DA Image

अगली स्टोरी

नितिन गडकरी

नितिन गडकरी भारत सरकार में सड़क परिवहन और राजमार्ग, जहाज़रानी, जल संसाधन, नदी विकास और गंगा संरक्षण मंत्री हैं। इससे पहले 2010-2013 तक वे भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष रहे हैं। 52 वर्ष की आयु में भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष बनने वाले वे इस पार्टी के सबसे कम उम्र के अध्यक्ष थे। गडकरी ने 2014 का लोकसभा चुनाव नागपुर से जीता।
प्रारंभिक जीवन

नितिन गडकरी ने 1976 में नागपुर विश्वविद्यालय में भाजपा की छात्र शाखा अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद से अपने राजनीतिक जीवन की शुरुआत की। बाद में वह 23 साल की उम्र में भारतीय जनता युवा मोर्चा के अध्यक्ष बने। 

राजनीतिक सफर

1995 में वे महाराष्ट्र में शिव सेना-भारतीय जनता पार्टी की गठबंधन सरकार में लोक निर्माण मंत्री बनाए गए और चार साल तक मंत्री पद पर रहे। मंत्री के रूप में वे अपने अच्छे कामों के कारण प्रशंसा में रहे। 1989 में वे पहली बार विधान परिषद के लिए चुने गए। वे  20 वर्ष विधान परिषद के सदस्य रहे हैं और आखिरी बार 2008 में विधान परिषद के लिए चुने गए। वे महाराष्ट्र विधान परिषद में विपक्ष के नेता भी रहे हैं। उन्होंने अपनी पहचान ज़मीन से जुड़े एक कार्यकर्ता के तौर पर बनाई है। इस अवधि में वे अनेक जिम्मेदारी वाले पदों पर आसीन रहे।

सफल उद्यमी

वे राजनेता के साथ-साथ एक कृषक और एक सफल उद्योगपति भी हैं। उनका जन्म महाराष्ट्र के नागपुर ज़िले में एक ब्राह्मण परिवार में हुआ। गडकरी एक बायो-डीज़ल पंप, एक चीनी मिल, एक लाख 20 हजार लीटर क्षमता वाले इथानॉल ब्लेन्डिंग संयत्र, 26 मेगावाट की क्षमता वाले बिजली संयंत्र, सोयाबीन संयंत्र और को-जनरेशन ऊर्जा संयंत्र से जुड़े हैं।

जन्म तिथिः 27 मई, 1957

शिक्षाः वे नागपुर यूनिवर्सिटी से कॉमर्स में स्नातकोत्तर हैं इसके अलावा उन्होंने कानून तथा बिजनेस मैनेजमेंट की पढ़ाई भी की है। 

  • 1
  • of
  • 179162

माफ़ कीजिए आप जो खबर ढूंढ रहे हैं , वह उपलब्ध नहीं है

  • 1
  • of
  • 179162

माफ़ कीजिए आप जो खबर ढूंढ रहे हैं , वह उपलब्ध नहीं है

  • 1
  • of
  • 179162

पप्पू को कोई मरने नहीं देता

पप्पू परेशान होकर अपने फेकू से: कहां मरूं मैं, कोई मरने ही नहीं देता.. 

फेकूः क्यों क्या हुआ? 



पप्पूः किसी लड़की को बोलता हूं कि तुम पर मरता हूं तो ब्लॉक कर देती हैं।