Hindi NewsEntertainment Newsthere is no mention of bhagwad gita in oppenheimer Sex Scene it was edited for india says report

ओपेनहाइमर में भारत में नहीं दिखाई गई सेक्स सीन में भगवद्गीता, फिर क्यों मचा बवाल?

Oppenheimer Sex Scene Controversy: ओपेनहाइमर के सेक्स सीन में भगवद्गीता दिखाने को लेकर विवाद चल रहा है। वहीं कुछ रिपोर्ट्स का दावा कि भारत में यह सीन दिखाया ही नहीं, विदेशी वर्जन अलग है

ओपेनहाइमर में भारत में नहीं दिखाई गई सेक्स सीन में भगवद्गीता, फिर क्यों मचा बवाल?
Kajal Sharma लाइव हिंदुस्तान, मुंबईTue, 25 July 2023 05:22 PM
हमें फॉलो करें

ओपेनहाइमर के एक सीन पर भारत के लोगों को आपत्ति है। बताया जा रहा है कि इसमें सेक्स सीन के दौरान लीड एक्टर भगवद्गीता पढ़कर संस्कृत में कुछ लाइन्स बोलता है। दावा किया जा रहा है कि एक्ट्रेस जो किताब उठाकर हीरो को देती है वह भगवद्गीता थी। अब कुछ रिपोर्ट्स की मानें तो भारत में यह सीन दिखाया ही नहीं गया। इसे पहले ही एडिट किया जा चुका है। 

एडिट हुआ सीन
क्रिस्टोफर नोलन की मूवी ओपेनहाइमर ने इंडिया में कुछ लोगों को नाराज कर दिया है। सोशल मीडिया पर कई ट्वीट्स दिखाई दे रहे हैं, जिनमें सेक्स सीन पर आपत्ति जताई गई है। अब रिपोर्ट्स हैं कि अब्रॉड में जो सीन्स दिखाए गए वो भारत के लोगों को देखने को नहीं मिले। सेंट्रल बोर्ड ऑफ सर्टिफिकेट को सब्मिट करने से पहले गीता वाला सीन भी ए़डिट किया गया। फिल्म में गीता का जिक्र ही नहीं है बल्कि फ्लोरेंस एक किताब उठाकर उनको देती हैं। सिलियन मर्फी संस्कृत की लाइन बोलते हैं। 

फिल्म में नहीं किताब का जिक्र
फिल्म जे रॉबर्ट ओपेनहाइमर पर बनी है। उन्हें एटम बम का जनक कहा जाता है। असल जिंदगी में उन्होंने भगवद्गीता पढ़ी थी और इससे काफी प्रभावित थे। सोशल मीडिया में फिल्म के सीन पर एक यूजर ने लिखा है, नोलन ने ये गलत किया। ओपेनहाइमर गीता तब पढ़ते थे जब उन्हें घबराहट होती थी या खतरनाक बम बनाने का गिल्ट होता था। श्लोक उन्हें उनकी ड्यूटी याद दिलाता था न कि सेक्स करते वक्त वह गीता पढ़ते थे। इसका तो कोई सेंस ही नहीं निकल रहा। 

असली वीडियो भी वायरल
ओपेनहाइमर का असली वीडियो भी इंटरनेट पर मौजूद है। इसमें वह गिल्ट में हैं। आंसू पोछते दिख रहे हैं। वह बोलते हैं, हमें पता था कि दुनिया पहले जैसी नहीं रहेगी। कुछ लोग हंसे, कुछ रोए, ज्यादातर शांत थे। मैंने हिंदू धर्मग्रंथ भगवद्गीता की लाइन्स याद कीं। विष्णु राजकुमार को उनकी ड्यूटी याद दिलाते हैं और अपने कई भुजाओं वाले स्वरूप को धारण करके बोलते हैं, अब मैं मृत्यु बन चुका हूं, दुनिया का विनाश करने वाला। मुझे लगता है कि हम सबने किसी न किसी तरह से यही सोचा था। 

लेटेस्ट Hindi News, Entertainment News के साथ-साथ TV News, Web Series और Movie Review पढ़ने के लिए Live Hindustan App डाउनलोड करें।
ऐप पर पढ़ें