें:- Amazon ने किफायती कीमत पर लॉन्च किया पहला Ultra-HD स्मार्ट टीवी, जानिए फीचर्स

 

गूगल पे और फोनपे समेत फिनटेक कंपनियों, पेमेंट गेटवे CC Avenue और स्टार्टअप जैसे Niyo और Spice Money ने कहा कि मोबाइल रिचार्ज लेनदेन में 55-75% की वृद्धि हुई है। PhonePe के प्रवक्ता ने बताया कि हमने इस साल रिचार्ज ट्रांजेकशन में 55% की बढ़ोतरी देखी है। लॉकडाउन के दौरान डिजिटल रिचार्ज में स्पाइक आया है जो पोस्ट-लॉकडाउन के बाद भी जारी रहा है।

Google प्रवक्ता ने ईटी को बताया कि महामारी के दौरान 'ऑनलाइन भुगतान कैसे करें' और 'यूपीआई' के सर्च में 30% से अधिक की वृद्धि देखी गई तो वहीं 'बिजली का बिल ऑनलाइन भुगतान कैसे करें' ये सर्च 180% तक बढ़ गया। साथ ही उन्होंने कहा कि महामारी की वजह से नए यूजर्स भी बढ़ें जिन्होंने पहली बार ऑनलाइन प्लेटफार्म को लेनदेन के लिए यूज किया है।