DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

टीवी एक्ट्रेस छवि ने सोशल मीडिया पर शेयर किया अपना डिलीवरी एक्सपीरियंस, पढ़ें उनका पूरा पोस्ट

टीवी एक्ट्रेस छवि मित्तल हाल ही में दूसरी बार मां बनी हैं। छवि ने सिजेरियन से बेटे को 10वें महीने में जन्म दिया है। छवि प्रेग्नेंसी के समय पर कुछ न कुछ अपडेट्स देती रहती थीं और अब हाल ही में छवि ने डिलीवरी के दौरान का अपना एक्सपीरियंस शेयर किया है। छवि ने बताया कि ऑपरेशन थिएटर में डॉक्टर बिना बात के उन पर चिल्लाई थीं और उनके पति को ऑपरेशन थिएटर में नहीं आने दिया था। दरअसल, छवि ने इंस्टाग्राम पर एक लंबा पोस्ट डाला है जिसमें उन्होंने बताया कि ऑपरेशन थिएटर के बाहर अचानक मुझे कहा गया कि मेरे पति मोहित ऑपरेशन थिएटर में मेरे साथ नहीं आ सकते। जब मैंने ये सुना तो मैं बहुत डर गई थी। मैंने डॉक्टर से इसकी वजह पूछने की कोशिश की। मेरे बर्थ प्लान में ये सबसे पहला प्वॉइंट था जो मैंने डॉक्टर को मेंशन किया था, लेकिन डॉक्टर बिनी किसी वजह के मुझ पर चिल्लाने लगी। मैं बस चाहती थी कि मोहित मेरा हाथ पकड़े।

 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 

𝗠𝘆 𝗕𝗲𝗮𝘂𝘁𝗶𝗳𝘂𝗹 𝗛𝘆𝗽𝗻𝗼-𝗕𝗶𝗿𝘁𝗵: 𝗔 𝗹𝗼𝘀𝘁 𝗯𝗮𝘁𝘁𝗹𝗲 CHAPTER 1: A DREAM COME TRUE It was mother’s day. The perfect setting to have a baby. I held the baby in till the baby gave me signs that it wanted to come out. I went into natural labour at 10pm when I was tucking in my little Areeza. I didn’t know at the time that it was going to be my last time alone with her for a long time. Instinctively she didn’t want to leave me and kept coming back after repeated goodnights and hugs. And instinctively I knew that my long delayed hospital stay was going to begin tonight. Sure enough, my mucous plug came off soon after Areeza slept, and I went to the hospital, all bags packed, on the doctor’s advice. At 1 am my membranes released (water broke) and by 6 am the next morning, I was already 7 cm dilated. No epidural. Just meditation, and an extremely loving and caring husband by my side. One of the most important things about Hypno-birthing is that the birthing experience is shared equally by the mother and father both. It was Mohit’s responsibility to allow the birth to progress naturally, controlling me in case I felt weak in my resolve for an all-natural birth, to light up my labour room with candles, incense, and fairy lights.. to play calming music, to do pain relief massages, to remind me to drink water and eat high energy foods, and to hold my hand when I went to the washroom (which was every 15 minutes I think, or at least it felt so) I even slept through some of the labour. It was so peaceful and relaxing. I would wake up every 2 minutes, breathe through a surge (contraction) and drift off again. My beautiful hypno-birth was progressing and a little baby was going to emerge out of my birth canal and straight on to my breast. But… ______________________________ CHAPTER-2 to follow soon... ______________________________ PC: @sachin113photographer #birthstory ______________________________ #chhavimittal #chhavimittalbirthstory #birth #arham #pain #anguish #beauty #pregnancy #mother #mom #newmom #newmother

A post shared by Chhavi Mittal (@chhavihussein) on

 

 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 

A post shared by Chhavi Mittal (@chhavihussein) on

छवि ने बताया कि मेरी सर्जरी होनी थी। मुझसे कहा गया कि मैं उस शख्स के बिना ये सर्जरी कराऊं जो ऑफिस, कैफे, शॉपिंग, स्कूल और हर इवेंट में मेरे साथ रहा है, लेकिन कैसे मैं उस इंसान के बिना सर्जरी करा लूं? वो तो मेरा सपोर्ट सिस्टम है। वो मेरे लिए सब कुछ है और इस दिन के लिए हमने महीनों इंतजार किया था। ऑपरेशन थियेटर में मौजूद लोग मुझे एलियन जैसे लग रहे थे। मैं मुश्किल से सांस ले पा रही थी और मेरी खुद की डॉक्टर मुझ पर चिल्ला रही थी। डॉक्टर ने मुझे कहा कि मोहित(छवि के पति) ऑपरेशन थिएटर के अंदर नहीं आ सकता। मैंने डॉक्टर को देखा मेरी आंखों में आंसू थे और आवाज में दर्द।

 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 

A post shared by Chhavi Mittal (@chhavihussein) on

 

 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 

A post shared by Chhavi Mittal (@chhavihussein) on

'इस प्यार को क्या नाम दूं' स्टार बरुन सोबती बनने वाले हैं पापा

शिल्पा शेट्टी के घर आया नया मेहमान, बताया कैसे बचाई इसकी जान

छवि ने आगे लिखा- 'जब मैंने डॉक्टर से पूछा कि वो मेरे साथ ऐसा क्यों कर रही है? तो उसने आंखें फेर ली। मैंने उनसे कहा कि अगर मोहित अंदर नहीं आया तो मैं यहां से चली जाऊंगी। तब paediatrician ने डॉक्टर से कहा कि मोहित को अंदर आने दो, लेकिन डॉक्टर फिर चिल्लाकर कहने लगी कि वो इसकी इजाजत नहीं दे सकती। बाद में मुझे पता चला मेरी जितनी भी फ्रेंड्स की इस अस्पताल में डिलीवरी हुई है, C-sections में उनके पति उनके साथ थे। उन्हें तो ऑपरेशन थिएटर में उनके मनपसंद म्यूजिक सुनने का भी ऑफर दिया गया था। लेकिन मुझे तो लड़ना था और मैं अंत तक लड़ी।'

 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 

A post shared by Chhavi Mittal (@chhavihussein) on

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:tv actress chhavi share her Delivery Experience