DA Image
29 नवंबर, 2020|1:06|IST

अगली स्टोरी

सुशांत केस: महाराष्ट्र मानवाधिकार आयोग ने कपूर हॉस्पिटल और मुंबई पुलिस को भेजा नोटिस, पूछा- रिया को कैसे मिली इजाजत?

सुशांत सिंह राजपूत मामले में सीबीआई जांच चल रही है। इस बीच महाराष्ट्र मानव अधिकार आयोग ने कपूर हॉस्पिटल ( जहां सुशांत का पोस्टमॉर्टम हुआ था) और पुलिस को नोटिस जारी किया है। आयोग का कहना है कि आखिर रिया चक्रवर्ती को मोर्चरी में जाने की इजाजत कैसे दी गई और क्या नियम थे। जो वह सुशांत सिंह राजपूत की बॉडी को देखने के लिए मोर्चरी गईं।

SHRC प्रमुख एमए सईद ने मुंबई मिरर ने बातचीत में कहा कि उन्होंने लीगल विंग से इस मामले को देखने के लिए कहा। जब उन्होंने रिया के मोर्चरी में जाते हुए वीडियो को देखा। उन्होंने कहा, 'हमें नहीं पता कि कैसे और किन परिस्थितियों में रिया चक्रवर्ती को मोर्चरी जाने की अनुमति दी गई थी। ऐसा नहीं होना चाहिए था।'

सईद ने कहा कि कूपर अस्पताल के डीन को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है। जिसमें पूछा गया है कि रिया और उसके परिवार के सदस्यों को मोर्चरी में कैसे और क्यों जाने दिया गया। सईद ने बताया कि वह इस मुद्दे को अर्जेंट के तौर पर ट्रीट कर रहे हैं।

रिया चक्रवर्ती पर ट्विटर यूजर ने की अभद्र टिप्पणी, 'सेक्रेड गेम्स' एक्ट्रेस कुब्रा सैत ने दिया करारा जवाब

सुशांत की मौत के एक दिन बाद 15 जून की दोपहर कूपर अस्पताल की मोर्चरी में तीन अन्य लोगों के साथ रिया को देखा गया था। महाराष्ट्र मानव अधिकार आयोग के एक अधिकारी ने कहा, 'हम इस बात की जांच कर रहे हैं कि आखिर उन्हें एंट्री कैसे मिली। इस मामले की सुनवाई होगी। पुलिस को भी परिणाम भुगतने होंगे।'

कोविड से ज्यादा इस खबर का मुझ पर असर पड़ा', सुशांत सिंह राजपूत मामले पर बोले 'बेहद-2' एक्टर शिविन नारंग

आपको बता दें कि सुशांत सिंह राजपूत के पिता केके सिंह ने रिया चक्रवर्ती के खिलाफ बीते माह केस दर्ज कराया था। रिया के वकील सतीश मान शिंदे ने सभी आरोपों से इनकार किया है और एक बयान में कहा, ' यह सभी आरोप पूरी तरह से मनगढ़ंत हैं। रिया ने आत्महत्या के लिए उकसाने, पैसों की धोखाधड़ी आरोपों से इनकार किया है।'

 
  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Sushant Singh Rajput case Human Rights Sent Show cause notice to Cooper Hospital for giving Rhea Chakraborty mortuary access