फोटो गैलरी

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ गैजेट्सiPhone के बाद अब iPad की बारी! Apple कर रही चीन से बोरिया–बिस्तर समेटने की तैयारी

iPhone के बाद अब iPad की बारी! Apple कर रही चीन से बोरिया–बिस्तर समेटने की तैयारी

रिपोर्ट में यह भी दावा किया गया है कि एप्पल अपने आईपैड प्रोडक्शन को चीन से इंडिया लाने के लिए कई विकल्पों पर विचार कर रहा है। हालांकि इसके बारे में कंपनी ने कोई ऑफिशियल स्टेटमेंट अब तक नहीं दिया है।

iPhone के बाद अब iPad की बारी! Apple कर रही चीन से बोरिया–बिस्तर समेटने की तैयारी
Ashutosh Kumarलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीTue, 06 Dec 2022 11:20 AM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

स्मार्टफोन बनाने वाली ग्लोबल कंपनी एप्पल (Apple), आईफोन (iPhone) के बाद अब इंडिया में आईपैड (iPad) मैन्युफैक्चरिंग करने की तैयारी में है। आपको बता दें की एप्पल अपने सप्लाई चेन में विविधता लाने के लिए आईफोन के प्रोडक्शन को चीन से इंडिया शिफ्ट कर रहा है। CNBC की एक रिपोर्ट के अनुसार एप्पल, चीन से अपने प्रोडक्शन का 30 पर्सेंट मैन्युफैक्चरिंग हटाकर इंडिया लाने की तैयारी में है। इसी रिपोर्ट में यह भी दावा किया गया है कि एप्पल अपने आईपैड प्रोडक्शन को चीन से इंडिया लाने के लिए कई विकल्पों पर विचार कर रहा है। हालांकि इसके बारे में कंपनी ने कोई ऑफिशियल स्टेटमेंट अब तक नहीं दिया है।

यह भी पढ़ें-LIC ने लॉन्च किया WhatsApp service; अब घर बैठे चेक करें पॉलिसी स्टेटस और प्रीमियम डिटेल्स, ऐसे करें प्रोसेस

iPhone 14 की मैन्युफैक्चरिंग चेन्नई में करने जा रही एप्पल
हाल ही में एप्पल ने बताया है कि वह अपने न्यूली लॉन्च्ड iPhone 14 की मैन्युफैक्चरिंग चेन्नई में शुरू करने जा रही है। कंपनी ने अपनी ऑफिसियल स्टेटमेंट में कहा है कि हम iPhone 14 की इंडिया में मैन्युफैक्चरिंग शुरू करने के लिए उत्साहित हैं। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि एप्पल पहले से ही इंडिया में iPhone 13, iPhone 12 और iPhone SE की मैन्युफैक्चरिंग कर रही है। इससे पहले चीन के फॉक्सकॉन प्लांट और एप्पल की जारी अनबन के कारण iPhone 14 Pro मॉडल के प्रोडक्शन में कमी काफी कमी आई है।

यह भी पढ़ें-वीवो के धमाकेदार फोन की इंडिया में एंट्री! ₹9000 से कम में मिलेगी 5000mAh की बैटरी

20,000 कर्मचारियों ने छोड़ा चाइना में स्थित फॉक्सकॉन प्लांट
हाल ही में चाइना के फॉक्सकॉन प्लांट की खराब वर्किंग कंडीशन के कारण 20,000 की संख्या में कर्मचारियों ने काम करना बंद कर दिया। इसके बाद फॉक्सकॉन ने प्रोटेस्ट को खत्म करने के लिए नए हायर किए गए वर्कर को 14,000 डॉलर देने की पेशकश की है। CNN की रिपोर्ट के अनुसार एप्पल ने अपने सभी वर्कर को काम पर वापस लौटने के लिए कहा है। शुरुआत में वर्कर प्लांट के खराब वर्किंग कंडीशन के कारण नाखुश थे लेकिन यह आगे चलकर प्रोटेस्ट में बदल गया।

(फोटो क्रेडिट-unsplash.com)