फोटो गैलरी

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ मनोरंजनइस मुद्दे पर निक्की तंबोली के पक्ष में आईं रश्मि देसाई, ट्रोल्स को लगाई लताड़

इस मुद्दे पर निक्की तंबोली के पक्ष में आईं रश्मि देसाई, ट्रोल्स को लगाई लताड़

बिग बॉस (Bigg Boss) फेम निक्की तंबोली (Nikki Tamboli) के भाई का कुछ वक्त पहले निधन हो गया था, लेकिन अपने प्रोफेशनल कमिटमेंट्स के चलते निक्की ने उस दर्द को पीछे छोड़ते हुए आगे बढ़ने का फैसला किया।...

इस मुद्दे पर निक्की तंबोली के पक्ष में आईं रश्मि देसाई, ट्रोल्स को लगाई लताड़
Avinash Singhहिन्दुस्तान,मुंबईSun, 09 May 2021 08:52 PM
ऐप पर पढ़ें

बिग बॉस (Bigg Boss) फेम निक्की तंबोली (Nikki Tamboli) के भाई का कुछ वक्त पहले निधन हो गया था, लेकिन अपने प्रोफेशनल कमिटमेंट्स के चलते निक्की ने उस दर्द को पीछे छोड़ते हुए आगे बढ़ने का फैसला किया। हालांकि निक्की का ये फैसला कुछ सोशल मीडिया यूजर्स को पसंद नहीं आया और उन्होंने एक्ट्रेस को ट्रोल करने की कोशिश की, जिसका निक्की ने भी करारा जवाब दिया। वहीं निक्की तंबोली के पक्ष में रश्मि देसाई (Rashami Desai) भी आ गई हैं।

रश्मि ने लगाई ट्रोल्स को लताड़
रश्मि देसाई ने विरल भियानी के पोस्ट पर ट्रोल्स को लताड़ लगाई है। रश्मि ने विरल के पोस्ट पर कमेंट करते हुए लिखा, 'ये उसके भाई का सपना था कि वो खतरों के खिलाड़ी 11 जीते, लेकिन ये बात हर कोई नहीं सिर्फ निक्की के करीबी जानते हैं। लोगों को निक्की को सपोर्ट करना चाहिए लेकिन वो ज्ञान दे रहे हैं.... सच्चाई तो ये है कि अगर मौका मिले तो वो अपने पड़ोसियों की भी मदद नहीं करेंगे और मदद की तो बात पूछो ही मत।' याद दिला दें कि निक्की के भाई जतिन तंबोली का कोविड के चलते निधन हो गया था, और निक्की खतरों के खिलाड़ी 11 पहले ही साइन कर चुकी थीं।

निक्की को आ रहे थे हेट मैसेज
बता दें कि भाई के निधन के कुछ वक्त बाद ही निक्की तंबोली खतरों के खिलाड़ी के लिए केपटाउन रवाना हो गई थीं, ऐसे में उनको कई हेट मैसेज आ रहे थे। जिसके बाद निक्की ने ट्रोल्स को लताड़ लगाई। निक्की ने अपनी इंस्टा स्टोरी में लिखा था, 'कुछ बेवकूफ लोग मुझे मैसेज कर रहे हैं और मेरी तस्वीरों पर कमेंट कर रहे हैं कि कुछ ही दिन पहले मेरे भाई की मौत हुई है, क्या मुझे शर्म नहीं आती मैं वहां जाकर एन्जॉय कर रही हूं।' 

मेरी खुद की भी जिंदगी है
निक्की ने अपने पोस्ट में आगे लिखा था, 'बेवकूफों मैं तुम्हें बता दूं कि मेरी खुद की भी जिंदगी है, मुझे भी खुश रहने का अधिकार है, अपने लिए नहीं तो अपने भाई के लिए. क्योंकि उसे अच्छा लगता था जब मैं खुश रहती थी। ये लोग जिनके पास कोई काम नहीं है सिवाए कॉमेंट करने और निगेटिविटी फैलाने के, मैं इनसे अपील करती हूं कि जाइए और जाकर अपने सपनों को अचीव कीजिए. ये आपको, आपके माता-पिता और आपके परिवार को खुशी देगा।'

epaper