DA Image
हिंदी न्यूज़ › गैजेट्स › पुराना फोन खरीदकर फंस न जाना, यह वेबसाइट बताएगी चोरी का तो नहीं डिवाइस
गैजेट्स

पुराना फोन खरीदकर फंस न जाना, यह वेबसाइट बताएगी चोरी का तो नहीं डिवाइस

लाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीPublished By: Vishal Kumar
Mon, 19 Jul 2021 02:18 PM
पुराना फोन खरीदकर फंस न जाना, यह वेबसाइट बताएगी चोरी का तो नहीं डिवाइस

हमारे देश में जितनी संख्या में नए फोन खरीदे जाते हैं, उतनी ही बिक्री सेकेंड हैंड स्मार्टफोन्स की भी है। OLX और Quiker जैसी वेबसाइट्स के जरिए पुराना फोन खरीदना और भी आसान हो जाता है। हालांकि सेकेंड हैंड फोन खरीदना कई बार आपको मुसीबत में भी डाल सकता है। ऐसे कई मामले सामने आए हैं जह ग्राहकों को चोरी किए हुए डिवाइस बेच दिए गए। दिल्ली पुलिस ने इस तरह के मामलों से बचने के लिए जनता को सलाह जारी की है। 

इस वेबसाइट पर मिलेगी सारी जानकारी
दरअसल दिल्ली पुलिस ने एक ट्विटर पोस्ट के जरिए सेकेंड हैंड फोन खरीदने वालों को सलाह दी है कि वे जब भी कोई डिवाइस खरीदें तो उसका IMEI नंबर जरूर वेरिफाई करें। IMEI नंबर को चेक करने के लिए पुलिस ने Zipnet वेबसाइट इस्तेमाल करने को कहा है। दिल्ली पुलिस ने लिखा, "सेकेंड हैंड मोबाइल फोन खरीदने से सावधान रहें। हो सकता है कि इसे चोरी/अपराध में इस्तेमाल किया गया हो। ऐसे फोन के IMEI को दिल्ली पुलिस ने Zipnet सिस्टम पर लिस्टेड किया जाता है।"

 

यह भी पढ़ें: WhatsApp का ब्लू टिक बंद है? ऐसे जानें आपका मैसेज पढ़ा है या नहीं

वेबसाइट पर ऐसे चेक करें IMEI नंबर
बता दें कि IMEI या इंटरनेशनल मोबाइल इक्विपमेंट आइडेंटिटी एक 15 डिजिट का नंबर होता है, जो हर मोबाइल के लिए यूनीक होता है। यह डिवाइस के लिए फिंगरप्रिंट की तरह काम करता है। स्मार्टफोन चोरी होने की स्थिति में नेटवर्क पर डिवाइस की पहचान करने के लिए इसका इस्तेमाल किया जा सकता है। तो आइए जानते हैं zipnet वेबसाइट पर कैसे चेक करें IMEI नंबर: 

जब भी कोई सेकेंड हैंड फोन खरीदें तो फोन में *#06# डायल करें। 

यह नंबर डायल करने से फोन का IMEI नंबर आ जाएगा। 

अब https://zipnet.delhipolice.gov.in/ वेबसाइट पर जाएं। 

यह भी पढ़ें: पसंद आ गया दोस्त का WhatsApp Status? चुटकियों में ऐसे करें डाउनलोड

वेबसाइट पर दिए गए Missing Mobile विकल्प पर क्लिक करें। 

यहां आपको Search ऑप्शन दिखाई देगा, इस पर क्लिक करें।

अब फोन का IMEI नंबर दर्ज करें और Search पर क्लिक करें। 

अगर फोन चोरी या किसी अपराध में इस्तेमाल हुआ होगा तो डेटाबेस में नंबर दिख जाएगा। 

संबंधित खबरें