Hindi Newsमनोरंजन न्यूज़टीवीAnupamaa 18 April Episode Written Update Bapuji asked anupama about her third marriage with yashdeep

Anupamaa 18 April: अनुपमा से यशदीप के बारे में पूछेंगे बापूजी, अपनी तीसरी शादी पर बात करेगी अनु

Anupamaa Today's Episode: अनुपमा नम आंखों से शाह परिवार को विदा करेगी। पढ़िए आज के एपिसोड में दिखाए गए सीन्स के बारे में।

Vartika Tolani लाइव हिन्दुस्तानThu, 18 April 2024 03:56 PM
हमें फॉलो करें

टीवी सीरियल की शुरुआत में अनुपमा, बापूजी से बात करेगी। वह कहेगी, ‘छोटी की खुशी अनुज और श्रुति के साथ है। मैं उससे उसकी खुशी कभी नहीं छीनूंगी बापूजी। कभी भी नहीं। बस शादी तक थोड़ी तकलीफ होगी उसके बाद मन शांत हो जाएगा।’ अनुपमा, बापूजी से वादा करेगी कि वह अपने आपको बहुत बिजी रखेगी ताकी उसे बुरा न लगे। इसके बाद बापूजी, बातों ही बातों में अनुपमा से यशदीप के बारे में बात करेंगे।

अनुपमा से सवाल करेंगे बापूजी

बापूजी कहेंगे, ‘सच कहूं तो प्रीत जी और यशदीप के होते हुए मुझे तेरी चिंता नहीं है। पता है मुझे, मैं जानता हूं, वो ध्यान रखेंगे तेरा…खासकर यशदीप।’ अनुपमा हैरान रह जाएगी। वह बापूजी से कहेगी, ‘यशदीप सर…सिर्फ और सिर्फ मेरे दोस्त हैं और कुछ नहीं। लोगों का तो क्या है, उनका तो काम ही है कहना, जिसको जो बोलना है बोलने दीजिए। मैं जानती हूं न अपने मन को, इसमें दोस्ती के अलावा और कुछ देने के लिए है ही नहीं। अब अगर मुझे प्यार करना है तो अपने आप से, अपने काम से, अपनी उड़ान से, अपने सपनों से करना है।’ बापूजी, अनुपमा को आशीर्वाद देंगे। वहीं डिंपी, टीटू से मिलने होटल जाएगी। वह टीटू के साथ शादी के सपने देखेगी और वापस घर आ जाएगी।

अनुपमा में अनुज की मौत पर बोले 'यशदीप' वकार शेख, जिसने बंगाली शो देखा है…

वनराज और अनुपमा

अगले दिन वनराज और अनुपमा मिलकर पैकिंग करेंगे। वनराज, अनुपमा से कहेगा, ‘अपना ध्यान रखना अनुपमा।’ अनुपमा कहेगी, ‘थैंक्यू! जाने से पहले दो अच्छे बोल बोलने के लिए थैंक्यू, लेकिन मुझे कड़वे बोल बोलने पड़ेंगे। मैं आपको बहुत अच्छी तरह जानती हूं। जानती हूं कि आप डिंपी और टीटू की शादी नहीं करवाना चाहते हैं तो आप जो सोच रहे हैं उसे सोचने की कोशिश भी मत कीजिएगा।’ वनराज, अनुपमा को अनुज की दूसरी शादी का ताना देगा। हालांकि, अनुपमा चुप नहीं बैठेगी। वह वनराज को वॉर्निंग देगी और कहेगी, ‘आप डिंपी का कन्यादान जरूर कीजिएगा वरना मुझे अहमदाबाद आना पड़ेगा।’ इसके बाद सभी लोग तैयार होकर एयरपोर्ट के लिए रवाना हो जाएंगे और अनुपमा एक बार फिर अकेली पड़ जाएगी।

मुश्किल में फंसेगी अनुपमा, श्रुति के साथ पूजा करते वक्त अनु का नाम जपेगा अनुज

ऐप पर पढ़ें