Wednesday, January 19, 2022
हमें फॉलो करें :

मल्टीमीडिया

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ गैजेट्सजल्द बदल सकता है Facebook का नाम! जानिए क्यों कंपनी ले रही है इतना बड़ा फैसला

जल्द बदल सकता है Facebook का नाम! जानिए क्यों कंपनी ले रही है इतना बड़ा फैसला

लाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्ली Himani Gupta
Wed, 20 Oct 2021 10:02 AM
जल्द बदल सकता है Facebook का नाम! जानिए क्यों कंपनी ले रही है इतना बड़ा फैसला

इस खबर को सुनें

Facebook Inc, कंपनी को एक नए नाम के साथ रीब्रांड करने की योजना बना रहा है। द वर्ज ने मामले की प्रत्यक्ष जानकारी रखने वाले एक सूत्र का हवाला देते हुए बताया कि फेसबुक अगले हफ्ते अपनी कंपनी का नाम बदलने की योजना बना रहा है। नाम बदलने के बारे में सीईओ मार्क जुकरबर्ग 28 अक्टूबर को कंपनी के वार्षिक कनेक्ट सम्मेलन में बात करने की योजना बना रहे हैं।

रिपोर्ट्स की माने तो कंपनी ये फैसला इसलिए लेना चाहती हैं ताकि वह सोशल मीडिया प्लेटफार्म से अधिक के लिए पहचानी जाए। हालांकि फेसबुक के एक प्रवक्ता ने यह कहते हुए टिप्पणी करने से इनकार कर दिया कि कंपनी "अफवाहों या अटकलों पर टिप्पणी नहीं करती है।"

 

यह भी पढ़ें: सिर्फ ₹399 में मिलेगी 100 Mbps स्पीड; Jio से भी बेहद सस्ते ब्रॉडबैंड प्लान्स दे रही ये कंपनी

 

बता दें कि फेसबुक के फाउंडर Zuckerberg ने जुलाई में earning कॉल में कहा था कि कंपनी का भविष्य 'metaverse' में है। फेसबुक जो लक्ष्य बना रहा है, वह एक अल्फाबेट इंक जैसी होल्डिंग कंपनी है - जो कि एक संगठन के तहत इंस्टाग्राम, व्हाट्सऐप, ओकुलस और मैसेंजर जैसे कई सोशल नेटवर्किंग ऐप में से एक है।

यह खबर ऐसे समय में आई है जब कंपनी को अपने कारोबारी तौर-तरीकों को लेकर अमेरिकी सरकार की बढ़ती जांच का सामना करना पड़ रहा है। दोनों पार्टियों की सांसदों ने फेसबुक को लेकर कांग्रेस में बढ़ते गुस्से को जाहिर करते हुए कंपनी की खिंचाई की है।

 

यह भी पढ़ें: हर महीने 68 रुपये खर्च, Jio के 11 महीने चलने वाले 2 सस्ते रिचार्ज प्लान

 

बताते चलें कि 18 अक्टूबर को फेसबुक ने कहा कि वह अगले पांच वर्षों में यूरोपीय यूनियन में 10,000 लोगों को काम पर रखने की योजना बना रहा है ताकि को metaverse बनाने में मदद मिल सके. metaverse - एक नई ऑनलाइन दुनिया जहां लोग मौजूद हैं और शेयर्ड वर्चुअल स्पेस में संवाद करते हैं। फेसबुक ने virtual reality (VR) और augmented reality (AR) में भारी निवेश किया है और अपने लगभग तीन अरब यूजर्स को कई डिवाइसेस और ऐप्स के माध्यम से जोड़ने का इरादा रखता है।

 

epaper
सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

संबंधित खबरें