DA Image
26 मार्च, 2020|8:51|IST

अगली स्टोरी

घर पर बैठे-बैठे एप से सीखें विदेशी भाषा 

best app for foreign language

देश को महामारी कोरोना वायरस (कोविड-19) से बचाने के लिए लॉकडाउन की घोषणा हो गई है और घर पर बैठे-बैठे अगर आप परेशान हो रहे हैं या फिर बोरियत महसूस कर रहे हैं तो मोबाइल एप की मदद से विदेशी भाषा सीख सकते हैं। इसके लिए आपको किसी भी तरह का शुल्क अदा नहीं करना होगा। इतना ही नहीं कुछ एप तो अभ्यास के लिए टेस्ट पेपर भी उपलब्ध कराते हैं।

गूगल प्ले स्टोर पर वैसे तो तमाम एप मौजूद हैं, जो स्पेनिश, जर्मन, आयरिश समेत विभिन्न भाषा सिखाने का दावा करते हैं। लेकिन हम आपको यहां कुछ ऐसे चुनिंदा एप के बारे में बताने जा रहे हैं, जिनसे आप बहुत आसानी से ये भाषाएं सीख सकते हैं। 

डुओलिंगो (Duolingo) 
यह एप गूगल प्लेस्टोर पर मौजूद है और उसे उपयोगकर्ता मुफ्त में डाउनलोड कर सकते हैं। इसे 4.7 रेटिंग दी गई है और करीब 10 करोड़ बार इसे डाउनलोड किया जा चुका है। डुओलिंगो में इंग्लिश, स्पेनिश, जर्मन और पुर्तगाली समेत 50 से भी ज्यादा भाषाएं मौजूद हैं। इस एप पर रजिस्टर करने के बाद आपको एक तो कौन सी भाषा सीखने है, उसका चुनाव करना होगा और इसके साथ उस भाषा का भी चुनाव करना होगा, जिसको आप सीखना चाहते हैं। उदाहरण के तौर आपको यहां इंग्लिश टू स्पेनिश इस तरह के विकल्प नजर आएंगे, जिसमें से अपने हिसाब से आपको एक विकल्प का चुनाव करना होगा। इसके अलावा आपको यह भाषा क्यों सीखनी है उसका चुनाव करना होगा। मसलन, ट्रैवल, करियर, ब्रेन ट्रेनिंग, स्कूल, कल्चर आदि में से कोई एक विकल्प अपने हिसाब से चुनना होगा। इसके बाद अगर आपको किसी लैंग्वेज की बिल्कुल भी नॉलेज नहीं है तो आपको एकदम शुरू से सिखाया जाएगा। इसके बाद तमाम तरह के असाइनमेंट्स आपको करने होंगे, जिनकी धीरे-धीरे प्रैक्टिस करके आप उस भाषा को अच्छे से जान पाओगे। 

रोजेटा स्टोन (Rosetta Stone) 
रोजेटा स्टोन नामक इस एप में 24 भाषाएं मौजूद हैं। अन्य एप की तरह ही ये एप भी काम करते हैं। इस एप में खास बात यह है कि यहां 30 मिनट की क्लास प्रतिदिन दी जाती है। डुओलिंगो और बबल की तरह ही इसमें आप अपने हिसाब से समय का चुनाव कर सकते हैं। अगर कोई उपयोगकर्ता ट्रैवलर हैं या फिर टूरिस्ट गाइड हैं या अनुवादक के तौर पर काम करना चाहते हैं तो आपको उसी हिसाब से क्लास दी जाएगी। अगर उपयोगकर्ता विदेशी भाषा के बारे में एबीसीडी भी नहीं जानते हैं तब भी यह एप आपके लिए उपयोगी साबित हो सकता है। अगर आपको थोड़ी बहुत जानकारी भाषा की है तो उस हिसाब से भाषा सिखाई जाती है। इन एप की अच्छी बात यह है कि यहां आपको कोई फीस नहीं देनी है। हालांकि कुछ एप ऐसी भी हैं जो चार्ज करती हैं। 

बबल (Babbel) 
विदेशी भाषा सीखने के लिए यह एक अन्य एप है। इस पर पहले आपको अपने बारे में कुछ जानकारियां उपलब्ध करानी होगी और उसके बाद उपयोगकर्ता को जो भाषा सीखनी है उसका चुनाव करना होगा। यहां कम से कम आपको 12 अध्याय मिलेंगे, जिन्हें आपको एक के बाद एक पूरा करते हुए आगे बढ़ना होगा। अध्यायों की संख्या अलग-अलग भाषा के हिसाब से कम ज्यादा हो सकती है। यहां आपको पहले अध्याय में दो वाक्य लिखे नजर आएंगे, जिनमें से एक आपकी भाषा में होगा (जो आपको सेलेक्ट करनी होगी) और नीचे उसका ट्रांस्लेशन उस लैंग्वेज में होगा, जो आप सीखना चाहते हैं। अब आपको पहले सुनना है कि उस लैंग्वेज का उच्चारण कैसे किया जा रहा है और उसके बाद उसको दोहराना होगा।

क्या-क्या होंगे फायदे 
विदेशी भाषाओं का ज्ञान आपके करियर में चार चांद लगा सकता है। बाजार में अक्सर विदेशी भाषाओं के जानकारों के लिए नौकरी की मांग रहती है। पहले कॉल सेंटर में ही इनकी ज्यादा जरूरत होती थी लेकिन अब तो इलेक्ट्रॉनिक मीडिया, टूर गाइड या फिर अनुवादक के लिए काम की कमी नहीं है। अगर आप ये सोच रहे हैं कि इन भाषाओं को सीखने के लिए भारी भरकम फीस देनी होगी तो ऐसा बिल्कुल भी नहीं है। आप अपने फोन पर ही एप की मदद से विदेशी भाषाएं सीख सकते हैं।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Learn foreign language from home while sitting at home