DA Image
4 दिसंबर, 2020|5:17|IST

अगली स्टोरी

'तारक मेहता का उल्टा चश्मा' के लेखक ने की आत्महत्या, परिवार ने लगाया यह बड़ा आरोप

पिछले हफ्ते खबर आई थी कि टीवी का पॉप्युलर शो तारक मेहता का उल्टा चश्मा के एक राइटर अभिषेक मकवाना ने आत्महत्या की। अभिषेक ने अपने सुसाइड नोट में आत्महत्या करने की वजह आर्थिक तंगी बताई थी। लेकिन अब उनके परिवार का कहना है कि अभिषेक ब्लैकमेल और साइबर धोखाधड़ी का शिकार थे।

परिवार का कहना है कि अभिषेक के निधन के बाद उन्हें फ्रॉड लोगों के कॉल आ रहे हैं। परिवार ने कहा, 'वे लोग कॉल करके पैसे मांग रहे हैं। उनका कहना है कि अभिषेक ने लोन लेते वक्त अपने परिवार को गारंटीकर्ता बनाया था।' 

मुंबई मिरर की रिपोर्ट के मुताबिक, 27 नवंबर को अभिषेक ने अपने घर में फांसी लगा ली थी। पुलिस ने अभी आकस्मिक मौत का मामला दर्ज किया है। अभिषेक के भाई जेनिस का कहना है कि उन्होंने कुछ ई-मेल पढ़े हैं जिसके बाद उन्हें एहसास हुआ कि अभिषेक को किसी फाइनेंशियल जाल में फंसाया था। 

जेनिस ने आगे यह भी बताया कि अब वे लोग उन्हें बार-बार कॉल कर रहे हैं और गलत बातें बोल रहे हैं जबसे उन्हें अभिषेक के निधन की बात पता चली है। एक नंबर बांग्लादेश का है, एक म्यानमार और बाकी भारत के अलग-अलग राज्यों के हैं। 

जेनिस ने कहा,  ई-मेल रिकॉर्ड को देखने के बाद मुझे समझ आया कि पहले मेरे भाई ने एक ऐप के जरिए छोटा लोन लिया जो बहुत ज्यादा हाई रेट का इंट्रेस्ट ले रहा था। फिर मैंने उनके और भाई की ट्रांजेक्शन देखी। मैंने देखा कि वह छोटा-छोटा अमाउंट देते रहते थे मेरे भाई को जबकि भाई ने और कोई लोन नहीं लिया था। लोन का इंट्रेस्ट रेट 30 प्रतिशत था।' 

उनका कहना है कि जिस ऐप से उनके भाई ने लोन लिया था वह ऑनलाइन साइबर स्कैम में शामिल था। 

बता दें कि 27 नवंबर को कांदिवली अपार्टमेंट में अभिषेक के फांसी लगाकर आत्महत्या करने के बाद चारकोप पुलिस ने आकस्मिक मौत का मामला दर्ज किया है।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:taarak mehta ka oolatah chashma writer suicide family claims he was victim of cyber fraud and blackmail