DA Image
29 अक्तूबर, 2020|12:18|IST

अगली स्टोरी

‘तारक मेहता का उल्टा चश्मा’ में आया ट्विस्ट, ‘बबीता जी’ और ‘अय्यर’ छोड़ रहे हैं गोकुलधाम सोसाइटी, जानकर ऐसी हुई ‘जेठालाल’ की हालत

टीवी का पॉप्युलर शो ‘तारक मेहता का उल्टा चश्मा’ में बड़ा ट्विस्ट आने वाला है। दरअसल, दर्शक पहली बार जेठालाल को घबराया हुआ देखने वाले हैं। अय्यर, लॉकडाउन में होने वाली परेशानी से तंग आ चुके हैं। ऐसे में वह और ‘बबीता जी’ गोकुलधाम सोसाइटी छोड़कर जाने का तय कर लेते हैं। जैसे ही वह दोनों इस बात की घोषणा करते है, यह सुनकर जेठालाल हैरान हो जाते हैं। उनकी पैरों तले जमीन खिसक जाती है। ‘अय्यर’ और ‘बबीता जी’, दोनों गांव जाने के बारे में बताते हैं। यह सुनकर ‘जेठालाल’ तुरंत उन्हें गांव में रहने से होने वाली मुश्किलों के बारे में गिनाना शुरू कर देते हैं। 

बता दें कि शो में इस समय गोकुलधाम सोसाइटी के सभी लोग लॉकडाउन के कारण तनाव महसूस कर रहे हैं। घर से बाहर न निकलने के कारण वह परेशान हो चुके हैं। सोसाइटी का प्रत्येक व्यक्ति अपने-अपने घर में कैद हो चुका है। वह सभी घर से बाहर निकलकर वापस साधारण जीवन जीने के लिए उत्सुक होते हैं। ऐसे ही एक अवसर पर जब सोसाइटी में हर कोई अपनी बालकनी से एक दूसरे के साथ चर्चा कर रहा होते है, तब ‘अय्यर’ सभी को बताते है कि उन्हें खेती करने की इच्छा हो रही है, इसलिए उन्होंने गांव लौटने का फैसला लिया है। 

अमिताभ बच्चन से KBC 12 के सेट पर मिलने पहुंचे मनीष पॉल को हुआ इस बात का अफसोस

संजय दत्त ने दी कैंसर को मात, कहा- भगवान कठिन लड़ाई लड़ने के लिए चुनते हैं सबसे मजबूत सैनिक

‘जेठालाल’ यह सुनकर मानो डर से जाते है। उन्हें ‘अय्यर’ के गांव जाने की कल्पना और इससे ज्यादा ‘बबीता जी’ का गोकुलधाम सोसाइटी छोड़कर जाना बहुत दुख पहुंचाता है। वह ‘अय्यर’ के इस निर्णय पर आपत्ति जताते हैं। उन्हें गांव में रहने की मुश्किलों के बारे में बताकर उनका मन बदलने की कोशिश करते हैं। ‘जेठालाल’ उन्हें समझाते हैं कि गांव में खेती करना कोई आसान बात नहीं है। वह अपनी चिंता व्यक्त करते हुए कहते है कि ‘बबीता जी’ अपनी जीवनशैली में इस तरह का बदलाव नहीं कर पाएंगी और उन्हें काफी तकलीफ होगी। ‘जेठालाल’ की सब दलीले सुनने के बावजूद भी ‘अय्यर’ अपने निर्णय पर अटल रहते हैं। 

एक तरफ जहां ‘जेठालाल’, ‘अय्यर’ को उनके गांव जाने से रोकने की कोशिश कर रहे हैं, वहीं, ‘बबीता जी’, ‘अय्यर’ के विचारों से सहमत दिख रही हैं। यह देखकर ‘जेठालाल’ को घबराहट होने लगती है और वह निराशा में डूबते नजर आते हैं। क्या ‘अय्यर’ और ‘बबीता जी’ छोड़ेंगे गोकुलधाम सोसाइटी? या ‘जेठालाल’ उन्हें सोसाइटी से न जाने के लिए मना पाएंगे? यह तो शो देखकर ही पता चल पाएगा।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Taarak Mehta Ka Ooltah Chashmah: Fame Babita Ji And Iyer Leaving Gokuldham Society Jethalal Sad