फोटो गैलरी

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ मनोरंजनशिल्पा शेट्टी बोलीं- 45 की उम्र में बच्चा होना हिम्मत की बात है

शिल्पा शेट्टी बोलीं- 45 की उम्र में बच्चा होना हिम्मत की बात है

शिल्पा शेट्टी इसी साल फरवरी में दूसरी बार मां बनीं। शिल्पा की बेटी का जन्म सरोगेसी के जरिए हुआ था। शिल्पा को लेकिन ऐसा लगता है कि 45 की उम्र में मां बनना आसान काम नहीं है। उन्होंने कहा ये बहुत अजीब...

शिल्पा शेट्टी बोलीं- 45 की उम्र में बच्चा होना हिम्मत की बात है
Sushmeeta Semwalलाइव हिन्दुस्तान टीम,नई दिल्लीThu, 16 Jul 2020 10:24 PM
ऐप पर पढ़ें

शिल्पा शेट्टी इसी साल फरवरी में दूसरी बार मां बनीं। शिल्पा की बेटी का जन्म सरोगेसी के जरिए हुआ था। शिल्पा को लेकिन ऐसा लगता है कि 45 की उम्र में मां बनना आसान काम नहीं है। उन्होंने कहा ये बहुत अजीब भी लगता है। दरअसल, शिल्पा ने मुंबई मिरर से बात करते हुए कहा, 'कभी-कभी बहुत अजीब लगता है जब लोग पूछते हैं कि मेरे बच्चे कैसे हैं। 45 की उम्र में न्यूबॉर्न होना हिम्मत की बात है'।

शिल्पा ने यह भी बताया कि इस बार उनका मां बनने का एक्सपीरियंस पहली बार से अलग था। उन्होंने कहा, 'पहली बार में तो आप ब्रेस्टफीड कराते रहते हो हमेशा। आपको ऐसा लगता है जैसे आप गाय हो। मुझे पोस्टपार्टम डिप्रेशन भी हुआ था। हालांकि 2 हफ्ते के अंदर मैं ठीक हो गई थी'।

शिल्पा ने यह भी बताया कि कैसे वह लॉकडाउन से पहले अपने बेटी को लेकर आई थीं। उन्होंने कहा, 'मैं प्राइवेट फ्लाइट से शमीशा को घर लेकर आई थी। समीशा को घर लाने के कुछ दिन बाद ही लॉकडाउन लग गया था। मैं खुश हूं कि इस वक्त मैं अपनी बेटी के साथ हूं'।

जब अंकिता लोखंडे ने सुशांत सिंह राजपूत से शादी को लेकर कहा था- हमारा पवित्र रिश्ता काफी मजबूत है

शिल्पा ने इससे पहले अपनी बेटी को लेकर कहा था, 'समीशा के जन्म से पहले मैंने 15 दिन का ऑफ ले लिया था और इन दिनों मैं समीशा के साथ ज्यादा से ज्यादा समय बिता रही हूं। पिछले कुछ महीनों से मैं बस उसी के साथ रहती हूं। कभी उसकी मसाज करती हूं तो कभी उसे खाना खिलाती हूं।'

शिल्पा ने कहा था, 'मेरे बेटे वियान के कई ऐसे दोस्त थे जिनके भाई-बहन थे और वह यह सब बहुत मिस करता था। वह बहुत ही सोशल बच्चा है और जब बिल्डिंग में कोई बच्चा नहीं है तो वह बहुत उदास हो जाता था। वह मुझसे और राज से पूछता रहता था कि उसका कोई भाई-बहन क्यों नहीं है। वह हमेशा से अपने लिए बहन चाहता था। हम पिछले 3 साल से साल में एक बार शिरडी जा रहे हैं। वियान हमेशा यही दुआ मांगता था कि उसे जल्द ही बहन चाहिए। जब उसे पता चला कि हमें बेटी हुई है तो वह बहुत खुश था। वियान ने 3 साल तक समीशा के लिए प्रेयर की है।' 

 

epaper