Hindi Newsमनोरंजन न्यूज़टीवीGhum Hai Kisikey Pyaar Meiin 17 February 2024 Aaj Ka Full Episode Written Update Yashwant Ishan Savi Riva

GHKKPM 17 Feb: सवि के सामने खुल गया ईशान के सीक्रेट रूम का राज! कहा- मैं अपने दुश्मनों को यहीं पर लाकर...

  • GHKKPM Aaj Ka Episode: दूर्वा अपनी मां अंग्रेजी और उनके बनाए खाने को लेकर उनकी बेइज्जती करती है। ये देखकर सवि उसे जमकर सुनाती है कि तभी अक्का साहेब दूर्वा का ही साथ देती हैं।

Priti Kushwaha लाइव हिन्दुस्तानSat, 17 Feb 2024 04:17 PM
हमें फॉलो करें

GHKKPM: स्टार प्लस की मोस्ट पॉपुलर सीरियल गुम है किसी के प्यार में सवि और ईशान के बीच का रिश्ता अब धीरे-धीरे सुधरता नजर आ रहा है। उधर रीवा भी पूरी कोशिश कर रही है कि वो ईशान के करीब रहने का कोई भी मौका हाथ से जाने ना दे। ऐसे में बीते बीते एपिसोड में दिखाया गया कि ईशान सवि को अपना सीक्रेट रूम दिखाता है, जिसे देखकर वो काफी हैरान रह जाती है।

ईशान की बात सुन घबराई सवि

ईशान सवि को अपना सीक्रेट रूम दिखाता है और उसके साथ मजाक करता है। दरअसल, सवि जब ईशान से कहती है कि आप बैटमैन हो क्या? ये सीक्रेट रूम किस लिए। ये सुनकर ईशान कहता है मैं एक सीक्रेट लाइफ जी रहा हूं, ध्यान रखना मेरी किसी भी चीज को हथियार को हाथ मत लगाना। तुम्हारा शक बिल्कुल सही निकला मैं एक बैटमैन हूं। मैं यहीं पर अपने दुश्मनों को लाकर मारता हूं, इसलिए तुम्हे भी लेकर आया हूं। ये सुनते ही सवि के हाथ पैर फूल जाते हैं। उसकी हालत देखकर ईशान की हंसी निकल जाती है वो कहता है कि मजाक कर रहा हूं।

अक्का साहेब की डांट से छुपने के लिए अच्छी जगह

इसके बाद ईशान सवि को बताता है कि ये उसकी लाइब्रेरी है। वो यहां पर आकर पढ़ता है और अब से वो यहीं पर सोएगा ताकि सवि को दिक्कत ना हो। ये सुनते ही सवि कहती है कि ये छुपने के लिए अच्छी जगह है। अक्का साहेब के लेक्चर से बचने के लिए यहीं आते होंगे ना। इसके बाद सवि जाते-जाते दरवाजा बंद करती है तो ईशान कहता है कि इसे बंद मत करो क्योंकि मेरे कपड़े वहीं पर हैं। इसके बाद ईशान सवि पर लगातार नजर रखता है।

दूर्वा ने की अपनी मां की बेइज्जती

दूर्वा के लिए उसकी मां ने नाश्ता बताया था, जिसे वो डस्टबिन में फेंक देती है। ये देखकर उसकी मां कहती हैं कि ये क्या। इस पर वो कहती है कि मैं आपकी खराब इंग्लिश झेल सकती हूं, लेकिन खराब खाना नहीं। एक ही तो काम है आप लोगों के पास वो भी नहीं करती। मेरे लिए ओट्स और स्मूदी बना दीजिए। सवि दूर्वा की इन हरकतों को देखकर बोलती है अगर तुम इनकी इंग्लिश झेल रही हो तो ये तुम्हारी बदतमीजी झेल रही हैं। अगर बचपन में इन्होंने तुम्हे एक खींच कर लगाया होता तो आज तुम ऐसे बात नहीं कर रही होती। इस पर अक्का साहेब आती हैं और सवि से कहती हैं कि तुम होती कौन हो दूर्वा से ऐसे बात करने वाली। ये उसका घर है और तुम यहां पर मेहमान हो बस।

ऐप पर पढ़ें