DA Image
12 जुलाई, 2020|6:35|IST

अगली स्टोरी

पाताल लोक: बीजेपी MLA ने अनुष्का शर्मा के खिलाफ की शिकायत, बिना इजाजत तस्वीर इस्तेमाल और सनातन धर्म को बदनाम करने का लगाया आरोप

paatal lok web series dispute  bjp mla

पाताल लोक...अमेजन प्राइम पर यह शो बेहद हिट हो रहा है तो दूसरी तरफ इसको लेकर कई विवाद भी खड़े हो गए हैं। अब बीजेपी विधायक नंदकिशोर गुर्जर ने शो की प्रड्यूसर और अभिनेत्री अनुष्का शर्मा के खिलाफ पुलिस को शिकायत दी है। विधायक का आरोप है कि शो में उनकी तस्वीर का इस्तेमाल इजाजत लिए बिना किया गया। योगी आदित्यनाथ की एक तस्वीर में छेड़छाड़ करके शो के काल्पनिक पात्रों को शामिल किया, जिसमें गुर्जर भी दिख रहे हैं।  

बिना इजाजत तस्वीर इस्तेमाल किए जाने के अलावा गुर्जर ने शो की सामग्री पर भी आपत्ति जताई और इसे देशद्रोही बताया। लोनी से बीजेपी के विधायक नंदकिशोर गुर्जर ने कहा कि पाताल लोक शो में सनातन धर्म की नकारात्मक छवि बनाने की कोशिश की गई है। पाताल लोक में एक तस्वीर में इसके विलेन करेक्टर बाजपेयी को एक हाईवे का उद्घाटन करते हुए दिखाया गया है। बैकग्राउंड में गुर्जर भी खड़े दिख रहे हैं। ऑरिजनल तस्वीर को उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ ने 2018 में ट्वीट किया था।

गुर्जर ने शिकायत में कहा है कि शो में बीजेपी की छवि खराब की गई है, पाकिस्तान की छवि आतंकवाद मुक्त बनाने की कोशिश की गई है। सांप्रदायिक वैमनस्य को उकसाने का आरोप लगाते हुए बीजेपी विधायक ने अनुष्का के खिलाफ नेशनल सिक्यॉरिटी एक्ट (एनएसए) के तहत केस दर्ज करने की मांग की है।

शो के निर्मताओं के खिलाफ इससे पहले पूर्वोत्तर के लोगों का कथित नस्लवादी चित्रण करने को लेकर शिकायतें दर्ज कराई गई हैं। ऑल अरुणाचल प्रदेश गोरखा यूथ असोसिएशन, भारतीय गोरखा युवा परिसंघ और वकील वीरेन श्री गुरुंग ने शिकायत की थी।

शो में नेपाली महिलाओं को लेकर आपत्तिजनक शब्द के इस्तेमाल पर बीजेपी सांसद राजू बिष्ट ने केंद्रीय सूचना और प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर से शिकायत की थी। पश्चिम बंगाल के दार्जिलिंग से सांसद राजू बिष्ट ने कहा कि देश में रहने वाले डेढ़ करोड़ गोरखा नेपाली भाषा बोलते हैं। इस वेबसीरीज ने सभी गोरखाओं की भावनाओं को ठेस पहुंचाया है। 

भाजपा सांसद राजू बिष्ट ने सूचना और प्रसारण मंत्री को शनिवार को मेल से की शिकायत में कहा है कि 'पाताल लोक'  वेब सीरीज में एक डॉयलाग में नेपाली महिलाओं के लिए गाली का इस्तेमाल है। इस वेब सीरीज ने देश में नेपाली भाषा बोलने वाले डेढ़ करोड़ गोरखाओं का अपमान किया है। देश की आजादी का मामला हो या फिर आज भी देश की सुरक्षा का, गोरखाओं ने हमेशा बढ़चढ़कर भूमिका निभाई है। ऐसे में इस वेब सीरीज ने इन साहसी गोरखाओं की भावनाओं को ठेस पहुंचाई है।

राजू बिष्ट ने कहा कि अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता के नाम पर किसी जाति विशेष के खिलाफ अपमाजनक शब्दों का इस्तेमाल नहीं किया जा सकता। वेब सीरीज के निमातार्ओं को इंटरनेट और अभिव्यक्ति की आजादी के नाम पर किसी की भावनाओं के साथ खिलवाड़ करने की छूट नहीं दी जा सकती। फिल्मों की तरह सेंसर बोर्ड से अनुमति मिलने के बाद ही वेबसीरीज जारी होनी चाहिए। वेब सीरीज पर नियंत्रण जरूरी है।

बता दें कि अनुष्का शर्मा ने पाताल लोक के जरिए वेब सीरीज निमार्ण क्षेत्र में कदम रखा है। बतौर निर्मता उनकी 15 मई, 2020 को जारी हुई वेब सीरीज पाताल-लोक में कुल 9 एपिसोड हैं। इस वेब सीरीज की कहानी सुदीप शर्मा ने लिखी है। 
 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Paatal Lok web series controversy BJP MLA files complaint against Anushka Sharma