DA Image
6 जुलाई, 2020|9:44|IST

अगली स्टोरी

गर्भवती हथिनी को फटाखों से भरा अनानास खिलाने वालों पर नाराज हुए रणदीप हुड्डा

केरल में एक हथिनी के साथ हैवानियत की एक अजीबो गरीब घटना सामने आई जब कुछ लोगों ने उसे पटाखों से भरा अनानास खिला दिया. पटाखे उसके मुंह में फट गए और गर्भवती मादा हाथी की मौत हो गई। गर्भवती हथिनी की मौत पर आम लोगों से बॉलीवुड सितारे भी काफी आहत हुए हैं। इस मामले पर अनुष्का शर्मा ने अपना गुस्सा निकालते हुए सरकार से सख्त कानून बनाने की मांग की अब वहीं एक्टर अनानास खिलाने वालों के खिलाफ रणदीप हुड्डा ने केरल सरकार से की सख्त कार्यवाही की मांग की है। 

रणदीप हुड्डा ने केरल के सीएम पिनाराई विजयन और प्रकाश जावड़ेकर को भी टैग करते हुए और हथिनी फोटो शेयर करते हुए लिखा कि एक प्रेगेंट और फ्रेंडली हथिनी को कुछ लोगों ने जानकर फटाखों से भरा अनानस खिलाया जो एक अमानवीय हरकत है। ये पूरी तरह से अस्वीकार्य है। अपराधियों के खिलाफ सख्त कार्यवाही की जानी चाहिए। जिसके बाद किया। 

Gulabo Sitabo Song Madari Ka Bandar: पुश्तैनी घर बचाने के लिए परेशान दिखे अमिताभ बच्चन

यह मामला उस वक्त सामने आया, जब उत्तरी केरल के मलप्पुरम में एक फॉरेस्ट अफसर ने इस घटना को अपने फेसबुक पेज पर शेयर किया। फॉरेस्ट अफसर के शेयर करते ही ये पास्ट वायरल हो गई और इसे करीब 1200 लोगों ने शेयर किया। देखते ही देखते लोगो मादा हाथी के पास खाने का सामान फेंकने लगे ताकि इस तकलीफ में उसे खुछ आराम मिल सके। 

खुद की तुलना भगवान होता देख सोनू सूद ने लोगों से की ये अपील

रेस्क्यू टीम में शामिल मोहन कृष्णन ने फेसबुक पर लिखा, मादा हाथी खाने की तलाश में जंगल से पास के गांव में पहुंच गई थी। यहां वह इधर उधर घूम रही थी। इसके बाद उसे कुछ लोगों ने पटाखे भरे अनानास खिला दिये। मोहन कृष्णन आगे लिखा, पटाखे इतने असरदार थे, कि उसका मुंह और जीभ बुरी तरह से जख्मी हो गए। वह खाने की तलाश में पूरे गांव में भटकती रही। दर्द के चलते वह कुछ खा भी नहीं सकी। मादा हाथी ने घायल होने के बावजूद किसी को नुकसान नहीं पहुंचाया, किसी पर हमला भी नहीं किया। वह बहुत सीधी और शांत थी। कृष्णन ने आगे लिखा, मादा हाथी खाने की खोज में वेल्लियार नदी तक पहुंच गई क्योंकि उसके पेट में बच्चा था। वो पानी में खड़ी हो गई। पानी में मुंह डालने से उसे थोड़ा आराम भी मिला। 

अमिताभ-जया के बीच भी आ उतार-चढ़ाव लेकिन कभी नहीं छोड़ा एक दूजे का साथ

जब हाथी की दयनीय स्थिति फॉरेस्ट अफसरों को पता चली, तो वे दो कुमकी हाथियों को घायल हाथी को वलियार नदी से बाहर निकालने के लिए ले आए.बड़ी मुश्किल के बाद पानी से बाहर निकाला गया, लेकिन उसकी मौत हो गई। 

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:randeep hooda reacted on embarrassing handiwork in kerala pregnant elephant painful death due to a pineapple filled with crackers feed