DA Image
18 जुलाई, 2020|12:23|IST

अगली स्टोरी

सरोज खान के निधन से इमोशनल हुए डायरेक्टर सुभाष घई, कहा- मेरे पास बोलने के लिए शब्द नहीं है

पॉप्युलर कोरियोग्राफर सरोज खान के निधन से बॉलीवुड इंडस्ट्री को गहरा सदमा लगा है। किसी की यकीन नहीं हो रहा है कि सरोज इस तरह दुनिया छोड़कर जा चुकी हैं। उन्होंने अपने काम से लोगों के दिलों में खास जगह बनाई है। तमाम सेलेब्स सोशल मीडिया पर उन्हें श्रद्धांजलि दे रहे हैं। इस बीच डायरेक्टर सुभाष घई ने कहा कि यह मेरा पर्सनल लॉस है। मेरे पास बोलने के लिए कुछ भी शब्द नहीं है। 

सुभाष ने इंस्टाग्राम पर एक वीडियो शेयर किया है जिसमें वह कह रहे हैं, ''सरोज खान, मेरा सबसे बड़ा निजी नुकसान। मेरी सिनेमा यात्रा का एक अटूट महत्वपूर्ण भाग सरोज जी। भारतीय सिनेमा में क्लासिकल डांस को कायम रखने वाली आखिरी कड़ी सरोज खान। परिवर्तन आया है परिवर्तन आएगा, लेकिन सरोज खान नहीं आएगी। हम सभी उनके विद्यार्थी बनकर ही उसके मास्टर बने हैं। सिनेमा हमेशा उन्हें याद रखेगा हमेशा। मैं आगे क्या बोलू कोई शब्द नहीं है मेरे पास। बस दुखी हूं मैं आज।'

नेपोटिज्म के साथ-साथ इंडस्ट्री में Favouritism भी होता है, रातोंरात हाथ से निकल जाती है फिल्म: सोनल चौहान

 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 

A post shared by Subhash Ghai (@subhashghai1) on

 

 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 

She brought grace dignity stardom to my many stars. Who can forget ashwarya in TAAL. THATS IS SAROJ KHAN MY LOVE

A post shared by Subhash Ghai (@subhashghai1) on

'तारक मेहता का उल्टा चश्मा' में नजर आ चुकी हैं सरोज खान, शो की टीम ने कोरियोग्राफर को दी श्रद्धांजलि

मालूम हो कि सरोज को सांस लेने में तकलीफ के चलते मुंबई के बांद्रा स्थित हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया था, लेकिन अचानक उनकी तबीयत बिगड़ गई और फिर उन्होंने दुनिया को अलविदा कह दिया। सरोज को शुक्रवार सुबह मलाड के कब्रिस्तान में सुपुर्द-ए-खाक कर दिया गया। सरोज को अंतिम विदाई देने के लिए उनके परिवारवाले और कुछ रिश्तेदार ही मौजूद थे।

वर्क फ्रंट की बात करें तो साल 2019 में सरोज ने 'कलंक' और 'मणिकर्णिकाः द क्वीन ऑफ झांसी' में एक-एक गाने को कोरियॉग्राफ किया था। 'कलंक' में उन्होंने 'तबाह हो गए' गाने को कोरियोग्राफ किया था।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:saroj khan death Subhash Ghai mourns says an era has gone absolutely my personal loss