Hindi Newsगैजेट्स न्यूज़apple vision pro was durable in extreme drop test but there is what happened watch video - Tech news hindi

₹3 लाख कीमत वाला Apple Vision Pro है कितना मजबूत, वीडियो देखकर हैरान रह जाएंगे

ऐपल ने बीते दिनों अपना नया प्रीमियम प्रोडक्ट Apple Vision Pro लॉन्च किया है। इस हेडसेट की कीमत 3 लाख रुपये के करीब है और इसकी मजबूती से जुड़े ड्रॉप टेस्ट का मजेदार वीडियो यूट्यूब पर सामने आया है।

Pranesh Tiwari लाइव हिन्दुस्तान, नई दिल्लीSat, 3 Feb 2024 02:57 PM
हमें फॉलो करें

कैलिफोर्निया की टेक कंपनी Apple की ओर से नया इनोवेटिव प्रोडक्ट Apple Vision Pro लॉन्च किया गया है। इस डिवाइस को वर्चुअल रिएलिटी (VR) हेडसेट जैसा डिजाइन जरूर दिया गया है लेकिन ऐपल इसे VR से जोड़ने के बजाय स्पेशल कंप्यूटिंग डिवाइस कह रहा है, जिसके साथ हवा में ऐप्स और कंटेंट ऐक्सेस किया जा सकेगा। अब एक यूट्यूबर ने इसका ड्रॉप-टेस्ट किया है। 

टेक रिव्यूअर सैम कोल (Sam Kohl) ने Apple Track चैनल पर नए प्रीमियम ऐपल डिवाइस का ड्रॉप टेस्ट शेयर किया है और जानने की कोशिश की है कि यह कितना मजबूत है। उन्होंने शुरुआत में ही पाया कि Apple Vision Pro की मैग्नेटिक लाइट सील आसानी से अलग हो जाती है, इसलिए बेहतर है कि डिवाइस को स्ट्रैप या बैंड से ही पकड़ा जाए। लाइट सील का काम यूजर्स को इमर्सिव अनुभव देने के लिए बाहरी लाइट आंखों तक पहुंचने से रोकना है। 

घर की चीजों से टकराने पर क्या होगा?
सैम ने अपने टेस्ट की शुरुआत में हेडसेट आंखों पर पहनने के बाद घर की अलग-अलग चीजों से टकराकर देखा। ऐसा अक्सर होता है जब VR हेडसेट पहनकर वर्चुअल दुनिया में कोई गेम खेल रहे यूजर्स किसी दीवार, अलमारी या  दूसरी चीज से टकरा जाते हैं। इस टेस्ट के दौरान Apple Vision Pro के फ्रंट ग्लास पर कोई असर नहीं पड़ा और डिवाइस को कोई नुकसान नहीं पहुंचा। 

कई बार गिराने पर भी नहीं टूटा ग्लास
Apple Vision Pro का पूरा फ्रेम एल्युमिनियम का बना है और सामने का हिस्सा ग्लास का है। यह बड़ा ग्लास देखने में भले ही कमजोर लगता हो लेकिन टेस्ट के दौरान इसकी मजबूती साबित हुई। 6 फीट तक की ऊंचाई से इसे कई बार गिराने पर भी ग्लास नहीं टूटा, हालांकि इसके एक स्पीकर ने काम करना बंद कर दिया। सामने आया कि ग्लास के मुकाबले स्पीकर के पास वाला बैंड का हिस्सा कमजोर है। 

बिना फ्रंट ग्लास के भी करता रहा काम
अलग-अलग ऊंचाई से Vision Pro को 7 बार गिराने पर भी फ्रंट ग्लास नहीं टूटा और डिवाइस काम करता रहा। आखिर में 8वीं बार करीब 10-12  फीट की ऊंचाई से डिवाइस तेजी से गिराने पर डिवाइस का फ्रंट ग्लास टूटा लेकिन इसे हाथ से आसानी से निकाला जा सका। मजेदार बात यह है कि फ्रंट ग्लास निकालने के बाद भी Vision Pro काम करता रहा। पता चला कि बाहरी ग्लास कवर ना लगा हो तब भी डिवाइस ठीक से काम करेगा।

नीचे देख सकते हैं टेस्ट का पूरा वीडियो

ऐप पर पढ़ें