Hindi Newsगैजेट्स न्यूज़cognizant asks employees to work from office for at least three days in a week or as defined by the team leader - Tech news hindi

IT कंपनी ने बढ़ाई एम्प्लॉयीज की टेंशन, खत्म हुआ वर्क फ्रॉम होम, अब ऑफिस आकर करना होगा काम

कॉग्निजेंट के एम्प्लॉयीज को ऑफिस से काम करना होगा। कंपनी ने भारत में काम करने वाले अपने एम्प्लॉयीज से हफ्ते में कम से कम तीन दिन ऑफिस आने के लिए कहा है। कंपनी के इस फैसले से एम्प्लॉयीज खुश नहीं हैं।

Prashant Singh लाइव हिन्दुस्तान, नई दिल्लीThu, 29 Feb 2024 07:34 AM
हमें फॉलो करें

IT कंपनी कॉग्निजेंट (Cognizant) के एम्प्लॉयीज को अब ऑफिस से काम करना होगा। कंपनी ने भारत में काम करने वाले अपने एम्प्लॉयीज से हफ्ते में कम से कम तीन दिन ऑफिस आने के लिए कहा है। न्यूज एजेंसी रॉयटर्स ने कंपनी के सीईओ रवि कुमार एस के भेजे गए एक ईमेल का जिक्र किया है। इसमें कहा गया है कि एम्प्लॉयीज को हर हफ्ते तीन दिन या टीम लीडर के कहे अनुसार ऑफिस आना जरूरी है। कंपनी का कहना है कि ऑफिस से काम करने से कंपनी के कल्चर के बारे में समझ बढ़ती है।

फैसले से खुश नहीं कंपनी के एम्प्लॉयी 
कंपनी के इस फैसले से कर्मचारी खास खुश नहीं हैं। कुछ एम्प्लॉयीज ने सोशल मीडिया प्लैटफॉर्म पर पोस्ट करके कहा कि इससे उनके वर्क-लाइफ बैलेंस और फ्लेक्सिबिलिटी को काफी नुकसान होगा। वहीं, कॉग्निजेंट चाहता है कि एम्प्लॉयीज इन-पर्सन टाइम का यूज उन ऐक्टिविटीज को प्राथमिकता देने के लिए करें, जिनमें कोलैबोरेटिव प्रोजेक्ट्स, ट्रेनिंग और टीम बिल्डिंग शामिल हो।

हाइब्रिड वर्क शेड्यूलिंग ऐप होगा लॉन्च
कॉग्निजेंट भारत के लिए एक नया हाइब्रिड वर्क शेड्यूलिंग ऐप भी लॉन्च करेगा। इससे मैनेजर्स को अपनी टीमों के लिए शेड्यूल बनाने और ऑफिस में उनके लिए जगह रिजर्व करने में मदद मिलेगी। कॉग्निजेंट का मानना ​​है कि हाइब्रिड मॉडल काम के भविष्य को तय करेगा। कॉग्निजेंट ने एक बयान में कहा, 'हम अपने लोगों को ऑफिस में देखकर एक्साइटेड हैं और हम पूरे भारत में टियर-2 शहरों में विस्तार करने के लिए प्रतिबद्ध हैं, जहां हमारे कई कर्मचारी रहते हैं। हाइब्रिड वर्क अप्रोच हमारे लोगों को सोशल कैपिटल बनाने में मदद करेगा जो मजबूत रिश्तों, करियर में आगे बढ़ने और ग्रोथ के लिए बेहद जरूरी है।'

कॉग्निजेंट का सबसे बड़ा टैलेंट बेस है भारत
कंपनी की ऐनुअल रिपोर्ट के अनुसार कॉग्निजेंट के टोटल 347,700 एम्प्लॉयीज में से लगभग 254,000 भारत में हैं, जो इस देश को इसका सबसे बड़ा टैलेंट बेस बनाता है। बताते चलें कि टीसीएस, इन्फोसिस, विप्रो और एचसीएल टेक ने भी अपनी वर्क फ्रॉम पॉलिसी को रिलीज कर दिया है। टीसीएस ने तो 31 मार्च से तीन दिन वर्क फ्रॉम ऑफिस को अनिवार्य कर दिया है और इसका पालन न करने पर बुरे परिणाम की भी वॉर्निंग दे दी है। 

(Photo: seekingalpha)

ऐप पर पढ़ें