DA Image
3 मार्च, 2021|10:43|IST

अगली स्टोरी

जब राजेश खन्ना ने बेटी से पूछ लिया, तुम्हारा कोई बॉयफ्रेंड नहीं है?

rajesh khanna

आज बॉलीवुड के ऑल टाइम सुपरस्टार राजेश खन्ना का जन्मदिन है। राजेश खन्ना अपने जमाने के ऐसे हीरो थे जिन्होंने लगातार कई हिट फिल्में दी थी। उनकी लोकप्रिया का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि उन्हें हिंदी सिनेमा का पहला सुपरस्टार कहा जाता है। राजेश खन्ना अपने अलग अंदाज की एक्टिंग के लिए मशहूर थे। कहते हैं आज भी बॉलीवुड की रोमांटिक दुनिया में उनका कोई सानी नहीं है। उनकी फिल्में जब पर्दे पर आती थीं, तो सिनेमाघरों के सामने टिकट खरीदने के लिए लोगों की भीड़ जमा हो जाती थी।

आज वो अगर जिंदा होते तो अपना 78वां जन्मदिन मना रहे होते। उनके जन्मदिन पर बहुत से करीबी लोग उनसे जुड़े कई किस्सों का जिक्र कर रहे हैं। उनके करीबी बताते हैं कि वह बहुत मजाकिया और खुले दिल के इंसान थे। 

जब राजेश खन्ना ने बेटी को कहा- 'एक नहीं चार बॉयफ्रेंड रखो'

राजेश खन्ना से जुड़ा ऐसा ही एक किस्सा उनकी बेटी ट्विंकल ने बताया था। उन्होंने बीते फादर्स डे पर अपने पिता के बारे में एक लेख साझा करते हुए बताया कि कैसे उनके पिता राजेश खन्ना ओरिजनल कूल डैड थे? कैसे पिता और बेटी एक-दूसरे को डेटिंग सलाह तक दिया करते थे। इस बीच एक बार मजाक में राजेश खन्ना ने बेटी से जो कहा उसे साझा करते हुए वो लिखती हैं कि पिता राजेश ने उनसे पूछा कि क्या तुम्हारा कोई बॉयफ्रेंड नहीं है? फिर आगे सलाह देते हुए यह भी कहा कि हमेशा एक समय में चार बॉयफ्रेंड रखो, इस तरह आपका दिल कभी नहीं टूटेगा। 

ट्विंकल ने आगे लिखा, "उन्होंने मेरे साथ हमेशा समान व्यवहार किया और यहां तक कि वह पहले इंसान थे, जिन्होंने मुझे शराब का पहला घूंट पिलाया और स्कॉर्च से भरी गिलास मेरे हाथों में थमाई थी।"

'काका' के नाम से मशहूर थे राजेश खन्ना 

आपको बता दें कि 'काका' के नाम से मशहूर राजेश खन्ना का जन्म 29 दिसंबर 1942 को हुआ था। पंजाब के अमृतसर में जन्में जतिन खन्ना उर्फ राजेश खन्ना का रुझान बचपन के दिनों से ही फिल्मों की ओर था। वो एक्टर बनना चाहते थे लेकिन उनके पिता इस बात के सख्त खिलाफ थे।

राजेश खन्ना अपने करियर के शुरुआती दौर में रंगमंच से जुड़े और बाद में युनाइटेड प्रोड्यूसर एसोसिएशन द्वारा आयोजित ऑल इंडिया टैलेंट कॉन्टेस्ट में उन्होंने हिस्सा लिया, जिसमें वो फर्स्ट आए। राजेश खन्ना ने अपने सिने करियर की शुरुआत 1966 में चेतन आंनद की फिल्म 'आखिरी खत' से की। साल 1966 से 1969 तक राजेश खन्ना फिल्म इंडस्ट्री मे अपनी जगह बनाने के लिए संघर्ष करते रहे।

'अराधना' फिल्म से चमका 'काका' की एक्टिंग की सितारा

राजेश खन्ना की एक्टिंग का सितारा निर्माता-निर्देशक शक्ति सामंत की क्लासिकल फिल्म 'अराधना' से चमका। बेहतरीन गीत-संगीत और अभिनय से सजी इस फिल्म की गोल्डन जुबली कामयाबी ने राजेश खन्ना को स्टार के रूप में स्थापित कर दिया। फिल्म 'अराधना' की सफलता के बाद अभिनेता राजेश खन्ना शक्ति सामंत के प्रिय एक्टर बन गए। बाद में उन्होंने राजेश खन्ना को कई फिल्मों में काम करने का मौका दिया। इनमें 'कटी पतंग', 'अमर प्रेम', 'अनुराग', 'अजनबी', 'अनुरोध' और 'आवाज' आदि शामिल हैं।

फिल्म 'अराधना' की सफलता के बाद राजेश खन्ना की छवि रोमांटिक हीरो के रूप में बन गई। इस फिल्म के बाद निर्माता- निर्देशकों ने अधिकतर फिल्मों में उनकी रूमानी छवि को भुनाया। निमार्ताओं ने उन्हें एक कहानी के नायक के तौर पर पेश किया जो लव स्टोरीज पर आधारित फिल्में होती थीं।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:When Rajesh Khanna asks his daughter you do not have a boyfriend