Hindi Newsगैजेट्स न्यूज़google has highlighted common mistakes of users which can lead to online fraud

ऑनलाइन फ्रॉड्स से बचने के लिए मान लें Google की बात, न करें ऐसी गलती

हैकर नए-नए तरीके से यूजर्स को ठग रहे हैं। ये साइबर क्रिमिनल ईमेल, सोशल मीडिया या एसएमएस भेज कर यूजर्स को अपने जाल में फंसाते हैं। बढ़ते खतरे को देखते हुए गूगल ने यूजर्स की कुछ आम गलतियों के बारे में बताया है, जिन्हें अवॉइड करके साइबर फ्रॉड से बचा जा सकता है।

hacker
Kumar Prashant Singh लाइव हिन्दुस्तानSun, 2 June 2024 01:24 PM
हमें फॉलो करें

ऑनलाइन फ्रॉड्स का खतरा आजकल काफी बढ़ गया है। हैकर नए-नए तरीके से यूजर्स को ठग रहे हैं। ये साइबर क्रिमिनल ईमेल, सोशल मीडिया और एसएमएस भेज कर यूजर्स को अपने जाल में फंसाते हैं। जालसाज बड़ी चालाकी से यूजर्स को फेक लिंक भेज कर उनके डिवाइस में मैलवेयर की एंट्री करा देते हैं। ये मैलवेयर हैकर को यूजर के फोन का पूरा ऐक्सेस दे देता है। ऐसा होने पर हैकर के पास फोन में मौजूद डेटा के साथ ऑनलाइन बैंकिंग के डीटेल भी पहुंच जाते हैं। इनका फायदा उठा कर स्कैमर यूजर्स को बड़ा नुकसान पहुंचा सकते हैं। बढ़ते खतरे को देखते हुए गूगल (Google) ने यूजर्स की कुछ आम गलतियों के बारे में बताया है, जिन्हें अवॉइड करके साइबर फ्रॉड से बचा जा सकता है।

बार-बार न यूज करें एक ही पासवर्ड
ऑनलाइन सेफ्टी के लिए सबसे जरूरी है कि आप अपने पासवर्ड को यूनीक रखें ताकि कोई उसे आसानी से क्रैक न कर सके। साथ ही गूगल ने यूजर्स को सलाह दी है कि वे अलग-अलग अकाउंट्स के लिए एक ही पासवर्ड को न यूज करें। ऐसा करना खतरनाक हो सकता है क्योंकि एक जैसा पासवर्ड डेटा ब्रीच में आपसे सभी अकाउंट्स का ऐक्सेस एक बार में हैकर को दे देता है। गूगल ने कहा है कि यूजर्स को पासवर्ड मैनेजर के जरिए हर अकाउंट के लिए यूनीक पासवर्ड सेट करना चाहिए।

सॉफ्टवेयर अपडेट न करना
डेटा लीक के खतरे को देखते हुए कंपनियां समय-समय पर डिवाइसेज के लिए सिक्योरिटी पैच रोलआउट करती हैं। इन अपडेट्स को इंस्टॉल न करना यूजर्स की बड़ी गलती साबित हो सकती है। गूगल के अनुसार इन अपडेट्स को बिना समय गंवाए तुरंत फोन में इंस्टॉल कर लेना चाहिए। ऐसा करने से काफी हद तक साइबर अटैक से बचा जा सकता है।

स्क्रीन लॉक पर दें ध्यान
फोन में स्क्रीन लॉक का रोल काफी अहम होता है। यह आपके डिवाइस को गलत ऐक्सेस से बचाने के लिए बेहद जरूरी है। गूगल ने यूजर्स से कहा है कि फोन का स्कीन लॉक कठिन रखना चाहिए, ताकि आसानी से कोई उसे खोल न सके। कई बार यूजर 1234 जैसे लॉक को सेट कर देते हैं, जिसे क्रैक करना बाएं हाथ का खेल होता है। इसके अलावा आप फोन में फिंगरप्रिंट लॉक का भी इस्तेमाल कर सकते हैं।

पासवर्ड रिकवरी प्लान है जरूरी
कई बार यूजर अकाउंट्स के यूजरनेम और पासवर्ड को भूल जाते हैं। ऐसा होने पर आप हमेशा के लिए अपने अकाउंट का ऐक्सेस खो सकते हैं। इससे बचने के लिए गूगल ने यूजर्स को रिकवरी ईमेल और फोन को सेट करने की सलाह दी है, ताकि फिर से अकाउंट को ऐक्सेस किया जा सके।

टू-फैक्टर ऑथेंटिकेशन
अकाउंट्स, ऐप्स और दूसरी सर्विसेज के लिए सिक्योरिटी का अडिशनल लेयर काफी सही रहता है। इसके लिए टू-फैक्टर ऑथेंटिकेशन बेस्ट है। यह आपको कई सारे साइबर अटैक से सेफ रखता है। ऐसे में फोन के गलत ऐक्सेस को रोकने के लिए फोन में तुरंत इस फीचर को इनेबल करें।

वॉट्सऐप लाया फोटो और वीडियो शेयरिंग के लिए तगड़ा फीचर, लंबे समय से था इंतजार

न करें अनजान लिंक पर क्लिक
इसके अलावा बेहतर होगा कि आप ईमेल, एसएमएस, वॉट्सऐप या किसी दूसरे सोशल मीडिया प्लैटफॉर्म पर रिसीव हुए अनजान लिंक को क्लिक न करें। गूगल ने यूजर्स को Enhanced Safe browsing फीचर को इनेबल करने की सलाह दी है। यह रियल टाइम में फिशिंग साइट्स से यूजर्स को अलर्ट करता है।

लेटेस्ट   Hindi News,   बॉलीवुड न्यूज,  बिजनेस न्यूज,  टेक ,  ऑटो,  करियर ,और   राशिफल, पढ़ने के लिए Live Hindustan App डाउनलोड करें।

ऐप पर पढ़ें