Hindi Newsमनोरंजन न्यूज़टीवीTeri Meri Doriyaann 16 February Sahiba health worsened due to Seerat

Teri Meri Doriyaann 16 Feb: सीरत की वजह से और बिगड़ी साहिबा की तबीयत, वीर ने अंगद से बोला झूठ

तेरी मेरी डोरियां में सीरत लगातार साजिशें बना रही है। उसकी वजह से साहिबा की तबीयत और बिगड़ती जा रही है। उसे अजीब-अजीब चीजें दिखने लगती हैं।

Shrilata लाइव हिन्दुस्तानFri, 16 Feb 2024 03:46 PM
हमें फॉलो करें

तेरी मेरी डोरियां के 16 फरवरी के एपिसोड में देखेंगे कि अंगद को लगता है साहिबा की तबीयत ठीक नहीं है। मनवीर उसे भड़काएगी साहिबा नाटक कर रही है और वह मजबूरी में यहां आई है। अंगद को अपनी मां की बात ठीक नहीं लगेगी। वह उन्हें टोकेगा कि वह इस बार गलत बोल रही हैं। दूसरी तरफ साहिबा अपने कमरे में बैठकर सोच रही है वह छत पर कब गई थी उसे कुछ याद नहीं आ रहा है। तभी जसलीन भी वहां आ जाएगी और बताएगी उसे रेलिंग पर देखकर डर गई थी। साहिबा को याद नहीं आता कि वह कब छत पर गई थी। वह उसे चले जाने के लिए कहेगी क्योंकि अगर अकाल और जबज्योत को पता चल गया तो उन्हें अच्छा नहीं लगेगा।

गैरी ने रखा कीरत का ख्याल

कीरत कमरे में बैठकर रो रही होती है। इस बीच गैरी उसे फोन करता है। उसका किसी से बात करने का मन नहीं है तो गैरी उसे समझाता है जो भी उसके दिल में है उसे बता देना चाहिए। वह हमेशा उसके साथ खड़ा है और कभी अकेला ना समझे। वह उसके लिए पराठा पैक कराकर खिड़की के पास रख देता है। उसने सुबह से कुछ नहीं खाया तो खाने की गुजारिश करेगा। यह देखकर कीरत इमोशनल हो जाती है।

अंगद ने वीर से पूछा सवाल

वीर नशे में डूबा हुआ है। अंगद उसके कमरे में आता है और बीती रात के बारे में पूछता है। सवाल सुनकर वीर के होश उड़ जाते हैं। अंगद उससे दोबारा पूछता है क्या वाकई कीरत ने धोखा दिया? वीर बताता है उसने कीरत को होटल बुलाया था लेकिन वह आई नहीं थी और गैरी से मिलने चली गई थी। वीर रोने लगता है तो यह देखकर अंगद भी कन्फ्यूज हो जाता है। उसे समझ नहीं आता किसकी बातों पर भरोसा करे।

सीरत की साजिश

अगले दिन साहिबा सुबह उठती है तो सीरत उसके कमरे में पानी का कैन रखवा देती है। सीरत ने कभी भी साहिबा का भला नहीं चाहा। वह पानी में उसे कुछ मिलाकर देती है जिसे पीने के बाद साहिबा की तबीयत और खराब होने लगती है। सीरत इसमें किसी एक शख्स की मदद लेती है जो उसे वह पाउडर लाकर देता है जिसे वह पानी में मिलाती है। शख्स का चेहरा रिवील नहीं किया जाता।

साहिबा की बिगड़ी तबीयत

पानी पीने के बाद साहिबा को चक्कर आने लगता है। उसे ऐसे लगता है जैसे सबकुछ घूम रहा है। वह अपने कमरे से बाहर निकलती है तो उसे लगता है जैसे दीवारें उसकी ओर बढ़ रही हैं। सीरत दूर से उसे देखती है। उसने जो पाउडर मिलाकर दिया उसका असर दिखने लगा है। साहिबा किसी तरह वहां से निकलकर बाहर आती है। वह देखती है अंगद वहां पर खड़ा है। साहिबा को लगता है अंगद के पास की दीवार गिरने वाली है वह उसे हटने के लिए कहेगी। इस बीच सभी घरवाले वहां इकट्ठा हो जाते हैं।

ऐप पर पढ़ें