फोटो गैलरी

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ मनोरंजनश्वेता तिवारी ने ब्रा वाले बयान पर माफी मांगी, बोलीं- मुझे दुख है कि लोगों ने गलत समझा

श्वेता तिवारी ने ब्रा वाले बयान पर माफी मांगी, बोलीं- मुझे दुख है कि लोगों ने गलत समझा

श्वेता तिवारी ने भोपाल में अपने खिलाफ FIR दर्ज हो जाने के बाद विवादित बयान पर माफी मांग ली है। उनका कहना है कि वह खुद भगवान को मानने वाली हैं और जाने या अनजाने में कभी ऐसा नहीं बोल सकतीं। श्वेता ने...

श्वेता तिवारी ने ब्रा वाले बयान पर माफी मांगी, बोलीं- मुझे दुख है कि लोगों ने गलत समझा
Kajal Sharmaटीम, लाइव हिंदुस्तान,मुंबईFri, 28 Jan 2022 04:08 PM

इस खबर को सुनें

श्वेता तिवारी ने भोपाल में अपने खिलाफ FIR दर्ज हो जाने के बाद विवादित बयान पर माफी मांग ली है। उनका कहना है कि वह खुद भगवान को मानने वाली हैं और जाने या अनजाने में कभी ऐसा नहीं बोल सकतीं। श्वेता ने यह भी कहा कि उनके बयान को गलत तरीके से पेश किया गया है। बता दें कि श्वेता तिवारी ने बुधवार को भोपाल में एक इवेंड में ब्रा के नाप को लेकर एक स्टेटमेंट दिया था। कार्यक्रम का वीडियो वायरल होने के बाद लोगों ने उनके खिलाफ नाराजगी जताई। मामला इतना बढ़ा कि उनके खिलाफ एफआईआर तक कर दी गई।


बोलीं, मैंने दिया था उदाहरण


श्वेता तिवारी के एक बयान पर बवाल मचा हुआ है। भोपाल में एक इवेंट के दौरान उन्होंने कहा था कि उनकी ब्रा का साइज भगवान ले रहे हैं। अब अपनी सफाई में श्वेता ने स्टेटमेंट जारी किया है साथ ही माफी भी मांगी है। श्वेता का कहना है, मुझे पता चला है कि मेरा एक स्टेटमेंट जिसमें मैं एक साथी के पिछले रोल के बारे में बात कर रही थी, उसका गलत मतलब निकाल लिया गया है। जब पूरी बात सुनी जाएगी तो पता चलेगा कि मैं सौरभ राज जैन के बारे में बात कर रही थी जिन्होंने भगवान का रोल प्ले किया था। लोग किरदार के नामों को ऐक्टर्स से जोड़ लेते हैं, मैंने मीडिया से बात करते वक्त इसको बस उदाहरण के तौर पर लिया था। 

 

श्वेता तिवारी के ब्रा वाले बयान का कुछ और ही निकला सच, पूरा वीडियो देख समझ आएगा मामला


श्वेता ने मांगी माफी


श्वेता ने कहा कि उनके बयान का गलत मतलब निकाल लिया गया है, इसी वजह से इतना विवाद हो गया। उन्होंने कहा, बहुत दुख है कि इसको गलत समझा गया। मैं खुद भगवान में इतनी आस्था रखती हूं, कोई मतलब ही नहीं बनता कि मैं जानबूझकर या अनजाने में कुछ ऐसा कहूं या करूंगी जिससे लोगों की आस्था को चोट पहुंचे। लेकिन मुझे समझ में आ रहा है कि गलत समझने के बाद ही इससे अनजाने में लोगों की भावनाएं आहत हुईं। प्लीज ध्यान रखिएगा कि मेरी मंशा कभी किसी को हर्ट करने की नहीं रही है। अगर किसी को हर्ट किया तो इसके लिए माफी मांगती हूं।

epaper