फोटो गैलरी

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ मनोरंजनसंजय दत्त बोले- शमशेरा में रणबीर कपूर को पीटने में लग रहा था डर, बताई वजह

संजय दत्त बोले- शमशेरा में रणबीर कपूर को पीटने में लग रहा था डर, बताई वजह

Shamshera BTS Video: शमशेरा के बीटीएस वीडियो में रणबीर ने बताया कि उन्होंने जिंदगी में इतनी मार नहीं खाई जितनी इस मूवी में। वहीं संजय दत्त बोले कि उन्हें रणबीर को पीटते वक्त चिंता रहती थी।

संजय दत्त बोले- शमशेरा में रणबीर कपूर को पीटने में लग रहा था डर, बताई वजह
Kajal Sharmaटीम, लाइव हिंदुस्तान,मुंबईMon, 27 Jun 2022 06:13 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

फिल्म शमशेरा में रणबीर कपूर (Ranbir Kapoor) और संजय दत्त राइवल की भूमिका में हैं। फिल्म में दोनों के बीच ऐक्शन सीन्स भी हैं। एक बिहाइंड द सीन वीडियो में संजय दत्त ने बताया है कि उनके लिए शूट करना कितना कठिन था। जहां संजय दत्त रणबीर को पीटने में डर रहे थे क्योंकि वह उन्हें बच्चे की तरह देखते हैं। वहीं रणबीर के भी मन में था कि संजय दत्त के साथ फाइट कैसे करें। वीडियो में रणबीर, संजय और डायरेक्टर करण मल्होत्रा बताते दिख रहे हैं कि उन सबके सामने यही दिक्कत थी कि संजय और रणबीर के ऐक्शन सीन्स कैसे शूट किए जाएं।

चिंता थी कि रणबीर को लग न जाए

फिल्म में संजय दत्त दरोगा शुद्ध सिंह का रोल कर रहे हैं जो कि काफी क्रूर है। वहीं रणबीर मस्तमौला। डायरेक्टर करण मल्होत्रा ने बिहाइंड द सीन वीडियो में बताया कि विलन और हीरो की टक्कर उनके लिए फेवरिट मोमेंट होता है क्योंकि ये पर्सनैलिटी क्रैश होता है। वहीं संजय दत्त और रणबीर को शूट करने में थोड़ा चिंता कर रहे थे। संजय दत्त खासतौर पर काफी चिंता कर रहे थे कि कहीं रणबीर को लग न जाए। वह रणबीर को बेटे की तरह ट्रीट करते हैं। वह करण से बोलते, बेटा ये करूंगा तो इसको लग ना जाए। 

बचपन से लगा रखे थे पोस्टर्स

वहीं रणबीर भी संकोच कर रहे थे और बोलते थे, वो संजय दत्त हैं यार, कैसे मारूंगा मैं। रणबीर भी बताते हैं कि जब मैं 9 या 10 साल का था तबसे संजय दत्त का पोस्टर मेरे कबर्ड पर है। उनकी बायोपिक की। फाइनली वह कैमरे पर निर्दयी दरोगा बने हैं। मैंने आज तक जिंदगी में इतनी मार नहीं खाई है। यहां क्लिक करके देखें ,बीटीएस वीडियो


रणबीर बोले, गले लगा सकता हूं पीट नहीं सकता

संजय दत्त भी बताते हैं, मेरा और रणबीर का रिलेशनशिप ऐसा कि वह बच्चा था तबसे जानता हूं, सामने बड़ा हुआ है। उससे फाइट सीन में मुझे काफी चिंता रहती थी। रणबीर बोलते हैं वह मुझे मारते और मैं उनको मारता यह बहुत अजीब था। क्योंकि मैं उनके लिए ऐसा फील ही नहीं करता हूं। संजय दत्त की पर्सनैलिटी और ऑरा ऐसा है कि आप उन्हें गले लगाना चाहेंगे, उनसे बात करना चाहेंगे। 

epaper