DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

विद्या सिन्हा को याद कर भावुक हुए अमोल पालेकर, कहा ‘विद्या मुझे हमेशा याद आएगी’

1970 की हिंदी फिल्म जगत की एक्ट्रेस विद्या सिन्हा का गुरुवार को मुंबई में निधन हो गया। वे 71 साल की थीं। एक्टर-डायरेक्टर अमोल पालेकर, विद्या सिन्हा के काफी अच्छे दोस्त थे। सिन्हा को याद करते हुए अमोल भावुक हुए। उनसे खास बातचीत के कुछ पल। 

अमोल कहते हैं कि विद्या बहुत ही अच्छी इंसान थीं। हमेशा जिंदा दिल रहती थीं। उनकी हंसी में सच्चाई दिखती थी। सदियों से हम दोनों एक-दसूरे को जानते थे। वे कभी बदली नहीं। फिल्म ‘रजनीगंधा’ (1974) की शूटिंग से पहले ही हम दोनों एक-दूसरे से मिले थे। बासू चैटर्जी, फिल्म के डायरेक्टर ने हम दोनों को शूट से पहले प्रैक्टिस करने के लिए कहा था। मैं थिएटर ग्रूप से आता हूं और विद्या इस इंडस्ट्री में काफी नई थी। मेरी मदद से वे कैमरे के सामने कंफर्टेबल होना चाहती थीं। हम दोनों तभी अच्छे दोस्त बने। मैं उस समय दिल्ली में अपनी शूटिंग पूरी कर रहा था। शूट के बाद हम दोनों काफी घूमते थे। इसी के साथ हमारी बॉन्डिंग अच्छी हुई। एक्टिंग के बाद भी हम दोनों एक दूसरे से टच में रहे। 

एक-दसूरे से मिले और रोज बात होने लगी। जब भी मैं मुंबई जाता था तो हम दोनों लंच पर जाते थे। जब विद्या पूणे में रहती थीं तब वे मेरे से मिलने आती थीं। मुझे जहां तक याद है विद्या काफी लंबे समय तक पूणे रही और बीच-बीच में हमसे मिलने मुंबई आती रही।

सेट पर भी वे बहुत ही बढ़िया इंसान थी। हम दोनों के बीच काफी अच्छी केमिस्ट्री जमती थी। फिर चाहे वह ऑनस्क्रीन हो या ऑफस्क्रीन। उनके साथ शूटिंग करना अपने आप में एक यादगार पल रहा। 

हम दोनों एक दूसरे से काफी बातें करते थे। लेकिन ताज्जुब की बात ये है कि हमने कभी फिल्म से जुड़ी कोई बात नहीं की। पर्सनल परेशानियों समेत कई चीजों पर बातचीत होती रहती थी। 

मेरे 70वें जन्मदिन पर सांध्या ने मेरे लिए पार्टी रखी। जहां मेरे सभी दोस्तों को बुलाया गया। स्कूल के दोस्त भी इस पार्टी में शामिल थे। विद्या भी इस पार्टी में आई थी और उसके लिए यह मोमेंट काफी इमोशनल था। 

अपनी पर्सनल लाइफ के कारण चर्चा में रहीं विद्या सिन्हा, ऐसा रहा फिल्मी करियर

संगीतकार खय्याम की हालत नाजुक, मुंबई के अस्पताल में कराया गया एडमिट

हाल ही में मेरी पेटिंग एक्जिबिशन में विद्या आई थी। जो मुंबई में हुई थी। मैंने उसे एक पेंटिंग गिफ्ट की थी। मेरे लिए वो देपहर बेहद खास थी। हम सभी लोग इकट्ठे होकर बासू दा के घर गए थे। बासू दा के लिए ये एक सरप्राइज था। जब भी मैं विद्या को याद करता हूं तो ये सभी चीजें याद आ जाती हैं। 

मैं बस यही कहूंगा कि मैं विद्या को हमेशा याद करुंगा। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Vidya Sinha: Died: Amol Palekar: Got Emotional: In An Exclusive Interview: Says I Will Miss Her: