Thursday, January 27, 2022
हमें फॉलो करें :

मल्टीमीडिया

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ मनोरंजनसलमान खान के बंगले पर क्राइम ब्रांच का छापा, 29 साल बाद पकड़ा गया वॉन्टेड क्रिमिनल

सलमान खान के बंगले पर क्राइम ब्रांच का छापा, 29 साल बाद पकड़ा गया वॉन्टेड क्रिमिनल

लाइव हिन्दुस्तान टीम,नई दिल्लीRadha
Thu, 10 Oct 2019 07:50 PM
सलमान खान के बंगले पर क्राइम ब्रांच का छापा, 29 साल बाद पकड़ा गया वॉन्टेड क्रिमिनल

दबंग स्टार सलमान खान (Salman Khan) से जुड़ी एक हैरान कर देने वाली घटना सामने आ रही है । खबर है कि पुलिस की अपराध शाखा ने सलमान के गोराई स्थित बंगले पर छापेमारी कर उनके बंगले की देखभाल करने वाले 62 वर्षीय एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया गया है। इस शख्स को पुलिस पिछले 29 साल से उसकी तलाश करती रही है। खबरों के अनुसार, पकड़ा गया शख्स सलमान के बंगले की पिछले 20 साल से देखरेख कर रहा था, जिसका नाम मुंबई पुलिस की वॉटेड क्रिमिनल लिस्ट में है। 

बॉलीवुड मसाला: पढ़ें बॉलीवुड की 10 बड़ी खबरें और गॉसिप

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक पुलिस ने जिस शख्स को हिरासत में लिया है उसका नाम शक्ति सिद्धेश्वर राणा है। ये शख्स सलमान के बंगले पर 20 साल से चौकीदारी कर रहा था। इस शख्स पर जबरन चोरी और मारपीट के मामला दर्ज था। वह इस मामले में जमानत पर बाहर आने के बाद से फरार हो गया था। जिसके बाद अदालत ने उसके खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी किया था। बीती रात को 62 साल के इस शख्स के यहां कार्यरत होने की सूचना मुंबई पुलिस को अपने एक गुप्तचर से मिली। मुंबई पुलिस की क्राइम ब्रांच की यूनिट 4 ने मुखबिर से सूचना मिलने पर पूरी योजना बनाकर सलमान खान के घर पर धावा बोला।

रोचक: सामने आया बॉक्स ऑफिस पर कहर बरपा रही है ऋतिक-टाइगर की 'WAR' का सच, वजह जानकर नहीं होगा यकीन

वहीं वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक निनाद सावंत ने बताया कि राणा और कुछ अन्य लोग चोरी के मामले में कथित रूप में संलिप्त हैं और उन्हें 1990 में अपराध शाखा ने गिरफ्तार किया था। पुलिस अधिकारी ने बताया कि राणा को जमानत पर रिहा किया गया था और तब से वह फरार था। तब अदालत ने उसके खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी किया था। हाल ही में अपराध शाखा के अधिकारियों को सूचना मिली कि राणा पिछले 20 साल से गोराई बीच इलाके के एक मकान में रह रहा है। जांच में पता चला कि राणा सलमान खान के बंगले की देखभाल का काम कर रहा। इसके बाद उसे गिरफ्तार कर लिया गया। मामले की जांच जारी है। 

 

 

epaper

संबंधित खबरें