DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

खुद पर लगे 'आउटसाइडर टैग' से खुश हैं विद्युत जामवाल, कहा- मुझे गर्व है

विद्युत जामवाल की फिल्म 'जंगली' रिलीज हो गई है और फिल्म को सही रिस्पॉन्स मिल रहा है। विद्युत के एक्शन की क्रिटिक्स के साथ-साथ दर्शक भी काफी तारीफ कर रहे हैं। विद्युत ने हाल ही में हिन्दुस्तान से खास बातचीत में फिल्म को लेकर कुछ बातें बताईं।

कैसे आप इस फिल्म से जुड़े और क्या आपको फिल्म में अच्छा लगा?

इस फिल्म के डायरेक्टर हैं चक रसेल जिन्होंने फेमस हॉलीवुड फिल्म 'मास्क' बनाई थी। मैं उनका बहुत बड़ा फैन हूं। उन्होंने कई बड़े एक्शन हीरो के साथ काम किया है तो उनके साथ काम को लेकर मैं काफी एक्साइटेड था। उनका विजन था कि ऐसी फिल्म बनाई जाए जिसमें एंटरटेमेंट हो, कॉमेडी हो और एक्शन हो। तो जब उनका ऑफर मेरे पास आया तो मैं बहुत खुश था।

हाथियों के साथ काम करने का कैसा एक्सपीरियंस रहा?

आप किसी भी जानवर के साथ टाइम स्पेंड करो चाहे वो हाथी हो, कुत्ता या बिल्ली। आप उनको टाइम दो तो वो आपके साथ अच्छे से रहते हैं। हाथियों के साथ काम करना आसान था, लेकिन मुश्किल था सेट पर लोगों को संभालना क्योंकि कोई आता और हाथी की पूंछ छेड़ता, तो कोई कुछ करता। तो हमें सेट पर सबको समझाना होता था कि कोई भी इन्हें छेड़े ना।

फिल्म में जो जानवर थे वो ट्रेन्ड नहीं थे, तो कैसे उनके साथ शूटिंग करते थे?

अगर उनको खाना खाने का मन है तो उन्हें खाने दो, पानी पीने का मन है तो पीने दो, नहाने का मन है तो उन्हें नहाने दो। जो उनके मन में आता है उन्हें वो करने दो, इसके बाद जब वो ये सब करके फ्री होते थे तब हम शूटिंग करते थे और उनके साथ काम करना आसान था।

तारक मेहता का उल्टा चश्मा: दया बेन को लेकर आई ये Shocking खबर

'दे दे प्यार दे': फैन्स को पसंद आया अजय देवगन की फिल्म का ट्रेलर, पढ़ें ये मजेदार रिएक्शन्स

आपने जब बॉलीवुड में एंट्री की थी तब आप एक एक्शन हीरो के तौर पर काफी फेमस हुए, लेकिन फिर आपके करियर में ये गैप आया, तो इस गैप के पीछे क्या वजह थी?

मैं फिल्म इंडस्ट्री से नहीं हूं, मुझे आउटसाइडर का टैग दिया जाता है और मैं उस टैग को ले लेता हूं क्योंकि मुझे इस पर गर्व है। क्योंकि मैं एक मिडल क्लास से हूं और ये जो सक्सेस है उसे आप कभी कम्पेयर नहीं कर सकते। जो आदमी मर्सिडीज में स्ट्रगल कर रहा है और जो रेगुलर स्ट्रगल कर रहा है उसकी सक्सेस मर्सिडीज वाले से बेहतर है। जो मजा अपनी मां को मेहनत की कमाई से खरीदी मर्सिडीज में घुमाने में है वो बचपन से मर्सिडीज में धूमकर बाद में बड़ी मर्सिडीज को घुमाने में नहीं है। जर्नी मुश्किल थी, लेकिन आपमें टैलेंट है तो मुंबई आपको एक्सेप्ट कर लेगा।


 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:vidyut jammwal says he is happy with his outsider tag