DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   मनोरंजन  ›  सुहाना खान की ‘स्किन कलर’ वाली पोस्ट पर फूटा ट्रोल्स का गुस्सा, पूछा- शाहरुख खान फेयरनेस क्रीम को फिर क्यों प्रमोट करते हैं?

मनोरंजनसुहाना खान की ‘स्किन कलर’ वाली पोस्ट पर फूटा ट्रोल्स का गुस्सा, पूछा- शाहरुख खान फेयरनेस क्रीम को फिर क्यों प्रमोट करते हैं?

लाइव हिन्दुस्तान टीम,नई दिल्लीPublished By: Khushboo Vishnoi
Wed, 30 Sep 2020 05:00 PM
सुहाना खान की ‘स्किन कलर’ वाली पोस्ट पर फूटा ट्रोल्स का गुस्सा, पूछा- शाहरुख खान फेयरनेस क्रीम को फिर क्यों प्रमोट करते हैं?

सुहाना खान को लोग उनके रंग को लेकर ट्रोल करते रहे हैं। उन्हें भद्दे कॉमेंट्स लिखकर भेजते रहे हैं। इसी बीच उन्होंने जब इन ट्रोल्स को एक पोस्ट के जरिए मुंहतोड़ जवाब दिया तो ट्रोलर्स के लपेटे में उनके पिता शाहरुख खान भी आ गए। ट्रोल्स ने उन्हें पाखंडी का टैग देते हुए पूछा कि एक ओर आप स्किन कलर को लेकर लिख रही हैं। दूसरी ओर आपके पिता फेयरनेस क्रीम का ऐड कर रहे हैं। एक ट्विटर यूजर ने लिखा, “मैं पूरी तरह से सुहाना खान से सहमत हूं। स्किन कलर को लेकर जो बातें बनती हैं उसपर उन्होंने जो आवाज उठाई है, वह सही है। लेकिन मुझे लगता है कि इसे खत्म करने की शुरुआत उन्हें अपने घर से करनी चाहिए। आप लोगों को पूरे तरीके से जिम्मेदार नहीं ठहरा सकती हैं, जब आपके पिता ही गोरे होने के भाव को सालों से प्रमोट कर रहे हैं।”

वहीं, एक और यूजर लिखती हैं, “सुहाना खान, आपने खूब कहा कि डार्क स्किन होना कोई शर्मिंदगी की बात नहीं, बल्कि अपने आप में एक खूबसूरत चीज है। लेकिन क्या आपको नहीं लगता कि एक ऐसा ही नोट आपको अपने पिता के लिए लिखना चाहिए? वही तो हैं जो गोरे होने वाले उत्पादों को प्रमोट करते हैं। जिसकी आप पूजा करते हैं उसे आम जीवन में ढालने की पहले कोशिश करें।”

बता दें कि सुहाना की फोटोज पर कुछ यूजर्स ने उनके कलर को लेकर भद्दे कमेंट्स किए थे, जिसके बाद उन्होंने पोस्ट के जरिए ट्रोल्स को जवाब दिया था। इंस्टाग्राम पर अपनी फोटो के साथ कुछ कॉमेंट्स के स्क्रीनशॉट्स शेयर किए थे, जिसमें उन्हें काली और बदसूरत कहा गया था। सुहाना खान ने पोस्ट में बताया कि यह उन सभी लोगों के लिए है जो हिंदी नहीं बोलते हैं। मैंने सोचा कि उन्हें कुछ बता दूं। ब्लैक कलर को हिंदी में काला कहते हैं। काली शब्द का इस्तेमाल एक महिला के बारे में बताने के लिए किया जाता है, जिसका कलर डार्क होता है। 

कंगना रनौत के पड़ोसियों को BMC ने भेजा नोटिस, एक्ट्रेस बोलीं- इन्होंने तो महाराष्ट्र सरकार के खिलाफ कुछ नहीं कहा, इन्हें तो छोड़ दो

Bigg boss 14: ‘साथ निभाना साथिया’ फेम जिया मानेक उर्फ ‘गोपी बहू’ नहीं होंगी सलमान खान के शो का हिस्सा, सामने आई वजह

सुहाना खान ने लिखी थी ये पोस्ट
उन्होंने कैप्शन में लिखा, “अभी बहुत कुछ चल रहा है और यह उन मुद्दों में से एक है, जिन्हें हमें ठीक करने की जरूरत है। यह सिर्फ मेरे बारे में नहीं है, यह हर युवा लड़की और लड़के के बारे में है जो बिना किसी कारण हीन भावना के साथ बड़े हुए हैं। मेरे लुक्स को लेकर बहुत कुछ कहा गया है। जब मैं 12 साल की थी तब मुझे बताया गया कि मैं अपनी स्किन के कारण बदसूरत हूं। ऐसा कहने वालों में बड़े पुरुष और महिलाएं शामिल हैं।”

 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 

A post shared by Suhana Khan (@suhanakhan2) on

“हम सभी भारतीय मूल रूप से ब्राउन कलर के ही होते हैं। हां, हम अलग-अलग शेड्स से आते हैं, लेकिन इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि आपने खुद को अलग करने की कितनी कोशिश की, लेकिन आप ऐसा नहीं कर सकते। अपने ही लोगों से नफरत करने से पता चलता है कि आप खुद को लेकर कितने असुरक्षित हैं।”

सुहाना ने पोस्ट के आखिर में लिखा कि मैं माफी चाहती हूं अगर सोशल मीडिया, इंडियन मैचमेकिंग और आपके परिवार ने आपको यह यकीन दिलाया हो कि अगर आप 5'7 के नहीं हैं या फिर आपका कलर फेयर नहीं हैं तो आप सुंदर नहीं हैं। उम्मीद करती हूं कि यह आपकी मदद करेगा। मैं 5'3 इंच की हूं। मेरा कलर ब्राउन है और इसे लेकर बेहद खुश हूं। आपको भी खुश रहना चाहिए। 

संबंधित खबरें