DA Image

अगली स्टोरी

सर्बानंद सोनोवाल

सर्बानंद सोनोवाल वर्तमान में असम के 14  वें मुख्यमंत्री हैं। 2014  के चुनावों में वे असम की लखीमपुर सीट से भारतीय जनता पार्टी के टिकट पर चुनाव लड़कर निर्वाचित हुए थे।  केंद्रीय मंत्रिमंडल में उन्हें खेल एवं युवा मामलों के राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) का पद दिया गया। मई 2016  में हुए असम विधानसभा चुनाव में पार्टी के विजयी होने के बाद उन्होंने 24  मई को मुख्यमंत्री पद की शपथ ली। उन्हें लोकप्रिय रूप से एक  तेजतर्रार और गतिशील युवा राजनेता और असम के जातिया नायक के रूप में भी जाना जाता है।

प्रारंभिक जीवन-

सर्बानंद सोनोवाल असम गण परिषद के स्टूडेंट विंग ऑल असम स्टूडेंट यूनियन और पूर्वोत्तर के नॉर्थ ईस्ट स्टूडेंट्स यूनियन के अध्यक्ष रह चुके हैं। वर्ष 2001 में वे असम गण परिषद के उम्मीदवार के रूप में सर्वप्रथम विधानसभा के सदस्य निर्वाचित हुए तथा वर्ष 2004 में पहली बार लोक सभा के सदस्य निर्वाचित हुए।

मोरान से विधायक और बाद में डिब्रूगढ़ और लखीमपुर से सांसद रहने के साथ ही वे असम में गृह मंत्री और उद्योग-वाणिज्य मंत्री का नेतृत्व संभाल चुके हैं। वे निजी तौर पर फुटबॉल और बैडमिंटन के खिलाड़ी भी रहे हैं। वर्ष 2011 में वे असम गण परिषद से अलग हो गए तथा भारतीय जनता पार्टी से जुड़ गए। उनके बीजेपी में आते ही उन्हें कार्यकारिणी सदस्य बनाया गया और वे असम बीजेपी के प्रवक्ता भी रहे।

वे वर्ष 2012 और 2014 में दो बार असम भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष रहे। 2014 में संपन्न 16 वें लोकसभा के चुनाव में वे लखीमपुर से भाजपा के उम्मीदवार के रूप में निर्वाचित हुए। नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाले केंद्रीय मंत्रीमंडल में उन्हें खेल एवं युवा मंत्रालय, भारत सरकार के अंतर्गत खेल एवं युवा मामलों के राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) का पद दिया गया था। केंद्रीय खेल मंत्री के रूप में इनका कार्यकाल 26 मई 2014 से 23 मई 2016 तक रहा।

बांग्लादेशी नागरिकों को अवैध रूप से भारत में आने से रोकने के लिए इंलीगल माइग्रैंड्स डिटर्मिनेशन बाई ट्राइब्युनल एक्ट 1983 अस्तित्व में आया। इस एक्ट के अनुसार असम में अवैध रूप से रह रहे बांग्लादेशी नागरिकों को असम में रहने की अनुमति दी गयी थी। उन्होंने असम में बांग्लादेशी घुसपैठ मामले को सुप्रीम कोर्ट तक ले जाने की अगुवाई की और कोर्ट ने इस एक्ट को खत्म करने का आदेश दिया। कोर्ट ने इस कानून को गलत ठहराया और बांग्लादेशी नागरिकों को असंवैधानिक करार दिया।

जन्म तिथि : 31 अक्टूबर 1962, मोलोक गांव, जिला डिब्रूगढ़ असम

शिक्षा डिब्रूगढ़ यूनिवर्सिटी से अंग्रेजी विषय में स्नातक करने के बाद गुवाहाटी यूनिवर्सिटी से एलएलबी में स्नातक की।

  • 1478
  • of
  • 174349

माफ़ कीजिए आप जो खबर ढूंढ रहे हैं , वह उपलब्ध नहीं है

  • 1478
  • of
  • 174349

माफ़ कीजिए आप जो खबर ढूंढ रहे हैं , वह उपलब्ध नहीं है

  • 1478
  • of
  • 174349

जब पप्पू की रोटी के ऊपर से गुजरा चूहा

पप्पू डिनर करने बैठा, तभी उसकी रोटी के ऊपर से चूहा गुजर गया..

फेकू: मुझे नहीं खानी चूहे के पैर से रौंदी हुई यह रोटी..

पप्पू: खाले यार... कौन सा चूहे ने चप्पले पहन रखीं थीं..