Hindi Newsगैजेट्स न्यूज़iPhone users may have to pay more to get blue tick on Twitter and musk vs apple can be the reason - Tech news hindi

आईफोन यूजर्स को 'महंगा पड़ेगा' Twitter ब्लू टिक, देने पड़ सकते हैं बाकियों से ज्यादा पैसे

एलन मस्क की ओनरशिप वाले माइक्रोब्लॉगिंग प्लेटफॉर्म Twitter पर Twitter Blue सब्सक्रिप्शन लेने वालों को ब्लू टिक मिलेगा लेकिन आईफोन यूजर्स के लिए इस सब्सक्रिप्शन की कीमत ज्यादा हो सकती है।

Pranesh Tiwari लाइव हिंदुस्तान, नई दिल्लीThu, 8 Dec 2022 07:25 PM
हमें फॉलो करें

माइक्रोब्लॉगिंग प्लेटफॉर्म Twitter की सब्सक्रिप्शन सेवा Twitter Blue के साथ यूजर्स को एक्सक्लूसिव फीचर्स और ब्लू वेरिफिकेशन बैज मिलता है, लेकिन इसका सब्सक्रिप्शन Apple iPhone यूजर्स के लिए बाकियों से महंगा हो सकता है। संकेत मिले हैं कि एलन मस्क की सोशल मीडिया कंपनी आईफोन इस्तेमाल करने वाले यूजर्स के लिए ब्लू सब्स्क्रिप्शन की कीमत ज्यादा रखने वाली है, यानी कि ब्लू टिक के लिए आईफोन यूजर्स को ज्यादा पैसे खर्च करने होंगे। 

रिपोर्ट्स की मानें तो सोशल मीडिया कंपनी की योजना आईफोन यूजर्स को लिए ट्विटर ब्लू सब्सक्रिप्शन की कीमत 11 डॉलर (करीब 900 रुपये) रखने की है। ऐसा इसलिए क्योंकि ऐप से किए गए हर भुगतान पर डिवेलपर्स को 30 प्रतिशत की ऐप स्टोर फीस देनी पड़ती है। ट्विटर ब्लू सब्सक्रिप्शन की कीमत एलन मस्क की ओर से 8 डॉलर (करीब 660 रुपये) तय की गई थी, लेकिन फेक अकाउंट्स को ब्लू टिक मिलने के चलते इसका रोलआउट कुछ वक्त के बाद ही रोक दिया गया था।

वेब प्लेटफॉर्म से सब्सक्रिप्शन लेना होगा सस्ता
रिपोर्ट में कहा गया है कि अगर ट्विटर यूजर्स वेब प्लेटफॉर्म की मदद से इसकी ट्विटर ब्लू सेवा का सब्सक्रिप्शन लेते हैं तो उन्हें 8 डॉलर के बजाय केवल 7 डॉलर (करीब 575 रुपये) का भुगतान करना होगा। एंड्रॉयड प्लेटफॉर्म के लिए इसकी कीमत अभी सामने नहीं आई है लेकिन गूगल की ओर से इन-ऐप परचेज पर कट लिए जाने के चलते इसपर भी कीमत वेब के मुकाबले ज्यादा हो सकती है। कंपनी चाहेगी कि यूजर्स वेबसाइट पर आकर सब्सक्रिप्शन लें और इसे ऐपल या गूगल को हिस्सा ना देना पड़े।

ऐपल से मस्क का टकराव भी हो सकता है वजह
बीते दिनों एलन मस्क और ऐपल के बीच टकराव की स्थिति भी बनती दिखी थी और मस्क ने दावा किया था कि ऐपल फ्री स्पीच के खिलाफ है। मस्क ने कहा था कि ऐपल उनकी ओर से किए गए बदलावों के बाद ट्विटर ऐप को प्लेटफॉर्म से बैन कर सकती है। इसके अलावा 30 प्रतिशत ऐप स्टोर फीस डिवेलपर्स से लेने को लेकर भी मस्क ने ऐपल को फटकार लगाई थी। एलन ने दावा किया था कि ट्विटर ब्लू सब्सक्रिप्शन रीलॉन्च होने की कई वजहों में से ऐप स्टोर फीस भी एक है। 

फिलहाल यूजर्स को ट्विटर ब्लू रीलॉन्च का इंतजार
सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर यूजर्स फिलहाल ट्विटर ब्लू सब्सक्रिप्शन सेवा दोबारा लॉन्च होने का इंतजार कर रहे हैं, जिससे वे भुगतान करते हुए ब्लू वेरिफिकेशन बैज या ब्लू टिक खरीद सकें। आपको बता दें, इससे पहले ट्विटर ब्लू सब्सक्रिप्शन के साथ ब्लू टिक मिलने के चलते फेक अकाउंट्स और असली अकाउंट्स के बीच अंतर खत्म हो रहा था। कई फेक अकाउंट्स ने लोकप्रिय कंपनियों के नाम के साथ ब्लू टिक खरीदकर उन्हें करोड़ों का नुकसान करवाया था। फेक अकाउंट्स को ब्लू टिक मिलने के चलते प्रोग्राम में सुधार व बदलाव करने पड़े हैं।

ऐप पर पढ़ें