फोटो गैलरी

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ गैजेट्सiPhone और iPad यूजर्स की बढ़ सकती है परेशानी, ज्यादा प्रॉफिट के लिए कंपनी की बड़ी प्लानिंग

iPhone और iPad यूजर्स की बढ़ सकती है परेशानी, ज्यादा प्रॉफिट के लिए कंपनी की बड़ी प्लानिंग

आईफोन यूजर्स को अब फोन यूज करते वक्त ऐड भी देखने पड़ सकते हैं। कंपनी अपने ऐनुअल रेवेन्यू को बढ़ाने के लिए ऐसा कर सकती है। ये ऐड मेन टुडे टैब के साथ थर्ड पार्टी ऐप डाउनलोड पेजेस में भी दिख सकते हैं।

iPhone और iPad यूजर्स की बढ़ सकती है परेशानी, ज्यादा प्रॉफिट के लिए कंपनी की बड़ी प्लानिंग
Prashant Singhलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीMon, 15 Aug 2022 10:39 AM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

अगर आप iPhone यूज करते हैं, तो आपको अब थोड़ी परेशानी हो सकती है। हाल में आई एक रिपोर्ट के अनुसार ऐपल iPhone और iPad पर पहले से ज्यादा ऐड (विज्ञापन) दिखाने की तैयारी कर रहा है। ब्लूमबर्ग के मार्क गुरमैन के अनुसार ऐपल के ऐडवर्टाइजिंग प्लैटफॉर्म्स के वाइस प्रेसिडेंट टेरेसी कंपनी के रेवेन्यू को बढ़ाने के लिए ऐसा कर सकते हैं। टेरेसी ऐपल के रेवेन्यू को डबल डिजिट में पहुंचाने का टारगेट लेकर चल रहे हैं। अभी ऐपल का ऐनुअल रेवेन्यू करीब 4 बिलियन डॉलर का है। ऐपल ने अपने मैप्स ऐप में सर्च ऐड्स की टेस्टिंग भी शुरू कर दी है। आने वाले दिनों में इसकी टेस्टिंग ऐपल बुक्स और ऐपल पॉडकास्ट्स के लिए भी की जा सकती है।

सर्च रिजल्ट में ऊपर दिखने के लिए देने होंगे पैसे
ऐपल अभी अपने ऐप स्टोर्स में ऐड दिखाता है। ऐप स्टोर के सर्च पेज में ऐप्स को प्रमोट करने के लिए डिवेलपर्स ऐपल को पैसे भी देते हैं। रिपोर्ट के अनुसार ऐपल इसी ऐडवर्टाइजिंग मॉडल को अपने मैप्स ऐप में भी शुरू करने की सोच रहा है। इसी तरह आने वाले दिनों में बुक्स और पॉडकास्ट ऐप के सर्च में ऊपर दिखने के लिए भी पब्लिशर्स को पैसे देने पड़ सकते हैं। 

मेन टुडे टैब औप थर्ड पार्टी ऐप डाउनलोड में भी दिखेंगे ऐड
गुरमैन के अनुसार ऐपल ऐप स्टोर को कुछ हफ्तों में टुडे टैब और ऐप डाउनलोड पेजेस तक बढ़ाया भी जा सकता है। अभी ऐपल ऐप स्टोर के सजेस्टेड पैनल में दिए गए सर्च टैब में ऐड दिखते हैं। कुछ दिनों में ऐपल इन ऐड्स को मेन टुडे टैब के साथ ही थर्ड पार्टी ऐप डाउनलोड पेजेस में भी डिस्प्ले कर सकता है। 

यह भी पढ़ें: Oppo के लेटेस्ट 5G हैंडसेट पर 3 हजार रुपये का डिस्काउंट, पुराने फोन के बदले 20 हजार रुपये तक का फायदा

ऐप ट्रैकिंग ट्रंसपेरेंसी फीचर ने बढ़ाई मुश्किल
ऐपल ने iOS 14.5 में इस फीचर को लॉन्च किया था। इस फीचर की मदद से यूजर यह तय कर सकते हैं कि फोन में मौजूद ऐप उन्हें दूसरे प्लैटफॉर्म या वेबसाइट पर ट्रैक कर सकते हैं या नहीं। यह फीचर यूजर्स के लिए बड़े काम का साबित हुआ, लेकिन दूसरे बिजनस को इससे काफी नुकसान हुआ। एक रिपोर्ट के अनुसार छोटे बिजनस के रेवेन्यू में ऐपल ऐप ट्रैकिंग फीचर के कारण 13 प्रतिशत की कमी आई है। वहीं, दूसरी तरह रिसर्च फर्म Omdia के अनुसार पिछले साल ऐपल का ऐडवर्टाइजिंग बिजनस 238% की बढ़ोतरी के साथ 3.7 बिलियन डॉलर का हो गया।  

(Photo: Toms Guide)

epaper