DA Image
6 जून, 2020|12:49|IST

अगली स्टोरी

सलमान खान के जीजा अतुल अग्निहोत्री ने आदिवासी परिवारों के लिए किया ये बड़ा काम

पूरा देश कोरोना वायरस की वजह से परेशान है। कोरोना के केस हर दिन बढ़ते जा रहे हैं। इस दौरान सरकार और बॉलीवुड सेलेब्स मदद के लिए आगे आए हैं। अब इस लिस्ट में सलमान खान के जीजा अतुल अग्निहोत्री भी शामिल हो गए हैं। अतुल ने 550 आदिवासी परिवारों और दैनिक मजदूरों की मदद की है।

सुनील ग्रोवर ने अतुल की फोटोज शेयर कर इसकी जानकारी दी है। सुनील ने इन फोटोज को शेयर करते हुए लिखा,  'मोर पावर टू यू अतुल सर। पता चला कि आप 500 आदिवासी परिवार और दिहाड़ी मजदूरों की मदद कर रहे हैं जिनकी लाइफ पर लॉकडाउन का असर पड़ रहा है। आप यह रोज कर रहे हैं और सुनिश्‍चित कर रहे हैं कि खाना उनके हाथों तक पहुंचे। आइए हम सब वह करें जो कर सकते हैं।'

इसके आगे सुनील ने कुछ इमोजी बनाए और लिखा कि गले नहीं लगना है और सोशल डिस्‍टेंसिंग को बरकरार रखना है।'

 

 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 

A post shared by Sunil Grover (@whosunilgrover) on

दिहाड़ी मजदूरों की मदद के लिए आगे आए शान, दान की इतनी रकम

सलमान खान ने 16 हजार मजदूरों के अकाउंट में जमा कराए इतने करोड़ रुपये...

सलमान ने कुछ दिनों पहले ये घोषणा की थी कि वह लॉकडाउन की वजह से बेरोजगार हो चुके इंडस्ट्री के दिहाड़ी मजदूरों की मदद करेंगे। अब मंगलवार को सलमान ने अपना ये वादा पूरा किया। उन्होंने 16 हजार मजदूरों के बैंक अकाउंट में कुल 4 करोड़ 80 लाख रुपये ट्रांसफर किए हैं।

इतना ही नहीं, सलमान ने अगले महीने मई में भी 19000 मजदूरों के अकाउंट में 5 करोड़ 70 लाख रुपये ट्रांसफर करने का वादा किया है। तो इस तरह से सलमान 2 महीने में मजदूरों की कुल 10 करोड़ 50 लाख रुपये तक की मदद करेंगे।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, सलमान खान फिल्म्स प्रोडक्शन ने फेडरेशन ऑफ वेस्टर्न इंडिया सिने एम्पलॉयीज के जनरल सेकेट्री अशोक दुबे से मजदूरों के अकाउंट नंबर मांगे थे। सोमवार 6 अप्रैल को सलमान को 19000 मजदूरों का बैंक डिटेल्स दिया गया।  इसके बाद सलमान की टीम ने तेजी से 7 अप्रैल की शाम तक 16000 मजदूरों के अकाउंट में प्रति मजदूर 3000 रुपये जमा कराए।


 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:salman khan brother in law atul agnihotri helping 550 tribal families who are badly effected due to lockdown