फोटो गैलरी

Hindi News गैजेट्सकरोड़ों Android यूजर्स को झटका: इन फोन में नहीं चलेगा Google का ये पॉपुलर ऐप

करोड़ों Android यूजर्स को झटका: इन फोन में नहीं चलेगा Google का ये पॉपुलर ऐप

करोड़ों Android स्मार्टफोन यूजर्स को एक बड़ा झटका लगने वाला है। जल्द ही Google का एक खास ऐप कुछ एंड्रॉयड डिवाइस में काम करना बंद करने वाला है। हम बात कर रहे हैं Google Calendar App की

करोड़ों Android यूजर्स को झटका: इन फोन में नहीं चलेगा Google का ये पॉपुलर ऐप
Arpit Soniलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीTue, 28 Nov 2023 03:39 PM
ऐप पर पढ़ें

करोड़ों Android स्मार्टफोन यूजर्स को एक बड़ा झटका लगने वाला है। एक रिपोर्ट के अनुसार, जल्द ही Google का एक खास ऐप कुछ एंड्रॉयड डिवाइस में काम करना बंद करने वाला है। हम बात कर रहे हैं Google Calendar App की, जो 5 बिलियन (500 करोड़) से ज्यादा डाउनलोड के साथ एंड्रॉयड पर सबसे लोकप्रिय कैलेंडर ऐप है। ऐप अक्सर यूजर्स के लिए डिफॉल्ट ऑप्शन होता है क्योंकि यह एंड्रॉयड फोन पर प्री-इंस्टॉल आता है और जीमेल और मीट जैसे अन्य गूगल ऐप के साथ सहजता से काम करता है। रिपोर्ट में कहा गया है कि गूगल कैलेंडर ऐप जल्द ही पुराने एंड्रॉयड डिवाइस पर काम करना बंद कर सकता है। कहा जा रहा है कि ऐप के अपकमिंग वर्जन में मिनिमम सिस्टम रिक्वायरमेंट्स में वृद्धि कर दी गई है, जिसका मतलब यह है कि गूगल कुछ पुराने फोन पर अपने कैलेंडर ऐप के लिए सपोर्ट बंद कर देगा।

अब Android Oreo 8.0 और उससे लेटेस्ट वर्जन में चलेगा ऐप
ट्विटर पर AssembleDebug ने देखा कि गूगल अपने कैलेंडर ऐप के लिए एक नए अपडेट पर काम कर रहा है। एपीकेमिरर पर गूगल द्वारा लिस्टेड ऐप का लेटेस्ट वर्जन दिखाता है कि अब कैलेंडर ऐप केवल Oreo 8.0 और उससे ऊपर के एंड्रॉयड वर्जन के साथ कम्पैटिबल होगा।

इन एंड्रॉयड वर्जन पर काम नहीं करेगा ऐप
बता दें कि, ऐप के पुराने वर्जन में एंड्रॉयड 5.0 लॉलीपॉप के मिनिमम वर्जन की आवश्यक थी। गूगल ने कैलेंडर ऐप के लेटेस्ट वर्जन में एक नया फ्लैग जोड़ा है, जिसमें कहा गया है कि पुराने एंड्रॉयड वर्जन अब ऐप को सपोर्ट नहीं करेंगे। वर्जन 2023.46.0-581792699-रिलीज से शुरू होकर, गूगल कैलेंडर ऐप एंड्रॉयड नौगट और उससे नीचे ओएस पर चलने वाले डिवाइसेस पर काम करना बंद कर देगा। हालांकि यह वर्जन अभी तक Google Play Store पर उपलब्ध नहीं है, लेकिन उम्मीद है कि कंपनी जल्द ही इस अपडेट को रोल करना शुरू कर देगी।

Samsung ने कराई मौज: ₹9999 से कम में लें ये 5 तगड़े स्मार्टफोन; सबसे सस्ता 6,490 रुपये का

Android Oreo को 2017 में गूगल द्वारा जारी किया गया था, और यह 2018 से सभी डिवाइसेस पर उपलब्ध हो गया था। इसलिए, Android Nougat और उससे नीचे चलने वाले अधिकांश डिवाइस 2015-2017 के बीच लॉन्च किए गए थे, जो बताया है कि ये फोन पहले ही पुराने हो चुके हैं।

करीब 18 करोड़ स्मार्टफोन प्रभावित होंगे!
स्टेटकाउंटर के डेटा से पता चलता है कि दुनिया में 6% से अधिक एंड्रॉयड फोन अभी भी एंड्रॉयड नौगट और उससे नीचे के वर्जन पर चल रहे हैं। यह ध्यान में रखते हुए कि 3 अरब से अधिक एक्टिव एंड्रॉयड डिवाइस हैं, यूजर्स का यह छोटा प्रतिशत 180 मिलियन (18 करोड़) स्मार्टफोन में तब्दील हो जाता है।

अपडेट न करके ऐप यूज कर सकते हैं यूजर
अपकमिंग कैलेंडर ऐप अपडेट पुराने फोन वाले हजारों एंड्रॉयड यूजर्स को प्रभावित कर सकता है। हालांकि, इसका मतलब यह नहीं है कि गूगल पुराने डिवाइसेस पर ऐप के लिए सपोर्ट पूरी तरह से समाप्त कर रहा है। यूजर्स कैलेंडर ऐप को लेटेस्ट वर्जन में अपडेट करने से इनकार कर सकते हैं और कुछ और समय तक इसका उपयोग जारी रख सकते हैं, लेकिन गूगल जल्द ही इसे भी बंद कर सकता है।

एंड्रॉयड नौगट या उससे नीचे चलने वाले फोन निश्चित रूप से 2023 तक पुराने हो गए हैं, और अपग्रेड पर विचार करना एक अच्छा विचार है। हालांकि, इस बात से भी नजरअंदाज नहीं किया जा सकता है कि ऐसे यूजर्स का एक महत्वपूर्ण समूह है जो पावर यूजर्स नहीं हैं और अपने फोन को बार-बार अपग्रेड नहीं करते हैं।

फोन अपग्रेड करना बेहतर विकल्प
ऐसा लगता है कि गूगल ने देखा है कि पुराने फोन वाले यूजर्स एक्टिवली कैलेंडर ऐप का उपयोग नहीं कर रहे हैं। इसलिए, कंपनी ने ऐप के लिए न्यूनतम सिस्टम आवश्यकताएं बढ़ा दी होंगी। इससे गूगल को अपने ऐप में बेहतर सुरक्षा लागू करने और अधिक सुविधाएं जारी करने की अनुमति मिलती है। पुराने वर्जन के लिए सपोर्ट छोड़ने से ऐप डेवलपर्स के लिए ऐप को मेनटेन रखना भी आसान हो जाता है। इसलिए यदि आप गूगल कैलेंडर ऐप के एक्टिव यूजर्स हैं, लेकिन फिर भी आपके पास Android Nougat पर चलने वाला फोन है, तो फोन अपग्रेड के बारे में सोचने का यह एक अच्छा समय है।
 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें