फोटो गैलरी

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ गैजेट्सगूगल ऐप स्टोर से हटाया गया Paytm, नीतियों के उल्लंघन के चलते उठाया कदम

गूगल ऐप स्टोर से हटाया गया Paytm, नीतियों के उल्लंघन के चलते उठाया कदम

पेटीएम ऐप को गूगल प्ले स्टोर से हटा लिया गया है। अब आप अपने स्मार्टफोन में इस ऐप को डाउनलोड नहीं कर सकते हैं। प्ले स्टोर के इस कदम को पेटीएम के फैंटेसी गेम ऑफरिंग्स के साथ मिला कर देखा जा...

गूगल ऐप स्टोर से हटाया गया Paytm, नीतियों के उल्लंघन के चलते उठाया कदम
Nootan Vaindelलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीFri, 18 Sep 2020 03:52 PM

पेटीएम ऐप को गूगल प्ले स्टोर से हटा लिया गया है। अब आप अपने स्मार्टफोन में इस ऐप को डाउनलोड नहीं कर सकते हैं। प्ले स्टोर के इस कदम को पेटीएम के फैंटेसी गेम ऑफरिंग्स के साथ मिला कर देखा जा रहा है। दिलचस्प बात यह है कि गूगल इंडिया ने आज एक ब्लॉग पोस्ट प्रकाशित किया है जिसमें जुए को लेकर प्ले स्टोर की नीतियों पर प्रकाश डाला गया है। ब्लॉग पोस्ट में पेटीएम का उल्लेख नहीं है, लेकिन यह ऐप स्टोर की जुए से जुड़ी नीतियों को इंगित करता है।

गूगल ने अपनी ब्लॉग पोस्ट में लिखा, “हम ऑनलाइन कैसिनो की अनुमति नहीं देते हैं। हम किसी भी खेल में सट्टेबाजी की सुविधा देने वाले अनियमित ऐप्स का सपोर्ट नहीं करते हैं। इसमें यह भी शामिल है कि क्या कोई ऐप यूजर्स को किसी बाहरी वेबसाइट पर ले जाता है। जो उन्हें असली पैसे या नकद पुरस्कार जीतने के लिए टूर्नामेंट में भाग लेने की अनुमति देता हो, ऐसा करना हमारी नीतियों का उल्लंघन है।"

यह भी पढ़ें-Moto E7 Plus 23 सितंबर को भारत में होने जा रहा है लॉन्च, यहां पढ़ें डिटेल्स
 

गूगल ने कहा कि यह नीति उल्लंघन के डेवलपर को सूचित करता है और कार्रवाई के दौरान ऐप को हटा देता है। जैसे ही यह नीति के दिशानिर्देशों का पालन करता है। ऐप को Play Store पर दोबारा स्थापित कर दिया जाएगा। पेटीएम अभी भी ऐप्पल ऐप स्टोर पर उपलब्ध है और जिनके पास अपने फोन पर ऐप डाउनलोड है, वे अभी भी इसका उपयोग कर सकते हैं। अब तक बताई गई ऐप की सेवाओं में कोई समस्या नहीं है। इसके अलावा, प्ले स्टोर पर अभी भी Paytm for Business ऐप उपलब्ध है।

 

Paytm न केवल भारत में, बल्कि विश्व स्तर पर सबसे बड़ी फिनटेक ऐप्स में से एक है। सेंसर टावर के नवीनतम आंकड़ों के अनुसार, Paytm अगस्त में छठा सबसे अधिक डाउनलोड किया गया फिनटेक ऐप था। इस दौरान ऐप को 67 लाख लोगों ने डाउनलोड किया था।

गूगल प्ले स्टोर से पेटीएम ऐप हटाए जाने के बाद कंपनी ने ट्वीट कर कहा है कि नए डाउनलोड या अपडेट के लिए Google के Play Store पर Paytm Android ऐप अस्थायी रूप से अनुपलब्ध है। यह बहुत जल्द वापस आ जाएगा। आपके सभी पैसे पूरी तरह से सुरक्षित हैं, और आप अपने पेटीएम ऐप को सामान्य रूप से जारी रख सकते हैं।

5 करोड़ मंथली एक्टिव यूजर्स

पेटीएम भारत का सबसे कीमती स्टार्टअप है और इसका दावा है कि इसके पास 5 करोड़ मंथली एक्टिव यूजर्स हैं। एक-दूसरे के साथ पैसे ट्रांसफर करने की सुविधा देने वाली पेटीएम ऐप आज ही प्ले स्टोर से हटाई गई है। गूगल ने कहा, खेलों में सट्टेबाजी को बढ़ावा देने वाले ऐप प्ले स्टोर से हटाए जाएंगे।

जानें गूगल ने क्या कहा

ऐप को हटाने के बाद गूगल ने कहा कि प्ले स्टोर पर भारत में ऑनलाइन कैसिनो और खेलों पर सट्टेबाजी कराने वाली ऐप्स की इजाजत नहीं है। इस संबंध में पेटीएम लगातार प्ले स्टोर के नियमों का उल्लंघन कर रही थी। गूगल ने एक ब्लॉग पोस्ट में कहा, ''हम ऑनलाइन कैसिनो की अनुमति नहीं देते हैं या खेलों में सट्टेबाजी की सुविधा देने वाले किसी भी अनियमित जुआ ऐप का समर्थन नहीं करते हैं। इसमें वे ऐप शामिल हैं जो ग्राहकों को किसी ऐसी बाहरी वेबसाइट पर जाने के लिए प्रेरित करते हैं, जो धनराशि लेकर खेलों में पैसा या नकद पुरस्कार जीतने का मौका देती है। यह हमारी नीतियों का उल्लंघन है।

बता दें  भारत में आईपीएल जैसे प्रमुख खेल आयोजनों से पहले इस तरह के ऐप बड़ी संख्या में लॉन्च किए जाते हैं। इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) का नवीनतम सत्र 19 सितंबर से संयुक्त अरब अमीरात में शुरू होने वाला है।  

यह भी पढ़ें: गूगल ऐप स्टोर से हटाया गया Paytm, नीतियो के उल्लंघन के चलते उठाया कदम

ब्लॉग पोस्ट में कहा गया है कि ये नीतियां उपयोगकर्ताओं को संभावित नुकसान से बचाने के लिए हैं। हालांकि, गूगल ने यह साफ नहीं किया है कि क्या इस आधार पर किसी ऐप को हटाया गया है या नहीं। गूगल ने यह भी कहा कि जब कोई ऐप इन नीतियों का उल्लंघन करता है, तो उसके डेवलपर को इस बारे में सूचित किया जाता है, और जब तक डेवलपर ऐप को नियमों के अनुरूप नहीं बनाता है, उसे तब तक गूगल प्ले स्टोर से हटा दिया जाता है।

एंड्रॉइड सुरक्षा एवं गोपनीयता के उत्पाद उपाध्यक्ष सुजान फ्रे द्वारा पोस्ट किए गए इस ब्लॉग में कहा गया है कि ऐसे मामले जहां नीतियों का बार-बार उल्लंघन किया जाता है, गूगल अधिक गंभीर कार्रवाई कर सकती है, जिसमें डेवलपर के खातों को खत्म करना भी शामिल है। उन्होंने कहा कि ये नीतियां सभी डेवलपर्स पर समान रूप से लागू की जाती हैं।

epaper