फोटो गैलरी

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ मनोरंजनRRR में जूनियर एनटीआर से ज्यादा दिखे राम चरण, निर्देशक एसएस राजामौली ने बताई वजह

RRR में जूनियर एनटीआर से ज्यादा दिखे राम चरण, निर्देशक एसएस राजामौली ने बताई वजह

RRR में राम चरण के साथ जूनियर एनटीआर मुख्य भूमिका में हैं। फिल्म देखने के बाद कहा जा रहा है कि जूनियर एनटीआर की अपेक्षा राम चरण को ज्यादा स्क्रीन टाइम मिला है। अब राजामौली ने इसकी वजह बताई है।

RRR में जूनियर एनटीआर से ज्यादा दिखे राम चरण, निर्देशक एसएस राजामौली ने बताई वजह
Shrilataलाइव हिन्दुस्तान,मुंबईTue, 12 Apr 2022 09:11 PM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

एसएस राजामौली की फिल्म ‘आरआआर’ ने बॉक्स ऑफिस पर सफलता के झंडे गाड़ दिए। फिल्म 1000 करोड़ का कलेक्शन कर चुकी है। ‘आरआआर’ की रिलीज से पहले जिस तरह का क्रेज देखा जा रहा था उसके बाद से ही ऐसी चर्चा थी कि यह नए रिकॉर्ड बनाने में कामयाब रहेगी। फिल्म दो स्वतंत्रता सेनानियों की कहानी है। इसमें राम चरण के साथ जूनियर एनटीआर मुख्य भूमिका में हैं। ऐसा दावा किया जा रहा है कि जूनियर एनटीआर की अपेक्षा राम चरण को ज्यादा स्क्रीन टाइम मिला है। अब राजामौली ने इसकी वजह बताई है।

निर्देशक के रूप में क्यों लिया फैसला

 

निर्देशक ने कहा कि वह इस धारणा को समझ सकते हैं। ‘आरआरआर’ को इतनी सफलता कभी नहीं मिलती अगर दोनों अभिनेताओं को बराबर नहीं रखा जाता। आगे उन्होंने बताया कि आखिर ऐसा क्यों लग रहा है कि राम चरण की भूमिका बड़ी है। बॉलीवुड हंगामा से बात करते हुए एसएस राजामौली ने कहा, ‘उन्होंने जिस तरह का आउटपुट दिया है एक निर्देशक के रूप में मैं इससे ज्यादा खुश नहीं हो सकता। लेकिन यह कहना कि एक अभिनेता दूसरे से बेहतर है तो यह ऐसा है कि आप उसे कैसे देखते हैं।‘ 

पढ़ें: KGF Star Yash Apology: इवेंट में सबके सामने यश ने मांगी माफी, जानिए आखिर क्यों किया एक्टर ने ऐसा

क्लाइमेक्स में क्यों मिली ज्यादा जगह


‘उदाहरण के तौर पर, मैं यह कह सकता हूं कि चरण को क्लाइमेक्स में ज्यादा स्पेस मिला क्योंकि यह आखिरी चीज है जिससे आप साथ जुड़ते चले जाते हैं। ऐसा लगता है कि चरण को तारक (जूनियर एनटीआर) से ज्यादा अटेंशन मिला है। लेकिन अगर मैं फिल्म को कोमूराम भीमूडो के बाद रोक देता तो ऐसा लगता कि चरण एक दर्शक की तरह है और तारक पूरा स्पेस ले रहा है।‘

‘दर्शकों के नजरिए से फिल्म देखें’

 

राजामौली ने कहा, ‘एक कहानीकार के रूप में आपको इस तरह का जजमेंट नहीं करना चाहिए। हमेशा देखें कि एक दर्शक के तौर पर आप किरदारों के लिए कितनी सहानुभूति महसूस कर रहे हैं।‘ वह कहते हैं, ‘अगर दोनों कलाकारों बीच बैलेंस नहीं होता तो फिल्म 1000 करोड़ नहीं कमा पाती।‘ बता दें कि ‘दंगल’ और ‘बाहुबली 2’ के बाद ‘आरआरआर’ तीसरी फिल्म है जिसने वर्ल्डवाइड 1000 करोड़ का बिजनेस किया है।
 

epaper