DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   मनोरंजन  ›  बेटियों को गोद लेने पर लोग कहते थे, कोई मुझसे शादी नहीं करेगा: रवीना टंडन

मनोरंजनबेटियों को गोद लेने पर लोग कहते थे, कोई मुझसे शादी नहीं करेगा: रवीना टंडन

हिन्दुस्तान ,नई दिल्लीPublished By: Surya Prakash
Mon, 04 Jan 2021 05:22 PM
बेटियों को गोद लेने पर लोग कहते थे, कोई मुझसे शादी नहीं करेगा: रवीना टंडन

एक्ट्रेस रवीना टंडन ने दो बेटियों को गोद लेने के फैसले को लेकर कहा है कि एक दौर में लोग उनसे कहा करते थे कि इसके चलते कोई उनसे शादी नहीं करेगा। वह कहती हैं कि मैं पूजा और छाया को गोद लेने के फैसले को अपनी जिंदगी के सबसे अच्छे निर्णयों में से एक मानती हूं। वह कहती हैं कि आज मेरी ये बेटियां मेरी सबसे अच्छी दोस्त हैं। रवीना टंडन ने पिंक विला से बातचीत करते हुए करहा, 'मैं 1995 में सिर्फ 21 साल की थी। उस दौर में जब मैंने दो लड़कियों को गोद लेने का फैसला लिया तो लोगों ने मुझे डराया भी लेकिन यह अनुभव काफी शानदार था।' उस वक्त रवीना टंडन का यह फैसला काफी सुर्खियों में रहा था और लोग रहते थे कि इससे रवीना टंडन का करियर बर्बाद भी हो सकता है।

रवीना की इन दोनों बेटियों की अब शादी हो गई और दोनों के बच्चे हैं। वह कहती हैं कि दोनों को गोद लेने का फैसला जिदंगी के सबसे अच्छे निर्णयों में से एक था। महज 21 साल की उम्र में बेटियों को गोद लेने के सवाल पर वह कहती हैं कि मुझे उस वक्त कुछ ऐसा महसूस हुआ कि 21 साल की उम्र होना मायने नहीं रखता था। मैं उनके साथ गुजारे हर पल को याद करती हूं। उन्हें पहली बार बाहों में भरने से लेकर शादी के मंडप तक के जाने का अनुभव बहुत अच्छा रहा है। रवीना टंडन ने कहा कि उस दौरान बेटियों को गोद लेने को लेकर लोग कहते थे कि इससे उनकी शादी की संभावनाओं पर असर पड़ेगा।

रवीना टंडन ने बताया, 'उस वक्त मुझसे लोग कहते थे कि इससे मेरी शादी की संभावनाओं पर असर होगा। कोई मुझसे शादी नहीं करना चाहेगा क्योंकि कोई भी इस तरह का बोझ नहीं लेना चाहेगा।' बता दें कि रवीना टंडन ने फिल्म डिस्ट्रिब्यूटर अनिल थडानी से शादी की है। इस शादी से भी उनके दो बच्चे हैं, बेटी राशा और बेटा रणबीरवर्धन। रवीना टंडन ने जिन बच्चियों को गोद लिया था, उनमें से एक छाया एयर होस्टेस हैं, जबकि पूजा इवेंट मैनेजर के तौर पर काम करती हैं। 

बता दें कि रवीना टंडन ने 2016 में छाया और पूजा को लेकर हिंदुस्तान टाइम्स से बातचीत में कहा था, 'मेरी बेटियां मेरी सबसे अच्छी दोस्त हैं। मुझे याद है कि जब मेरी शादी थी तो वे मेरे साथ काम में बैठकर गई थीं और फिर मुझे मंडप तक ले गई थीं। अब मुझे यह मौका मिला है कि मैं उन्हें साथ लेकर चलूं। यह एक स्पेशल फीलिंग है।'

संबंधित खबरें