फोटो गैलरी

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ मनोरंजन टीवीजेल पहुंचा उर्फी जावेद को ब्लैकमेल करने वाला कास्टिंग डायरेक्टर! एक्ट्रेस से की थी वीडियो सेक्स की डिमांड

जेल पहुंचा उर्फी जावेद को ब्लैकमेल करने वाला कास्टिंग डायरेक्टर! एक्ट्रेस से की थी वीडियो सेक्स की डिमांड

उर्फी जावेद ने कुछ दिनों पहले एक पोस्ट लिखकर बताया था कि एक शख्स उन्हें ब्लैकमेल कर रहा है। उर्फी ने उसका नाम नहीं बताया लेकिन बाद में पता चला कि आरोपी शख्स कास्टिंग डायरेक्टर है।

जेल पहुंचा उर्फी जावेद को ब्लैकमेल करने वाला कास्टिंग डायरेक्टर! एक्ट्रेस से की थी वीडियो सेक्स की डिमांड
Shrilataलाइव हिंदुस्तान,मुंबईTue, 16 Aug 2022 02:58 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

उर्फी जावेद ने एक पोस्ट लिखकर बताया था कि एक शख्स उन्हें दो सालों से परेशान कर रहा है। उर्फी ने चैट भी शेयर किया था। उन्होंने दावा किया कि शख्स उनसे वीडियो सेक्स के लिए कह रहा था। उन्होंने उसकी फोटो शेयर की और बताया कि वह पंजाबी इंडस्ट्री में काम करता है। उर्फी ने उस शख्स का नाम नहीं बताया। बाद में पता चला कि उर्फी ने जिसकी फोटो शेयर की है वह कास्टिंग डयरेक्टर है और उसका नाम ओबेद अफरीदी है। मामले में लेटेस्ट जानकारी ये है कि अब आरोपी सलाखों के पीछे पहुंच गया है।

उर्फी ने की थी एफआईआर


दरअसल, उर्फी ने बताया था कि उन्होंने 2 साल पहले इस मामले में पुलिस में शिकायत की थी। उन्होंने दो हफ्ते पहले गोरेगांव पुलिस स्टेशन में एफआईआर दर्ज करवाई। उर्फी ने निराशा जाहिर की थी कि इतने दिन बीत जाने के बाद भी पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की। अब जब आरोपी जेल के पीछे पहुंच गया है तो उर्फी ने एक पोस्ट लिखकर इसकी जानकारी ने दी। 

पोस्ट की शेयर


उर्फी ने कहा, ‘गुड न्यूज, छेड़खानी करने वाला शख्स अब सलाखों के पीछ है। थैंक्यू मुंबई पुलिस।‘ उन्होंने अपने पोस्ट में मुंबई पुलिस को टैग किया है।

 

कास्टिंग डायरेक्टर ने आरोपों को बताया था गलत


इससे पहले ओबेद अफरीदी ने हिन्दुस्तान टाइम्स से बात करते हुए कहा, ‘यह फेक है। ना तो मेरा नाम दिख रहा है और ना ही नंबर। मैं उसके साथ बहस नहीं करना चाहता क्योंकि उसके पास दिमाग ही नहीं है। मुझे अपनी जिंदगी में शांति चाहिए। हमने पहले काम किया हुआ है और सबकुछ अच्छा था। पैसों को लेकर कुछ इश्यूज थे जिस वजह से उसने ये सब शुरू किया। मुझे अभी तक किसी से कोई कानूनी नोटिस नहीं मिला है।‘
 

epaper