DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   मनोरंजन  ›  ‘द कपिल शर्मा शो’ की सुमोना चक्रवर्ती ने बयां किया दर्द- ‘बेरोजगार हूं, 10 साल से इस बीमारी से जूझ रही’

मनोरंजन‘द कपिल शर्मा शो’ की सुमोना चक्रवर्ती ने बयां किया दर्द- ‘बेरोजगार हूं, 10 साल से इस बीमारी से जूझ रही’

हिन्दुस्तान,मुंबईPublished By: Shrilata
Sat, 15 May 2021 11:57 AM
‘द कपिल शर्मा शो’ की सुमोना चक्रवर्ती ने बयां किया दर्द- ‘बेरोजगार हूं, 10 साल से इस बीमारी से जूझ रही’

कपिल शर्मा के शो में भूरी का रोल कर मशहूर हुईं सुमोना चक्रवर्ती ने खुलासा किया है कि उनके पास काम नहीं है। कपिल का शो भी बंद हो गया है ऐसे में सुमोना के पास कोई काम नहीं बचा है। उन्होंने इंस्टाग्राम पर अपनी एक तस्वीर के साथ लंबा चौड़ा पोस्ट लिखा है। साथ ही अपनी बीमारी के बारे में बताया जिससे वो पिछले 10 सालों से जूझ रही हैं।

काम ना होने का बयां किया दर्द
सुमोना लिखती हैं कि ‘लंबे समय के बाद घर पर ठीक से वर्कआउट किया। कुछ दिन ऐसे होते हैं जब मैं खुद को दोषी महसूस करती हूं क्योंकि बोरियत प्रीविलेज (सुविधाओं से युक्त) है। मैं बेरोजगार हूं और फिर भी मैं खुद का और अपने परिवार का पेट भरने में सक्षम हूं। यह प्रीविलेज ही है। कई बार मैं खुद को दोषी महसूस करती हूं। खासकर तब जब मैं पीएमएस (प्रीमेंस्ट्रूअल सिंड्रोम) की वजह से उदास हो जाती हूं। मूड स्विंग होना इमोशनली परेशान करता है।‘

इस बीमारी से जूझ रहीं सुमोना
‘कुछ चीजें मैंने पहले कभी शेयर नहीं कीं। मैं 2011 से एंडोमेट्रियोसिस से जूझ रही हूं। कई सालों से चौथे स्टेज पर हूं। खाने की सही आदत, एक्सरसाइज और सबसे जरूरी कोई तनाव ना लेने से मेरा स्वास्थ्य ठीक है। लॉकडाउन मेरे लिए भावनात्मक रूप से कठिन रहा है।‘ बता दें कि एंडोमेट्रियोसिस से पेट में दर्द की शिकायत और कंसीव न कर पाने जैसी समस्याएं होती हैं। 

हर चमकने वाली चीज सोना नहीं
सुमोना कहती हैं कि ‘आज मैंने वर्कआउट किया। अच्छा महसूस हो रहा है। मैंने सोचा अपनी भावनाएं जाहिर करती हूं जिससे जो कोई भी पढ़े इसे समझे कि जो कुछ भी चमकता है वह सोना नहीं है। हम सब किसी ना किसी चीज के लिए संघर्ष कर रहे हैं। हम सबके पास लड़ने के लिए अपनी अपनी लड़ाई है। हम दुख, दर्द, तनाव, चिंता, नफरत से घिरे हैं। आप सभी को प्यार, सहानुभूति और दया की जरूरत है।‘ 

 

शेयर करना काफी मुश्किल
सुमोना लिखती हैं कि ‘इस तरह के व्यक्तिगत नोट को साझा करना बिल्कुल भी आसान नहीं है। यह मेरे कम्फर्ट जोन से बाहर का रास्ता था लेकिन अगर यह पोस्ट कुछ लोगों के चेहरे पर मुस्कान ला सकता है या उन्हें किसी भी तरह से प्रेरित कर सकता है तो मुझे लगता है कि सब ठीक है। ढेर सारा प्यार।‘ 
 

संबंधित खबरें